यूपी में वोटिंग जारी: पहले दो घंटे में 11.67 फीसदी मतदान

0
8

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में सोमवार को उत्तर प्रदेश में 13 जिलों के 13 निर्वाचन क्षेत्रों में सुबह नौ बजे तक औसतन 11.67 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया था। निर्वाचन आयोग से प्राप्त जानकारी के अनुसार पहले दो घंटों में सीतापुर में सबसे ज्यादा 14.28 प्रतिशत लोगों ने वोट डाले जबकि सबसे कम मतदान 5.94 प्रतिशत शाहजहांपुर (सु) में हुआ। इस अवधि में खीरी में 12.21 प्रतिशत, धौरहरा में 13.96 प्रतिशत, हरदोई में 13.17 प्रतिशत, मिश्रिख (सु) में 12.92 प्रतिशत, उन्नाव में 11.85 प्रतिशत, फर्रुखाबाद में 13.15 प्रतिशत, इटावा (सु) में 7.06 प्रतिशत, कन्नौज में 14.23 प्रतिशत, कानपुर में 7.84 प्रतिशत, अकबरपुर में 12.16 प्रतिशत और बहराइच में 14.04 प्रतिशत मतदान हुआ। इसके साथ ही ददरौल विधानसभा के उपचुनाव में 12.70 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मतदान सुबह सात बजे शुरु होकर शाम छह बजे तक चलेगा।

समयावधि समाप्त होने पर भी कतार में लगे लोगों को वोट डालने का अधिकार मिलेगा। मतदान केंद्रो पर बुजुर्ग, विकलांग और महिला मतदाताओं की सुविधा के व्यापक प्रबंध किये गये हैं। मतदान शांतिपूर्ण तरीके से जारी है और इस दौरान कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। कुछ मतदान केंद्रों पर ईवीएम की खराबी की सूचना मिली जिन्हें तत्काल बदल दिया गया। चुनाव के इस चरण में 130 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा जिसमें कन्नौज सीट पर समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सुब्रत पाठक और खीरी सीट पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी की प्रतिष्ठा दांव पर है। चौथे चरण में सबसे अधिक मतदाता उन्नाव लोकसभा से तथा सबसे कम मतदाता कानपुर लोकसभा नर्विाचन क्षेत्र में हैं। कुल 130 प्रत्याशियों में 16 महिला प्रत्याशी भी शामिल है। इस चरण में कन्नौज में सबसे अधिक 15 प्रत्याशी किस्मत आजमा रहे हैं जबकि सबसे कम सात प्रत्याशी इटावा जिले में है।

चौथे चरण में 26 हजार 588 मतदेय स्थल (पोलिंग बूथ) बनाये गये हैं जिनमें चार हजार 715 संवेदनशील हैं। 16 हजार 334 मतदान केन्द्र हैं। मतदान पर सतर्क दृष्टि रखने के लिए तीन विशेष प्रेक्षक, 13 सामान्य प्रेक्षक, नौ पुलिस प्रेक्षक तथा 17 व्यय प्रेक्षक भी तैनात किये गये हैं। इनके अलावा दो हजार 250 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 287 जोनल मज्ट्रिरेट, 111 स्ट्रैटिक मजिस्ट्रेट तथा 2,920 माइक्रो ऑब्जर्वर भी तैनात किये गये हैं। मतदान के लिए 33 हजार149 ईवीएम की कन्ट्रोल यूनिट, 33 हजार 149 बैलट यूनिट तथा 35 हजार 644 वीवीपैट तैयार किये गये हैं।

Previous articleरायबरेली में राहुल गांधी से गृहमंत्री शाह ने पूछे पांच सवाल, जानें क्या कहा
Next articleयूपी में हादसा: संभल में ट्रक ने ट्रैक्टर-ट्रॉली को टक्कर मारी, तीन की मौत, 17 घायल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here