दैनिक यूपी ब्यूरो
11/10/2021  :  11:46 HH:MM
लखीमपुर हिंसा के आरोपी आशीष मिश्र की आज कोर्ट में होगी पेशी, पुलिस मांगेगी रिमांड
Total View  643

लखीमपुर हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की हत्या के मुख्य आरोपी केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्र के बेटे आशीष मिश्र मोनू पर कानून का शिकंजा कसता जा रहा है। शनिवार देर रात गिरफ्तारी के बाद जेल भेजे गए आशीष मिश्र मोनू को पुलिस रिमांड पर लेने के बाबत आज कोर्ट में सुनवाई की जाएगी। इसके लिए आशीष मिश्रा को आज सीजेएम कोर्ट में पेश किया जाएगा। वहीं, कोर्ट के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

लखनऊ, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। लखीमपुर हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की हत्या के मुख्य आरोपी केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्र के बेटे आशीष मिश्र मोनू पर कानून का शिकंजा कसता जा रहा है। शनिवार देर रात गिरफ्तारी के बाद जेल भेजे गए आशीष मिश्र मोनू को पुलिस रिमांड पर लेने के बाबत आज कोर्ट में सुनवाई की जाएगी। इसके लिए आशीष मिश्रा को आज सीजेएम कोर्ट में पेश किया जाएगा। वहीं, कोर्ट के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

इस मामले में आशीष मिश्र 'मोनू से लखीमपुर खीरी पुलिस के साथ एसआइटी ने भी शनिवार को करीब 12 घंटे तक पूछताछ की, लेकिन कोई नतीजा सामने नहीं आ सका। अब पुलिस का प्रयास मोनू को अपनी कस्टडी में लेने का है जिससे कि उससे सख्ती से पूछताछ कर इस बड़े कांड का सच सामने ला सके। मंत्रिपुत्र की पेशी को लेकर शहर में सुरक्षा व्यवस्था काफी सख्त की गई है। आज शहर में बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात की गई है। इसमें भी कचहरी तथा आसपास क्षेत्र में पीएसी व आरएएफ के जवान भी लगाए गए हैं। देश की नजर लखीमपुर खीरी कांड की उस तफ्तीश पर है, जिसमें यह साबित होने वाला है कि उन पर लगाए गए आरोप कितने सटीक हैं और वह घटना के वक्त कहां थे।

आशीष मिश्र पुलिस रिमांड के बाद से माना जा रहा है कि उसके ऊपर लगे आरोपों की तस्वीर थोड़ा और साफ होगी। अभियोजन पक्ष अदालत से आशीष मिश्र की पुलिस कस्टडी रिमांड मांग चुका है। इस पर सीजेएम कोर्ट में सोमवार को सुनवाई होगी। अगर आशीष मिश्र की पुलिस कस्टडी मिल जाती है तो लखीमपुर खीरी हिंसा में उसके ऊपर लगे आरोपों की तस्वीर और साफ होगी। इसके साथ साथ ही आरोपित पर शिकंजा कसा जा सकेगा।

लखीमपुर खीरी के केस पर सुप्रीम कोर्ट की सख्त टिप्पणी से अब इसकी जांच कर रही एसआइटी विवेचना के हर हिस्से में बहुत संभालकर रख कदम बढ़ा रही है। जांच एजेंसी को भय है कि किसी कमजोर साक्ष्य की वजह से उसकी कोई किरकिरी न हो जाए। विपक्ष और पीडि़त परिवारों को कोई ऐसा मौका न मिल जाए, जिससे यह मामला कोई नया मोड़ ले ले। पुलिस लाइन के क्राइम ब्रांच आफिस में खीरी कांड के मुख्य आरोपित केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्र 'मोनू' को शनिवार एसआइटी ने सुबह करीब 10:40 मिनट पर हिरासत में लिया गया। उसके बाद उससे पूछताछ का जो सिलसिला शुरू हुआ वो 12 घंटे तक चला। रात ठीक 10:40 पर एसआइटी के प्रभारी डीआइजी उपेंद्र अग्रवाल मीडिया के सामने आए और जांच व पूछताछ में सहयोग न करने के कारण आशीष मिश्र मोनू को गिरफ्तार करने की जानकारी दी। उसके बाद चिकित्सीय परीक्षण की तैयारी की जाने लगी।


एसआइटी के इस रवैये से साफ हो गया कि बेगुनाही के जो सबूत आशीष मिश्र लेकर के आए थे वो काम नहीं आए। अब एसआइटी ने वह सभी साक्ष्य संकलित करने शुरू कर दिए, जिससे यह साबित होगा कि लखीमपुर खीरी कांड में आरोपित आशीष मिश्र की भूमिका इस मामले में संदिग्ध है और इसके और अधिक साक्ष्य संकलन की जरूरत है। अब यह भी तय है कि इस कांड से जुड़े सभी इलेक्ट्रानिक साक्ष्यों को एसआइटी फारेंसिक जांच कराए बिना अपना साक्ष्य नहीं बनाएगी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4862180
 
     
Related Links :-
युवक की हत्या के आरोप में प्रेमिका सहित तीन गिरफ्तार, पिता ने भतीजे व नाबालिग बेटे के साथ मिलकर की हत्या
अलकायदा समर्थित आतंकियों की तलाश में एनआईए पहुंची जम्मू-कश्मीर, छापे में कई अहम दस्तावेज बरामद
गोंडा ट्रिपल मर्डर : हत्यारोपी अशोक फरार, 18 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली
मुख्तार अंसारी के गुर्गे शकील के खिलाफ तीन और मुकदमे दर्ज, प्लाट दिलाने के नाम पर जालसाजी
प्रेम प्रसंग : हिस्ट्रीशीटर की पत्नी से मिलने गए युवक की संदिग्ध मौत, प्रेमिका ने लगाया खुदकुशी का आरोप
शाइन सिटी के निदेशक राशिद ने पुलिस से सांठ-गांठ कर दिया हजारों करोड़ की ठगी को अंजाम
गोरखपुर व्यापारी हत्या केस: मृतक मनीष के दोस्तों को सीबीआई ने किया तलब, होगी पूछताछ
पत्नी को तलाक देने के लिए डॉक्टर पर दबाव बना रहा आरोपी गिरफ्तार, बोलता था-आपकी पत्नी मुझे पसंद है
पर्वतारोही अरुणिमा सिन्हा व पति पर चलेगा धोखाधड़ी का केस, अदालत ने दिया आदेश
लखीमपुर हिंसा : मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा सहित तीन की जमानत अर्जी खार‍िज
 
CopyRight 2016 DanikUp.com