देश की राजनीति में एक उभरता हुआ चेहरा थे माधवराव सिंधिया: योगी आदित्यनाथ

0
111
yogi news
yogi news

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत माधवराव सिंधिया की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद कहा कि वह देश की राजनीति में एक उभरता हुआ चेहरा थे। शुक्रवार को मैनपुरी में सिंधिया तिराहे पर पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत माधवराव सिंधिया की प्रतिमा अनावरण समारोह को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि माधवराव सिंधिया देश की राजनीति में एक उभरता हुआ चेहरा थे। उल्लेखनीय है कि मैनपुरी जिले के थाना बेवर के ग्राम भैसरोली के समीप 30 सितंबर 2001 की रात एक विमान हादसे में माधवराव सिंधिया समेत आठ लोगों की मृत्यु हो गयी थी। योगी ने माधवराव सिंधिया को याद करते हुए कहा कि वर्ष 2001 की त्रासदी के दौरान हर व्यक्ति इस दुखद समाचार से आहत हुआ था। उन्होंने कहा कि इस दुखद समाचार को सुनते ही राजनीति की दीवारों को तोड़कर हर जाति, मत, मजहब, संप्रदाय तथा राजनीतिक दलों के लोग उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि देने के लिए उमड़ पड़े थे।

मुख्यमंत्री एवं गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की मौजूदगी में ग्वालियर राजघराने और गोरखनाथ पीठ के रिश्‍तों की चर्चा करते हुए कहा कि ग्वालियर घराने और गोरखपुर का नाता सदियों पुराना है। उन्होंने कहा कि जब प्रदेश विदेशी आक्रांताओं से भयभीत था तो उस समय जिन महापुरुषों ने उस आतंक को समाप्त करने में अपना योगदान दिया था, उनको सम्मान देना संतों की परंपरा रही है। उन्होंने कहा कि गोरक्षपीठ ने संतों की परंपरा को सदैव महत्व दिया है और उस समय गोरक्षपीठ के पीठाधीश्वर ने उस परंपरा का निर्वहन करते हुए माधवराव सिंधिया के पूर्वजों को गोरक्षपीठ की परंपरा से नवाजने का काम किया था, वे उसके हकदार भी थे क्योंकि उन्होंने विदेशी आक्रांताओं को देश की सीमाओं के बाहर फेंकने का काम किया था। उन्होंने कहा कि उनका योगदान आज भी हमारे लिए स्मरणीय है।

योगी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की सराहना करते हुए प्रदेश सरकार की उपलब्धियां गिनाई। मैनपुरी की जनता को आश्वस्त करते हुए उन्‍होंने कहा कि सरकार लगातार अपराध और अपराधियों के साथ भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचारियों के प्रति बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करने की नीति के तहत कार्य करती रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के संकल्पों के साथ जुड़ कर भारत को दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित करना है, यही उनका लक्ष्य है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में उत्तर प्रदेश आगे बढ़ रहा है और देश को दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने में उत्तर प्रदेश अहम भूमिका निभाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में पिछले छह वर्षों में हवाई सेवा जिस तेजी से आगे बढ़ी है, उसी तेजी से प्रदेश में राजमार्ग, एक्सप्रेस-वे और सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि हर गरीब को बिना भेदभाव के शासन की योजनाओं का लाभ दिया जा रहा जबकि पहले चेहरा देखकर योजनाओं का लाभ दिया जाता था।

लखनऊ में जारी एक बयान के अनुसार केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि सिंधिया परिवार का संबंध मैनपुरी से दस-बीस साल पुराना नहीं है बल्कि 250 वर्ष पुराना है। उन्‍होंने कहा, ‘इतिहास के कालखंड में जब भारत माता की धरती पर विदेशी ताकतें अपना पैर पसार रही थीं और रोहिल्ला अफगान इस क्षेत्र पर अत्याचार करने की मुहिम से निकले थे तो मेरे पूर्वज दत्ता जी महाराज सिंधिया और उनके बाद महर्षि महाराज ने इस पूरे क्षेत्र में भारत माता की एकता अखंडता बनाए रखने के लिए रोहिल्ला अफगानों को उखाड़ फेंकने का काम किया। सिंधिया ने कहा कि ये वर्ष 1770 की बात है जब केवल मैनपुरी ही नहीं इटावा, मेरठ, बदायूं नजीराबाद तक रोहिल्ला अफगानों का आतंक था। उन्‍होंने कहा कि सिंधिया परिवार के पूर्वजों ने उन्हें उखाड़ कर फेंकने का काम किया। उन्‍होंने कहा, ”इस माटी से सिंधिया परिवार का गहरा नाता रहा है, सिंधिया परिवार ने जहां इस क्षेत्र को स्वतंत्र कराया, वहीं मेरे पिता ने इस माटी पर आखिरी सांस ली थी।” केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश विकास और प्रगति के रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ रहा है। अतिथियों का स्वागत प्रदेश सरकार के पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह ने किया।

Previous articleआजम खान के बाद क्या आकाश सक्सेना की भी जाएगी सदस्यता? हाईकोर्ट ने भाजपा विधायक को जारी किया नोटिस
Next articleशपथ ग्रहण समारोह में वंदे मातरम को लेकर विवाद, भाजपा और एआईएमआईएम पार्षद आपस में भिड़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here