दैनिक यूपी ब्यूरो
13/10/2021  :  12:39 HH:MM
मुंह पर घूंसा मारकर की गई थी वृद्धा की हत्या, पीएम रिपोर्ट में हुआ खुलासा; कातिलों का नही मिला अबतक सुराग
Total View  6

जनपद के चिनहट के लौलाई गांव काशीराम कालोनी में चादर में मिली वृद्धा की लाश की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से सामने आया है कि उसकी हत्या उसके मुंह पर घूंसा मारकर की गई थी। घूंसे से उसके मुंह से खून निकल आया था। हत्यारे शव चादर से बांधकर काशीराम कालोनी के बाहर सड़क किनारे फेंक गए थे। फोरेंसिक जांच रिपोर्ट में भी वृद्धा के मुंह पर प्रहार किए जाने की पुष्टि हुई। पोस्टमार्टम में जांच के लिए मृतका मिथलेश उर्फ ललिता का विसरा और हार्ट सुरक्षित किया गया है।

लखनऊ, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। जनपद के चिनहट के लौलाई गांव काशीराम कालोनी में चादर में मिली वृद्धा की  लाश की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से सामने आया है कि उसकी हत्या उसके मुंह पर घूंसा मारकर की गई थी। घूंसे से उसके मुंह से खून निकल आया था। हत्यारे शव चादर से बांधकर काशीराम कालोनी के बाहर सड़क किनारे फेंक गए थे। फोरेंसिक जांच रिपोर्ट में भी वृद्धा के मुंह पर प्रहार किए जाने की पुष्टि हुई। पोस्टमार्टम में जांच के लिए मृतका मिथलेश उर्फ ललिता का विसरा और हार्ट सुरक्षित किया गया है।

वहीं, मिथलेश की हत्या के चार दिन बाद भी पुलिस वारदात को अंजाम देने वाले हत्यारों का सुराग नहीं लगा सकी है। इस संबंध में मिथलेश के भतीजे सनी ने चिनहट पुलिस पर मामले में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।

मिथलेश निशातगंज गली नंबर चार की रहने वाली थीं और लोहिया अस्पताल के बाहर पान मसाले की दुकान लगाती थीं। वह अक्सर वहीं पर सोती थीं। बिना ट्यूबलेस टायर वाली गाड़ी से शव को फेंका गया था घटनास्थल पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक घटना की सूचना पर पुलिस और फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची। मिथलेश के दाहिनी ओर चेहरे पर मुंह के पास चोट थी। टीम ने वहां के फिंगर प्रिंट लिए थे। इसके बाद मौके से एक ईंट को भी जांच के लिए जब्त कर लिया था। पुलिस और फोरेंसिक टीम में चर्चा थी कि हत्यारों ने शव को ठिकाने लगा के लिए जिस गाड़ी का प्रयोग किया उसमें ट्यूबलेस टायर लगे थे। क्योंकि ईंट पर जिस गाड़ी के चढ़ने के चिन्ह मिले हैं उसमें ग्रिप अधिक नहीं है। एक्सपर्ट के मुताबिक ट्यूबलेस टायर की ग्रिप गहरी और बड़ी होती है। जबकि नार्मल टायर की सामान्य होती है। इस लिए ईंट पर मिले गाड़ी के चिन्हों का भी परीक्षण किया जा रहा है। संदिग्ध महिला और पुरुष की तलाश में दबिश वृद्धा के भतीजे सनी ने बताया कि बुआ दुकान पर ही सोती थीं, लेकिन बीते 20 दिन से निशातगंज स्थित घर में ही रह रही थीं। बीते सात अक्टूबर को वह अपनी सहेली के साथ निकली थीं। इसके बाद लोहिया अस्पताल के पास से एक अन्य महिला और पुरुष के साथ कहीं गई थीं। आठ अक्टूबर को उनका शव काशीराम कालोनी के बाहर चादर में बांधकर फेंका गया था।

एडीसीपी पूर्वी सैय्यद मो. कासिम आब्दी ने कहा कि वृद्धा की किन परिस्थितियों में मौत हुई। उसे चादर में बांधकर कौन फेंक गया समेत कई अन्य बिंदुओं पर जांच की जा रही है। वारदात में दो संदिग्धों के शामिल होने की आशंका है। उनकी तलाश में पुलिस की टीमें दबिश दे रही हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8675641
 
     
Related Links :-
लखीमपुर हिंसा के आरोपी आशीष- अंकित को आज घटनास्थल पर ले जा सकती है एसआइटी, घटना रीक्रिएशन की योजना
मंदिर पर सोए दो भाइयों पर जानलेवा हमला, आरोपी गिरफ्तार
मुंह पर घूंसा मारकर की गई थी वृद्धा की हत्या, पीएम रिपोर्ट में हुआ खुलासा; कातिलों का नही मिला अबतक सुराग
मेरठ में फर्जी दस्तावेज बनाने वाले गिरोह का पुलिस ने किया पर्दाफाश
लखीमपुर हिंसा के आरोपी आशीष मिश्र की आज कोर्ट में होगी पेशी, पुलिस मांगेगी रिमांड
एक लाख नकली नोट थमा कर असली 25 हजार ले भागे उचक्के
किशोरी के साथ दुष्कर्म कर बनाई अश्लील वीडियो
दो घरों से 10 लाख की चोरी, हड़कंप
बुलंदशहर पुलिस ने अलीगढ़ के उद्योगपति को पीटा; इंस्पेक्टर निलंबित, मुकदमा दर्ज
कानपुर तिहरा हत्याकांड: पति-पति और पुत्र की गला काटकर हत्या
 
CopyRight 2016 DanikUp.com