चुनाव के बाद पहली बार गोरखपुर में सीएम योगी ने लगाया जनता दरबार, 95 लोगों की सुनीं समस्याएं

0
235

गोरखपुर। यूपी में लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को चुनाव के बाद पहली बार गोरखपुर में जनता दरबार लगाकर लोगों की समस्यायें सुनीं। इस दौरान योगी ने गोरखधाम मंदिर में स्थित हिंदु सेवाश्रम में ‘जनता दर्शन’ के दौरान 95 लोगों की समस्याएं सुनकर उनके तत्काल समाधान के लिए संबद्ध अधिकारियों को निर्देश दिए। इस दौरान स्थानीय निवासी अनूप गुप्ता ने मुख्यमंत्री को अपने तीन साल के बेटे श्रेयांश गुप्ता की किडनी की समस्या के बारे में बताया। योगी ने जिलाधिकारी को बच्चे के तत्काल समुचित इलाज की व्यवस्था कराने का निर्देश दिया है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी ने गोरखपुर में इससे पहले दिसंबर 2021 में जनता दरबार लगाया था। योगी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जनता की समस्याओं को गंभीरतापूर्वक अपने कार्यालयों में सुनें। उनका निस्तारण गुणवत्तापूर्ण एवं निर्धारित अवधि में कराएं। उन्होंने किसी भी स्तर पर लापरवाही को बर्दाश्त नहीं करने की ताकीद करते हुए जमीन संबंधी मामलों के निस्तारण में पुलिस का भी सहयोग लेने का निर्देश दिया। योगी ने कहा कि जिन मामलों का निस्तारण शासन स्तर पर ही किया जा सकता है, उन्हें निस्तारण के लिये लखनऊ भेजें। इसके साथ ही हर शिकायत को पोर्टल पर दर्ज कर अधिकतम एक माह में निस्तारण की व्यवस्था तय कर दी गई है।

गौरतलब है कि योगी पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि जिन जिलों और विभागों से ज्यादा शिकायतें आएंगी, वहां के अधिकारियों की जिम्मेदारी तय होगी। नौकरशाही पर नकेल कसने के लिए कार्रवाई तेज करते हुए मुख्यमंत्री योगी अपने दूसरे कार्यकाल में जन शिकायतों एवं भ्रष्टाचार के मामले में अब तक दो जिलाधिकारियों और एक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निलंबित कर चुके हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को जनता दर्शन में पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि थाने में आने वाली शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण समाधान सुनिश्चित कराएं। खास तौर पर जमीन एवं राजस्व संबंधी मामलों के निस्तारण में विशेष ध्यान दिया जाए। जहां पुलिस बल की आवश्यकता हो, वहां तुरंत पुलिस उपलब्ध कराई जाए। उल्लेखनीय है कि विधानसभा चुनाव में जनता दर्शन का क्रम टूट गया था। दोबारा सरकार बनने पर योगी ने इस क्रम को जारी रखते हुए 95 स्थानीय लोगों की समस्याओं का समाधान कराया। जनता दर्शन में मंडल आयुक्त रवि कुमार एनजी, जिलाधिकारी विजय किरण आनंद, डीआईजी जे रविंद्र गौड़, एसएसपी डॉ विपिन ताड़ा और मंदिर कैंप कार्यालय के प्रभारी मोतीलाल सिंह मौजूद रहे।

Previous articleशपथ लेने के बाद सीएम योगी का बड़ा फैसला, तीन महीने के लिए बढ़ाई मुफ्त राशन योजना
Next article100 दिन में किस विभाग में होगा कितना काम, आज शाम को सीएम योगी मंत्रियों से मांगेंगे रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here