यूपी सरकार का एक महीना पूरा: प्रदेश में क्या-क्या होंगे विकास कार्य? योगी सरकार ने बनाया पांच साल का रोडमैप

0
197

यूपी में एक ही पार्टी और एक ही मुख्यमंत्री की लगातार दूसरी बार सत्ता में वापसी करने का इतिहास रचने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने दूसरे कार्यकाल का सोमवार को पहला महीना पूरा कर लिया। पिछले चार सप्ताह में सरकार के 40 अहम फैसले अगले पांच साल के कामकाज का रोडमैप तय कर देते हैं। गौरतलब है कि योगी मंत्रिमंडल ने गत 25 मार्च को शपथ ग्रहण कर अपने दूसरे कार्यकाल का धमाकेदार आगाज किया था। इस क्रम में योगी सरकार ने शपथ ग्रहण के अगले ही दिन पहली कैबिनेट बैठक में पहला बड़ा फैसला करते हुए, मुफ्त राशन योजना को तीन महीने के लिए बढ़ा कर 15 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन वितरण की सुविधा को बहाल रखा था। ज्ञात हो कि सरकार फ्री राशन योजना के तहत प्रत्येक परिवार को 35 किलो राशन और इसके साथ दाल, चीनी, खाद्य तेल, नमक जैसी खाद्य वस्तुओं को लाभार्थी परिवारों को दे रही है। इस बीच मुख्यमंत्री योगी ने सभी मंत्रियों को अगले सौ दिन और फिर छमाही एवं वार्षिक आधार पर उनके मंत्रालयों की भावी कार्ययोजना की रूपरेखा तलब कर अपनी सरकार का अगले पांच साल के कामकाज का रोडमैप तैयार किया।

बुंदेलखंड समेत यूपी के सात जिलों को लेकर योगी सरकार का नया प्लान, हर मंडल में टेस्टिंग लैब बनाने पर भी विचार

योगी सरकार ने सभी तहसीलों में दमकल सेवा को सुनिश्चित करने की बड़ी घोषणा कर अग्निकांड होने पर ग्रामीण क्षेत्र में अधिकतम 15 मिनट और शहरी क्षेत्र में अधिकतम 7 मिनट में घटनास्थल पर दमकल वाहन के पहुंचना सुनिश्चित किया। प्रदेश की अर्थव्यवस्था को देश में अव्वल बनाने के लिए आगामी दो वर्ष में 10 लाख करोड़ रुपये के निवेश लक्ष्य तयस करने के साथ उप्र में एक बार फिर ग्लोबल इन्वेस्टर समिट करने की घोषण की। इसके समानांतर योगी सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस का संदेश देते हुए आरोपित अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई शुरु कर की। इस कड़ी में पहली गाज सोनभद्र के जिलाधिकारी और गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पर निलंबन के रूप में की।
इस बीच रोजगार सृजन की दिशा में योगी सरकार ने रिक्त पड़े पदों पर भर्ती की शुरुआत पुलिस बल के लिए 86 राजपत्रित और 5295 अराजपत्रित नए पदों पर भर्ती शुरू करने के लिए शासन की मंजूरी मिली।

गाजियाबाद स्कूल छात्र की मौत मामले में सीएम योगी का एक्शन, परिवहन विभाग के तीन अधिकारी सस्पेंड, 51 पर मामला दर्ज

अपराधियों, खासकर भूमाफियाओं के खिलाफ योगी के बुलडोजर ने भी पिछले एक महीने में अपनी धमक जमकर कायम की। मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पिछले 20 दिनों में 100 से ज्यादा अपराधियों और माफियाओं पर गरजे बुलडोजर ने 200 करोड़ रुपये से ज्यादा कीमत की अवैध संपत्ति ध्वस्त या जब्त की है। इनमें से 25 माफिया डीजीपी ऑफिस और 8 शासन की तरफ से चिह्नित किए गए थे। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने मुख्यमंत्री आवास पर जनता दर्शन की वापस शुरुआत की। हर दिन सरकार के एक मंत्री की मौजूदगी में जन समस्याओं के निस्तारण के निर्देश दिए। साथ ही मंडल वार मुख्यमंत्री ने विकासकार्यों की समीक्षा बैठके भी प्रारंभ कर दी हैं। इस बीच महिला सशक्तिकरण का संदेश देते हुए योगी सरकार ने अब उप्र में होमगार्ड के 20 प्रतिशत पदों पर महिलाओं की भर्ती करने का फैसला किया। इस फैसले को अगले 100 दिनों में लागू कर दिया जाएगा। धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करने के बारे में प्रदूषण मानकों का पालन सुनिश्चित करने को भी कहा है।

Previous articleबुंदेलखंड समेत यूपी के सात जिलों को लेकर योगी सरकार का नया प्लान, हर मंडल में टेस्टिंग लैब बनाने पर भी विचार
Next articleUP Latest News: नोएडा रेस्त्रां हत्याकांड: होटल का बिल न देने पर हुआ था विवाद, सिर में चोट लगने से हुई थी मौत, सात लोग गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here