दैनिक यूपी ब्यूरो
15/11/2021  :  19:39 HH:MM
देवोत्थान एकादशी आज : मांगलिक कार्य शुरू, चार माह से लगी थी रोक
Total View  648

देवोत्थान एकादशी के आगमन के साथ ही बीते चार महीने से बंद पड़े मांगलिक कार्य सोमवार से शुरू हो रहे हैं। इस दिन जहां भगवान विष्णु गहन निद्रा के बाद जाग जाएंगे वहीं, चारो ओर उत्साह छा जाएगा और शादी-विवाह आदि मांगलिक कार्यक्रमों की धूम मच जाएगी। देवोत्थान एकादशी मनाने के तौर पर श्रद्धालु सालिकराम और तुलसी का विवाह कराते हैं। घर-घर एकादशी का व्रत रखा जाता है और गन्ने का पूजन भी किया जाता है। साथ ही हड़ा-हड़ैया की परंपरा निभाई जाती है।

प्रयागराज, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। देवोत्थान एकादशी के आगमन के साथ ही बीते चार महीने से बंद पड़े मांगलिक कार्य सोमवार से शुरू हो रहे हैं। इस दिन जहां भगवान विष्णु गहन निद्रा के बाद जाग जाएंगे वहीं, चारो ओर उत्साह छा जाएगा और शादी-विवाह आदि मांगलिक कार्यक्रमों की धूम मच जाएगी। देवोत्थान एकादशी मनाने के तौर पर श्रद्धालु सालिकराम और तुलसी का विवाह कराते हैं। घर-घर एकादशी का व्रत रखा जाता है और गन्ने का पूजन भी किया जाता है। साथ ही हड़ा-हड़ैया की परंपरा निभाई जाती है।


देवोत्‍थान एकादशी का महात्‍म्‍य

देवोत्थान एकादशी के बारे में गाजीपुर के पंडित दीपक दुबे बताते हैं कि एकादशी का व्रत 15 नवंबर यानी आज है। उन्‍हाेंने बताया कि इस दिन भगवान विष्णु का पूजन और ब्राह्मणों को दान आदि करना चाहिए। इससे लक्ष्मी नारायण की कृपा सदैव बनी रहती है। इसके साथ तिलक, विवाह, गोद भराई, गृह प्रवेश और मुंडन जैसे मांगलिक आयोजन 15 से ही शुरू हो जाएंगे।


दीपों से जगमगाएगा गंगा घाट

प्रतापगढ़ में विकास खंड कालाकांकर के गंगा घाट पर सोमवार को एकादशी के दिन विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। मुरस्सापुर ग्राम प्रधान सुरेश यादव ने बताया कि गंगा घाट को फूलमालाओं से सजाया जाएगा। देर शाम 51 सौ दीप दान का 9वां उत्सव मनाया जाएगा। इसकी तैयारी पूरी हो चुकी है।


प्रतापगढ़ जिले में आंवला नवमी मनाई गई। सच्चा बाबा आश्रम चिलबिला में आंवले के पेड़ व फल का पूजन किया गया। पेड़ के नीचे प्रसाद बनाया व खिलाया गया। इस मौके पर महंत मनोज ब्रह्मचारी ने कहा कि अपने गुणों के कारण आंवला अमृत फल माना जाता है। शास्त्रों में कहा गया है कि इसका सेवन नवमी पर पूजन के बाद किया जाना चाहिए।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6902811
 
     
Related Links :-
देवोत्थान एकादशी आज : मांगलिक कार्य शुरू, चार माह से लगी थी रोक
13 को कनाडा से लखनऊ आएगी प्राचीन मां अन्‍नपूर्णा देवी की मूर्त‍ि, सौ साल पहले वाराणसी से हुई थी चोरी
छठ पूजा : सूर्य उपासना के महापर्व पर अस्तांचलगामी सूर्य को आज अर्घ्य देंगी व्रती महिलाएं
हस्तलिखित व 800 साल पुराना जैन धर्म ग्रंथ होगा संरक्षित, अभी लखनऊ के आशियाना जैन मंदिर में है सुरक्षित
छठ पूजा: नहाय खाय के साथ शुरू हुआ विधान, 36 घंटे का निर्जला व्रत कल से
छठ महापर्व के दौरान जरूरी है कोरोना का उचित व्यवहार
जानिए, दीपावली के सुबह से रात तक पूजन के मुहूर्त : शाम 5.19 बजे से 7.53 बजे तक रहेगा प्रदोष काल
कोरोना महामारी से छाया मंदी का बादल छंटा, धनतेरस पर बाजारों में हुई धनवर्षा
करवा चौथ : अखंड सौभाग्य के लिए महिलाएं रखेंगी व्रत, करवे के लिए सजे बाजार
अयोध्‍या : एक नवंबर से शुरू होगा दीपोत्‍सव, ड्रोन कैमरों से दिखाई जाएगी रामलीला
 
CopyRight 2016 DanikUp.com