अमेठी में एक समय भाजपा का कार्यकर्ता बनना, आफत मोल लेना और घातक था : स्मृति ईरानी

0
52

अमेठी। केंद्रीय महिला, बाल विकास एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को कहा कि हमारे तमाम कार्यकर्ताओं ने अमेठी में उस समय गांधी खानदान के खिलाफ लड़ाई लड़ी, जब यहां पर भाजपा और संघ का कार्यकर्ता बनना आफत मोल लेना, पीड़ा दायक और घातक था। ईरानी ने कहा, लेकिन हमारे कार्यकर्ताओं ने उनसे भय नहीं किया और लड़ाई लड़ते रहे। उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकर्ताओं ने गांधी खानदान के खिलाफ संघर्ष किया और आज उस संघर्ष का परिणाम आप सबके सामने है। केंद्रीय मंत्री अमेठी रामलीला मैदान में राघवराम सेवा संस्थान की ओर से आयोजित कंबल वितरण कार्यक्रम को संबोधित कर रही थी।

ईरानी ने उप्र के उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक व भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी के साथ पांच लाभार्थियों को कंबल वितरण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। केंद्रीय मंत्री ने कहा, हमारे तमाम कार्यकर्ताओं ने अमेठी में उस समय गांधी खानदान के खिलाफ लड़ाई लड़ी, जब यहां पर भाजपा और संघ का कार्यकर्ता बनना आफत मोल लेना, पीड़ा दायक और घातक था। उन्होंने कहा, लेकिन हमारे कार्यकर्ताओं ने उनसे भय नहीं किया और लड़ाई लड़ते रहे। हमारे कार्यकर्ताओं ने गांधी खानदान के खिलाफ संर्घष किया आज उस संघर्ष का परिणाम है, जो आप सबके सामने हैं। उन्होंने कहा कि अमेठी में 900 करोड़ की लागत से स्थापित बॉटलिंग प्लांट का गत दिनों मुख्यमंत्री ने उद्घाटन किया था और मुख्यमंत्रीजी ने कहा है अमेठी में 2000 करोड़ रुपए का और निवेश किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद अमेठी में राइफल बनाने का कारखाना स्थापित हुआ, मेडिकल कॉलेज स्थापित हुआ और तमाम उद्योग स्थापित किए गए जिसमें भारी मात्रा में लोगों को रोजगार मिल रहा है। उन्होंने कहा कि अमेठी जिले की 11 बैंकों के जरिए 22000 करोड़ रुपए का लोगों को विभिन्न उद्योगों की स्थापना के लिए लोन उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने कहा कि तिलोई के लोगों को एक बस अड्डे के लिए 30 साल तक इंतजार करना पड़ा। कार्यक्रम को पाठक और चौधरी ने भी संबोधित किया। अमेठी के इस कार्यक्रम से पहले केंद्रीय मंत्री ईरानी रायबरेली में एक कार्यक्रम में शामिल हुई।

Previous articleज्ञानवापी सर्वेक्षण : एएसआई ने रिपोर्ट सौंपने के लिए और 15 दिन का समय मांगा, 18 को होगी सुनवाई
Next articleयूपी पुलिस की कार्रवाई, युवती पर तेजाब हमले के दो आरोपी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here