दैनिक यूपी ब्यूरो
24/11/2021  :  20:07 HH:MM
यूपी चुनाव को लेकर सपा और आप में गठबंधन की चर्चा तेज, पूर्व सीएम अखिलेश यादव से मिले आप नेता संजय सिंह
Total View  650

आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई हैं। इसी क्रम में बुधवार को समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने मुलाकात की। उधर, अपना दल की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने भी अखिलेश यादव ने मुलाकात की और कहा कि 2022 का विधानसभा चुनाव सपा के साथ लड़ने के लिए हमारी पार्टी ने गठबंधन किया है। इससे पहले समाजवादी पार्टी (सपा) व राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के बीच गठबंधन की सीटों पर सहमति बनने की खबर आ ही चुकी है।

लखनऊ, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई हैं। इसी क्रम में बुधवार को समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने मुलाकात की। उधर, अपना दल की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने भी अखिलेश यादव ने मुलाकात की और कहा कि 2022 का विधानसभा चुनाव सपा के साथ लड़ने के लिए हमारी पार्टी ने गठबंधन किया है। इससे पहले समाजवादी पार्टी (सपा) व राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के बीच गठबंधन की सीटों पर सहमति बनने की खबर आ ही चुकी है।
 
लखनऊ स्थित लोहिया ट्रस्‍ट के दफ्तर में हुई इस मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं के बीच करीब एक घंटे तक बातचीत हुई। मुलाकात के बाद संजय सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार के कुशासन व तानाशाही खत्म करने के लिए कामन एजेंडा पर चर्चा हुई है। उन्होंने कहा कि गठबंधन की बातचीत शुरू हो गई है, लेकिन अभी कुछ तय नहीं हुआ है। जैसे ही सभी औपचारिकताएं तय हो जाएंगी, इस बारे में जानकारी दे दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी दलों की प्राथमिकता एक ही कि भाजपा हो सत्ता से बेदखल किया जाए।


आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी संजय सिंह ने बुधवार को समाजवादी पार्टी में सपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की। इस मुलाकात के साथ ही सियासी गलियारों में आरएलडी के बाद आप के साथ सपा के गठबंधन की सम्‍भावनाओं को लेकर चर्चा तेज हो गई है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि वह यूपी में छोटे दलों को साथ लेकर चुनाव लड़ेंगे।

इसी क्रम में उन्होंने मंगलवार को राष्‍ट्रीय लोकदल को 36 सीटें देकर गठबंधन को अंतिम रूप दे दिया है। इसके अलावा सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के साथ भी उनका चुनाव में मिलकर लड़ने की बात तय हो चुकी है। अखिलेश यादव ने केशव देव मौर्य के महान दल, डा. संजय सिंह चौहान की जनवादी पार्टी (सोशलिस्ट) और शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के साथ पहले ही गठबंधन का ऐलान कर चुके हैं। बुधवार को अपना दल (कृष्णा गुट) के साथ गठबंधन पर चर्चा हुई है। अपना दल की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने लोहिया ट्रस्‍ट के दफ्तर में अखिलेश यादव से मुलाकात की है। उन्होंने कहा कि 2022 का विधानसभा चुनाव सपा के साथ लड़ने के लिए हमारी पार्टी ने गठबंधन किया है। इस संबंध में अखिलेश यादव से बात हुई है।


बता दें कि आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी संजय सिंह सपा के संस्‍थापक और पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव के जन्‍मदिन समारोह में भी शामिल हुए थे। वहां अखिलेश यादव से उनकी मुलाकात हुई थी। इसके बाद मंगलवार को सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव पर लिखी पुस्तक 'राजनीति के उस पार' के विमोचन कार्यक्रम में भी वह शामिल हुए। दो महीने पहले भी संजय सिंह की अखिलेश यादव से मुलाकात हुई थी। सूत्रों के अनुसार सपा और आप के बीच गठबंधन पर बातचीत चल रही है। लखनऊ में आज हुई मुलाकात उसी क्रम में थी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4892184
 
     
Related Links :-
सदस्यता अभियान शुरु करते हुए बोले छत्तीसगढ़ सीएम बघेल -संविधान की रक्षा के लिए कांग्रेस को करें मजबूत
उत्तर प्रदेश से बंद होगा भाजपा की सत्ता का दरवाजा : अखिलेश यादव
अति पिछड़ों को मुख्यधारा में लाने के लिए शिक्षा जरूरी : स्वतंत्र देव सिंह
आज प्रयागराज पहुंचेंगी प्रियंका गांधी, चौहरे हत्याकांड के पीड़ित परिजनों से करेंगी मुलाकात
यूपी में 170 प्रत्याशी घोषित करने के बाद आप ने बदली रणनीति, सपा के साथ गठबंधन की तैयारी
विश्व कल्याण के लिए हिंदू समाज समर्थवान बने : मोहन भागवत
नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास संपन्न, सीएम योगी बोले- अंतरराष्ट्रीय उड़ान भरेगी गन्ने की मिठास
यूपी चुनाव को लेकर सपा और आप में गठबंधन की चर्चा तेज, पूर्व सीएम अखिलेश यादव से मिले आप नेता संजय सिंह
विधायक अदिति सिंह और वंदना सिंह भाजपा में शामिल, यूपी चुनाव से पहले कांग्रेस व बसपा को लगा झटका
लखनऊ में रिहायशी कालोनियों के लेआउट में होगा बदलाव, हटेंगे शमशान
 
CopyRight 2016 DanikUp.com