आगरा में डबल मर्डर: चांदी कारोबारी और जूता फैक्टरी मालिक का गला काट, सिपाही ने की खुदकुशी

0
146

यूपी के आगरा शहर में शुक्रवार को सुबह की शुरुआत हत्या और खुदकुशी की तीन वारदातों से हुई। शहर के एक चांदी कारोबारी और जूता फैक्टरी के मालिक की गला काट कर हत्या कर दी गयी, जबकि यातायात पुलिस के एक कांस्टेबल ने खुदकुशी कर ली। पुलिस के अनुसार सिकंदरा थाना क्षेत्र में आज तड़के चांदी व्यापारी नवीन वर्मा की हत्या कर उसका सिर धड़ से अलग कर दिया गया। वह लोहामंडी स्थित तरकारी वाली गली का निवासी है।

आरोप है कि मृतक के एक साथी, जिसे भाजपा कार्यकर्ता बताया गया है, ने चांदी व्यापारी की हत्या कर उसका सिर काटकर अलग कर दिया और उसे अपनी कार की पीछे की सीट पर रख दिया था। गश्त कर रही पुलिस ने अरसेना गांव के निकट जंगल की ओर कार खड़ी देखी और उसके बाहर दो युवकों को खड़ा देखा तो उनके करीब गई। पुलिस को आता देखकर कार के बाहर खड़े युवक भागने की कोशिश करने लगे। पुलिस ने एक युवक को दबोच कर कार की तलाशी ली। पिछली सीट पर एक व्यक्ति का कटा हुआ सिर देखा तो पुलिस के होश उड़ गए। पकड़े गए युवक ने अपना नाम टिंकू बताया। उसने पुलिस को बताया कि उन्होंने चांदी व्यापारी नवीन को पहले शराब पिलाई, इसके बाद उसका सिर धारदार हथियार से धड़ से अलग कर दिया। पुलिस ने नवीन का धड़ अरसेना के जंगल में कुछ दूरी पर बरामद कर लिया। टिंकू ने स्वयं को भाजपा का कार्यकर्ता बताया। पुलिस हत्या के कारणों की जांच कर रही है।

एक अन्य घटना में आगरा ट्रैफिक लाइन में तैनात कॉन्स्टेबल कुबेर सिंह (59 वर्ष) ने आज तड़के अपने घर में लाइसेंसी रायफल से गोली मारकर खुदकुशी कर ली। खुदकुशी का कारण तुरन्त स्पष्ट नहीं हो सका। घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट भी बरामद नहीं हुआ। मृतक इटावा जिले में भरथना थाना क्षेत्र के नगला राजा गांव का रहने वाला था। वर्तमान में वह थाना एत्माद्दौला क्षेत्र में कालिंदी विहार में बने अपने घर में रह रहा था। गुरुवार रात करीब नौ बजे वह ड्यूटी से घर आकर सो गया था। घर में पत्नी चंद्रकांति, बेटी आरती, भतीजी लक्ष्मी और भतीजा कृष्णा एक कमरे में सो रहे थे। तड़के चार बजे पत्नी ने गोली चलने की आवाज सुनी। वह दौड़कर हॉल में पहुंची तो वहां कुबेर सिंह खून से लथपथ पड़ा हुआ था। लाइसेंसी रायफल भी पास में ही पड़ी थी। चीख-पुकार सुनकर परिवार के अन्य सदस्य और आसपास के लोग पहुंच गए। एसएसपी प्रभाकर चौधरी समेत अन्य अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर कानूनी कार्रवाई प्रारंभ कर दी। तीसरी वारदात में एक जूता फैक्टरी के मालिक सिकंदर का लहूलुहान शव नर्मिाणाधीन मकान में पड़ा मिला। परिजनों ने पड़ोस में रहने वाले युवक और उसके परिवार के लोगों पर हत्या का आरोप लगाया है। हत्या के पीछे अवैध संबंधों की आशंका जताई जा रही है।

रकाबगंज क्षेत्र में छीपीटोला निवासी 25 वर्षीय सिकंदर का मकान बन रहा है। इसलिए उसका परिवार पड़ोस में एक मकान किराये पर लेकर रहता है। सिकंदर अपने नर्मिाणाधीन मकान में ही रात को सोता था। गुरुवार रात को परिवार के लोगों के साथ खाना खाने के बाद सिकंदर अपने नर्मिाणाधीन मकान में सोने चला गया। सुबह जब वह घर नहीं आया तो परिजनों ने जाकर देखा। वह लहूलुहान हालत में पड़ा था और गला कटा हुआ था। सूचना पर सीओ सदर अर्चना सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गई। आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

Previous articleयूपी पुलिस की नोएडा में बदमाशों से मुठभेड़, लूटपाट का आरोपी गिरफ्तार
Next articleपीलीभीत में ताजिया निकालने को लेकर बवाल, दो थाना क्षेत्रों में तनाव, पुलिस फोर्सतैनात

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here