Union Budget 2022-23 Updates: मोदी सरकार की सौगात, रेलवे का होगा विकास, मेक इन इंडिया के तहत 60 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

0
183

Union Budget Updates: नई दिल्ली। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण वित्त वर्ष 2022-23 का बजट पेश करने के लिए मंगलवार को लाल कपड़े में लिपटा टैबलेट लेकर संसद भवन पहुंचीं। संसद में जैसे ही वित्तमंत्री ने बजट पढ़ना शुरू किया तो भाजपा सरकार के मंत्री और सांसदों ने टेबल बजाकर बजट का स्वागत किया। वित्तमंत्री सीतारमण ने कहा कि सरकारी निवेश और पूंजीगत व्यय से अर्थव्यवस्था में सुधार को बल मिलेगा। बजट में जो उपाय किये गये हैं उससे अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी। उन्होंने कहा कि 14 क्षेत्रों में उत्पादकता लक्डिं प्रोत्साहन दिया गया है जिसका उद्योगों से जबरदस्त समर्थन मिला है। इससे 30 लाख करोड़ रुपये के निवेश के प्रस्ताव मिले हैं।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 से ही सरकार का ध्यान गरीब और उपेक्षित वर्ग पर है। सरकार ने मध्य वर्ग को भी आवश्यक सुविधायें देने पर जोर दिया है। केन्द्र और राज्य सरकारों का ध्यान रोजगार सृजन, उद्यमशीलता के अवसरों पर है। उन्होंने कहा कि सरकारी निजी भागीदारी पर रेलवे का विकास किया जायेगा तथा एक स्टेशन एक उत्पाद योजना के तहत 400 स्टेशनों को सशक्त बनाया जायेगा।

उन्होंने कहा कि अगले वत्ति वर्ष में चार स्थानों पर मल्टी मॉडल पार्क के ठेके दिये जायेंगे। रेलवे छोटे किसानों और एमएसएमई के लिए नये उत्पाद विकसित करेगी। डिजिटल इंफ्रा के विकास को प्रोत्साहित करने के लिए देश स्टॉक ई पोर्टल की शुरूआत की जाएगी। उन्होंने देश में पांच नदियों को जोड़ने के प्रस्ताव का उल्लेख करते हुये कहा कि मध्य प्रदेश में केन बेतवा नदी को 44605 करेाड़ रुपये की लागत से जोड़ने की योजना शुरू की गयी है। उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया के तहत 60 लाख अतिरक्ति रोजगार मिलेंगे। एमएसएमई के लिए दो लाख करोड़ की अतिरक्ति मदद दी जायेगी। एमएसएमई के मानक को तय करने के लिए पांच वर्षों में छह हजार करोड़ रुपये का एक कार्यक्रम शुरू किया जायेगा। एमएसएमई क्षेत्र की आतथ्यि सेवाओं में अभी तेजी आने की संभावना है।

कौशल विकास के लिए ई पोर्टल शुरू करने का ऐलान करते हुए उन्होंने कहा कि छात्रों के लिए एक डिजिटल यूनिवर्सिटी बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि एक कक्षा एक टेलीविजन चैनल को लागू किया जायेगा जिससे बच्चों की पढ़ाई को कोरोना के कारण हुये नुकसान की भरपाई के लिए अतिरक्ति शिक्षा उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी। वित्तमंत्री ने कहा कि दो लाख आंगनवाड़ियों को बाल स्वास्थ्य के सुधार के लिए प्रशक्षिति किया जायेगा। नारी शक्ति के महत्व को रेखांकित करने के लिए महिलाओं और बाल विकास के एकीकरण के लिए तीन कार्यक्रम शुरू किये जायेंगे। देश के 112 आकांक्षी जिलों में से 95 प्रतिशत ने स्वास्थ्य इंफ्रा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण प्रगति की है।

Previous articleUnion Budget 2022 Updates: लाल कपड़े में लिपट टैबलेट लेकर बजट पेश करने पहुंची थीं वित्त निर्मला सीतारमण
Next articleUnion Budget 2022 Updates: रेलवे और किसानों के लिए क्या रहा इस बजट में, जानें आम बजट की खास बातें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here