UP Assembly Election: चौथे चरण में 624 उम्मीदवारों की दांव पर किस्मत, 59 सीटों पर 11 बजे तक 22.62 फीसदी मतदान

0
229
voting news
voting news

UP Chunav: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के तहत नौ जिलों की 59 सीटों पर मतदान जारी है और पूर्वाह्न 11 बजे तक औसतन 22.62 प्रतिशत मतदान हो चुका था। मतदान शाम छह बजे तक जारी रहेगा। राज्य निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक पूर्वाह्न 11 बजे तक औसतन 22.62 प्रतिशत मतदान हुआ। पीलीभीत में 27.44 प्रतिशत, लखीमपुर खीरी में 26.28, सीतापुर में 22.13, हरदोई 20.13, उन्नाव में 21.36, लखनऊ में 21.41, रायबरेली में 21.42, बांदा में 23.92 और फतेहपुर में 22.52 प्रतिशत मतदान इस अवधि में हो चुका था।

राज्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक मतदान शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है। हालांकि, समाजवादी पार्टी ने लखनऊ, उन्नाव, हरदोई और सीतापुर में मतदान में धांधली किये जाने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग की है। पार्टी ने अलग-अलग ट्वीट में आरोप लगाये हैं कि पीलीभीत जिले की बीसलपुर विधानसभा के बूथ संख्या 283, 284 और 232 पर मतदान कर्मी मतदाताओं को भाजपा के लिए वोट करने के लिए दबाव बना रहे हैं। पार्टी ने दावा किया कि इसके अलावा सीतापुर की बिस्वां विधानसभा सीट के बूथ संख्या 402 पर प्रशासन भाजपा के पक्ष में वोट डलवाने में मदद कर रहा है।

सपा ने आरोप लगाया कि उन्नाव की मोहान विधानसभा सीट के बूथ संख्या 191 पर भाजपा के पक्ष में जबरदस्ती मतदान कराया जा रहा है। इस चरण में कुल 624 उम्मीदवार मैदान में हैं। चौथे चरण में जिन प्रमुख उम्मीदवारों की प्रतिष्ठा दांव पर है उनमें प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक (लखनऊ कैंट), मंत्री आशुतोष टंडन (लखनऊ पूर्वी) पूर्व मंत्री सपा प्रत्याशी अभिषेक मिश्रा (सरोजिनी नगर), उत्तर प्रदेश विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष नितिन अग्रवाल (हरदोई) शामिल हैं। इसके अलावा नेहरू-गांधी परिवार का ‘गढ़’ माने जाने वाले रायबरेली में भी चौथे चरण में मतदान हो रहा है। यहां कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुई अदिति सिंह एक बार फिर मैदान में हैं। आयोग द्वारा निष्पक्ष, सुरक्षित एवं शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिये व्यापक इंतजाम एवं सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराई गई है। कोविड-19 के मद्देनजर मतदेय स्थलों पर थर्मल स्कैनर, सेनिटाइजर, दस्ताने, मास्क,, पीपीई किट, साबुन, पानी वगैरह की व्यवस्था की गई है।

चौथे चरण के चुनाव में कुल 24,643 मतदेय स्थल तथा 13,817 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं। मतदान पर सतर्क दृष्टि रखने के लिए आयोग द्वारा 57 सामान्य प्रेक्षक, नौ पुलिस प्रेक्षक तथा 18 व्यय प्रेक्षक भी तैनात किये गये हैं। इसके अतिरिक्त 1,712 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 210 जोनल मजिस्ट्रेट, 105 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तथा 3,110 ‘माइक्रो ऑब्जर्वर’ भी तैनात किये गये हैं। मतदान पर पर्यवेक्षण के लिए हर जिले के 50 प्रतिशत मतदेय स्थलों पर सजीव वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है, जिसका पर्यवेक्षण जिला निर्वाचन अधिकारी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी एवं निर्वाचन आयोग तीनों स्तर पर किया जायेगा।

चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पर्याप्त संख्या में में अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई है। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती सुनिश्चित की गई है एवं ईवीएम के स्ट्रांग रूम की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी अर्द्ध सैनिक बलों को दी गई है। निर्वाचन आयोग ने 20 फरवरी को तीसरे चरण के तहत मैनपुरी जिले के करहल विधान सभा क्षेत्र के मतदेय स्थल सं.-266 (प्राथमिक विद्यालय, जसवंतपुर) में किसी अनाधिकृत व्यक्ति के वोटिंग कम्पार्टमेंट के निकट पाये जाने के मद्देनजर पीठासीन अधिकारी की आख्या के आधार पर पुनर्मतदान कराये जाने के निर्देश दिये हैं। यहां भी पुनर्मतदान हो रहा है।

सम्बन्धित मतदेय स्थल की पोलिंग पार्टी के सदस्यों एवं अन्य सम्बन्धित के विरूद्ध आवश्यक विधिक एवं अनुशासनात्मक कार्यवाही द्वारा की जा रही है। करहल सीट पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव चुनाव लड़ रहे हैं। वर्ष 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में आज मतदान के दौर से गुजर रही 59 में से 51 सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की थी। इसके अलावा सपा को चार, बसपा को तीन और भाजपा की सहयोगी अपना दल-सोनेलाल को एक सीट मिली थी।

Previous articleup vidhansabha chunav 2022: राजनाथ सिंह की जनसभा में एक युवक ने लगाए अखिलेश यादव जिंदाबाद के नारे, जानिए फिर क्या हुआ
Next articleसोनभद्र में हादसा: चुनाव प्रचार कर के घर वापस जाते समय दो बाइक में टक्कर, तीन की मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here