दैनिक यूपी ब्यूरो
18/10/2021  :  20:27 HH:MM
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम में हुई शामिल
Total View  647

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सोमवार को नोएडा में महिला सशक्तिकरण, महिलाओं के उत्थान एवं विकास की मुख्यधारा से जोडऩे के उद्देश्य से कई कार्यक्रमों में भाग लिया। इस दौरान उन्होंने सेक्टर 125 स्थित एमेटी यूनिवर्सिटी में आंगनवाड़ी केंद्रों को सुविधा संपन्न बनाने उद्देश्य से किटों के वितरण के साथ गर्भवती महिलाओं की गोदभराई भी की। यहीं नहीं वृद्धा आश्रम और जिला कारागार में महिला कैदियों के लिए अपनी राजभवन निधि से जरूरत का सामान भी उपलब्ध कराया।

नोएडा, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सोमवार को नोएडा में महिला सशक्तिकरण, महिलाओं के उत्थान एवं विकास की मुख्यधारा से जोडऩे के उद्देश्य से कई कार्यक्रमों में भाग लिया। इस दौरान उन्होंने सेक्टर 125 स्थित एमेटी यूनिवर्सिटी में आंगनवाड़ी केंद्रों को सुविधा संपन्न बनाने उद्देश्य से किटों के वितरण के साथ गर्भवती महिलाओं की गोदभराई भी की। यहीं नहीं वृद्धा आश्रम और जिला कारागार में महिला कैदियों के लिए अपनी राजभवन निधि से जरूरत का सामान भी उपलब्ध कराया। 

इसके अलावा महिलाओं को सशक्त बनाने एवं उनके आर्थिक विकास के लिए आर्थिक मदद के चेक दिए। साथ ही प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ पात्र लाभार्थियों को गोल्डन कार्डों का वितरण किया। राज्यपाल ने टीबी उन्मूलन कार्यक्रम में सहयोग प्रदान कर रही संस्थाओं के प्रतिनिधियों को सम्मान प्रशस्ति पत्र वितरण किया। वहीं, आंगनबाड़ी केंद्रों का सहयोग करने वाले इंजीनियरिंग कॉलेजों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर उनका सम्मान किया।

इस अवसर पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि जो महिलाएं किसी कारण बस जेल में प्रवास कर रही हैं। जब वह यहां से मुक्त होकर घर जाएंगी तो वह शांति पूर्वक जीवन की सीख लेकर जाएं। अपने आगे के जीवन को शांतिप्रिय रूप से मनाएं और अपने घर एवं परिवार के विकास के लिए विशेष योगदान दें। 

राज्यपाल ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को यशोदा मईया की संज्ञा प्रदान करते हुए कहा कि सभी आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के द्वारा देश के भावी भविष्य को तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, जो छोटे बच्चें आंगनबाड़ी केन्द्रों पर आ रहे वो भारत का कल का भविष्य है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को आगे आकर जनपद के सभी 1108 आंगनबाड़ी केन्द्रों को सामाजिक सरोकार के माध्यम से सुविधा सम्पन्न बनाने की दिशा में कदम उठाना चाहिए, ताकि जनपद गौतमबुद्धनगर इस कार्य में प्रदेश में अग्रणीय स्थान प्राप्त कर सकें। 

उन्होंने कहा कि महिलाओं को स्वावलंबी बनाने एवं उनके आर्थिक उन्नति के उद्देश्य से महिला स्वयं सहायता समूह सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके माध्यम से महिलाओं का निरंतर विकास संभव हो रहा है। उन्होंने इस अवसर पर सभी महिलाओं का यह भी आह्वान किया कि सभी महिलाएं अपने बच्चों को पढ़ाने की दिशा में विशेष ध्यान दें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8872338
 
     
Related Links :-
मिशन शक्ति के तहत राज्यसभा सांसद ने जनता कॉलेज की छात्राओं को किया जागरूक
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम में हुई शामिल
महिलाओं एवं बालिकाओं को सशक्त बनाने से देश होगा सशक्त : आनन्दी बेन पटेल
महिला सुरक्षा के लिए जौनपुर जंक्शन और सिटी स्टेशन पर लगेंगे 80 सीसीटीवी कैमरे, निर्भया फंड का होगा इस्तेमाल
सब्जियों की रंगोली से महिलाओं को पोषक आहार के प्रति किया गया जागरुक
पीएम मोदी आज महोबा से करेंगे उज्ज्वला-2 की वर्चुअल शुरुआत, गरीबों को मिलेंगे मुफ्त गैस कनेक्शन
कोरोना से निराश्रित महिलाओं की सुध : आजीविका का प्रबंध करेगी योगी सरकार
कोरोना से निराश्रित महिलाओं की सुध : आजीविका का प्रबंध करेगी योगी सरकार
यूपी में घर-घर पहुंचेगा बैंक, 58 हजार महिलाओं को आत्मनिर्भर बना रही है योगी सरकार
सोशल एक्टिविस्ट सुमन ऑस्कर का हंड्रेड इंस्पायरिंग इंडियंस में चयन, छपेगी किताब
 
CopyRight 2016 DanikUp.com