शिवपाल की विधानसभा में पड़ा छापा, बड़े पैमान पर पकड़ी गई बिजली चोरी

0
422

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के निर्वाचन क्षेत्र जसंवतनगर के मदनपुर गांव मे रविवार को पावर कारपोरेशन विभाग की विजीलेंस टीम ने छापेमारी करके बडी तादात मे बिजली उपकरणो को बरामद करने का दावा किया है। बिजली चोरी की इस कार्यवाही को प्रदेश के सबसे बडी कार्यवाही बताया जा रहा है। दक्षिणांचल पावर कारपारेशन के अधीक्षण अभियंता संदीप अग्रवाल ने बताया कि पावर कारपोरेशन की टीम की छापेमारी मे बरामद हुए उपकरणो समेत सभी आरोपियो के खिलाफ मामला दर्ज कराने की प्रकिया अपनाई जा रही है। पूरी रिपोर्ट शासन को भेजी जा रही है। बिजली चोरी मे हुए बरामद उपकरण को देख कर इस बात से इंकार नही किया जा सकता है कि बिजली विभाग के अधिकारियों और कर्मियों की मिली भगत ना हो इस बात की विभागीय पडताल के बाद कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

बताया गया है कि यह सभी करीब 11 साल से बिजली विभाग के अधिकारियों के मिली भगत से बिजली चोरी करने मे जुटे हुए थे। पावर कारपोरेशन के अधिकारियों ने पोल की विद्युत लाइनों व करीब 10 ट्रांसफार्मर को उतरवा कर जब्त किए हैं। विद्युत अधीक्षण संदीप अग्रवाल के नेतृत्व में व विभागीय अधिकारियों सहित विजिलेंस टीम की छापेमारी के दौरान मदनपुर गांव में जांच कर करीब 10 किसानों के निजी नलकूपों पर डबल पोल लगाकर रखा गया 25 केवीए का ट्रांसफार्मर बरामद किया गया है। बरामद बिजली उपकरणो के बारे मे कहा जा रहा है कि करीब पंद्रह लाख रुपये के बिजली उपकरण अनुमानित है। पावर कारपोरेशन टीम की छापेमारी में नलकूप स्वामी नहीं मिले कुछ मिले भी तो कनेक्शन संबंधी अभिलेख नहीं दिखा पाए। वे सभी विद्युत लाइन खींच कर 11 केवी की लाइन से जोड़कर खेतों की सिंचाई बाकायदा करते थे। पता चला है कि इन लोगों ने भी निजी नलकूप कनेक्शन के लिए न तो एस्टीमेट बनवाया और न रुपये जमा किए थे। अवैध तरह से वद्यिुत लाइन बनवा कर नलकूप चला रहे थे। विद्युत लाइन व ट्रांसफार्मर जब्त कर उपकेंद्र पर रखवा दिए गए।

Previous articleज्ञानवापी मस्जिद सर्वे: 65 फीसदी के बाद तीसरे दिन फिर शुरू हुई वीडियोग्राफी
Next articleकुशीनगर से लखनऊ पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, कुछ देर बाद में योगी सरकार के मंत्रियों से करेंगे मुलाकात

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here