दैनिक यूपी ब्यूरो
24/11/2021  :  20:05 HH:MM
विधायक अदिति सिंह और वंदना सिंह भाजपा में शामिल, यूपी चुनाव से पहले कांग्रेस व बसपा को लगा झटका
Total View  647

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) को बड़ा झटका दिया है।रायबरेली की सदर सीट से कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह और आजमगढ़ के सगड़ी सीट से बसपा विधायक वंदना सिंह ने बुधवार को भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। यूपी भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के समक्ष पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में दोनों नेताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाई गई। इस दौरान सदस्यता समिति के प्रमुख लक्ष्मीकांत बाजपेयी भी मौजूद थे।

लखनऊ, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) को बड़ा झटका दिया है।रायबरेली की सदर सीट से कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह और आजमगढ़ के सगड़ी सीट से बसपा विधायक वंदना सिंह ने बुधवार को भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। यूपी भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के समक्ष पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में दोनों नेताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाई गई। इस दौरान सदस्यता समिति के प्रमुख लक्ष्मीकांत बाजपेयी भी मौजूद थे।

गौरतलब है कि रायबरेली सदर से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह काफी समय से कांग्रेस की आलोचना और भारतीय जनता पार्टी की सरकार की नीतियों की सराहना करती आ रही थीं। इसके लिए कांग्रेस पार्टी उनको नोटिस भी दे चुकी है। पिछले दिनों तो अदिति सिंह ने साफ कह दिया था कि वह सीएम योगी आदित्यनाथ की टीम का हिस्सा बनना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि सीएम योगी सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री हैं और उनकी टीम का हिस्सा बनकर अपनी विधानसभा के लिए ज्यादा बेहतर कर सकूंगी।


अदिति सिंह ने कहा था कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी केवल स्टंट कर रही हैं। अगर वह महिलाओं के लिए जागरूक होती तो सबसे पहले अपने निजी सचिव संदीप सिंह के खिलाफ कार्रवाई करतीं, जिस पर महिला से छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज हुआ है। अदिति का यह भी कहना है कि कांग्रेस महासचिव सिर्फ राजनीति कर रही है। उनके पास अब मुद्दे नहीं बचे हैं। 

वर्ष 2017 के चुनाव में अदिति पिता की राजनीतिक विरासत की वारिस बनीं। कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीतकर वे विधायक बनीं। हालांकि, तकरीबन डेढ़ साल से उन्होंने खुद को वैचारिक तौर पर कांग्रेस से अलग कर रखा था। साथ ही पार्टी के विरुद्ध बगावती बयान भी देती रहीं। इस दौरान सत्तारूढ़ दल से उनकी नजदीकियां बढ़ती गईं। 


सूत्रों के मुताबिक उनके भाजपा में जाने का बड़ा नुकसान उनके पति अंगद सिंह सैनी को हो सकता है, जो पंजाब की नवांशहर सीट से विधायक हैं। रायबरेली, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का संसदीय क्षेत्र है। ऐसे में अदिति का पालाबदल उनके पति के लिए भारी पड़ सकता है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3900367
 
     
Related Links :-
केन्द्रीय मंत्री स्मृति इरानी का रायबरेली दौरा आज, नवनिर्मित राज्य बीमा कर्मचारी अस्पताल का करेंगी उद्घाटन
सदस्यता अभियान शुरु करते हुए बोले छत्तीसगढ़ सीएम बघेल -संविधान की रक्षा के लिए कांग्रेस को करें मजबूत
उत्तर प्रदेश से बंद होगा भाजपा की सत्ता का दरवाजा : अखिलेश यादव
अति पिछड़ों को मुख्यधारा में लाने के लिए शिक्षा जरूरी : स्वतंत्र देव सिंह
आज प्रयागराज पहुंचेंगी प्रियंका गांधी, चौहरे हत्याकांड के पीड़ित परिजनों से करेंगी मुलाकात
यूपी में 170 प्रत्याशी घोषित करने के बाद आप ने बदली रणनीति, सपा के साथ गठबंधन की तैयारी
विश्व कल्याण के लिए हिंदू समाज समर्थवान बने : मोहन भागवत
नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास संपन्न, सीएम योगी बोले- अंतरराष्ट्रीय उड़ान भरेगी गन्ने की मिठास
यूपी चुनाव को लेकर सपा और आप में गठबंधन की चर्चा तेज, पूर्व सीएम अखिलेश यादव से मिले आप नेता संजय सिंह
विधायक अदिति सिंह और वंदना सिंह भाजपा में शामिल, यूपी चुनाव से पहले कांग्रेस व बसपा को लगा झटका
 
CopyRight 2016 DanikUp.com