दैनिक यूपी ब्यूरो
02/10/2021  :  20:21 HH:MM
छत्तीसगढ़ के सियासी संकट के बीच के सीएम भूपेश बघेल को मिली यूपी चुनाव के लिए अहम जिम्मेदारी
Total View  180

कांग्रेस शासित पंजाब और छत्तीसगढ़ में जारी उठापटक के बीच कांग्रेस ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए वरिष्ठ पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। वहीं, सीएम बघेल ने वरिष्ठ पर्यवेक्षक नियुक्त किए जाने पर कहा कि पार्टी ने मुझ पर विश्वास व्यक्त किया उसके लिए धन्यवाद। पार्टी ने मुझे एक बड़ी ज़िम्मेदारी दी है, मैं सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के प्रति आभार व्यक्त करता हूं। गौरतलब है कि यूपी में अगले साल चुनाव होने हैं। इस संबंध में कांग्रेस सहित सभी अन्य राजनीतिक दल ने अपनी- अपनी तैयारियों में जुट गए हैं।

नई दिल्ली, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। कांग्रेस शासित पंजाब और छत्तीसगढ़ में जारी उठापटक के बीच कांग्रेस ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए वरिष्ठ पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। वहीं, सीएम बघेल ने वरिष्ठ पर्यवेक्षक नियुक्त किए जाने पर कहा कि पार्टी ने मुझ पर विश्वास व्यक्त किया उसके लिए धन्यवाद। पार्टी ने मुझे एक बड़ी ज़िम्मेदारी दी है, मैं सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के प्रति आभार व्यक्त करता हूं। गौरतलब है कि यूपी में अगले साल चुनाव होने हैं। इस संबंध में कांग्रेस सहित सभी अन्य राजनीतिक दल ने अपनी- अपनी तैयारियों में जुट गए हैं।

वहीं, दिल्ली में छत्तीसगढ़ के कांग्रेसी विधायकों के जुटने का सिलसिला जारी है। कांग्रेस विधायक बृहस्पत सिंह ने दावा किया कि आज शाम तक दिल्ली में 35 विधायक जुट जाएंगे जबकि रविवार को और विधायक आएंगे। हम राज्य प्रभारी पीएल पूनिया और पार्टी हाईकमान से मुलाकात करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि फिलहाल, राज्य में नेतृत्व बदलाव को लेकर कोई बातचीत नहीं होनी है।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के 15 कांग्रेसी विधायक पहले से दिल्ली में डटे हैं और शुक्रवार को छह और विधायकों ने रायपुर से दिल्ली की तरफ कूच किया था। हालांकि, इन विधायकों का दावा था कि वे निजी यात्रा पर दिल्ली जा रहे हैं।

शुक्रवार को जो छह कांग्रेस विधायक दिल्ली रवाना हुए, उनमें शिशुपाल शौरी, किस्मत लाल नंद, संतराम नेताम, राम कुमार यादव, उत्तरी जांगड़े और कृष्ण कुमार ध्रुव शामिल थे।

छत्तीसगढ़ में भी पंजाब की तरह नेतृत्व परिवर्तन की मांग लंबे समय से चल रही है। बीते कुछ दिनों से करीब 15 कांग्रेस विधायक हाईकमान से मुलाकात के लिए दिल्ली में हैं। इससे हाईकमान पर निर्णय का दबाव बढ़ सकता है। हालांकि सीएम भूपेश बघेल लगातार कह रहे हैं कि उन पर कोई संकट नहीं हैं। वहीं, अंदरखाने पार्टी में ढाई-ढाई साल के सीएम पद की मांग हो रही है। त्रिभुवनेश्वर शरण सिंह देव अपनी दावेदारी मजबूत कर रहे हैं और दिल्ली का दौरा भी कर चुके हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8516935
 
     
Related Links :-
दिल्ली में पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, AK-47 सहित कई हथियार बरामद
दिल्ली: रेलवे, मेट्रो और रोडवेज के जंक्शन के रूप में कार्य करेगा सराय काले खां स्टेशन
छत्तीसगढ़ के सियासी संकट के बीच के सीएम भूपेश बघेल को मिली यूपी चुनाव के लिए अहम जिम्मेदारी
अवैध निवासी 2050 तक असम में सत्ता हथियाने का खाका कर रहे तैयार : हिमंत सरमा
मनीष सिसोदिया ने गांधीनगर में किया रोड शो, निकाय चुनाव से पहले उमड़ा जनसैलाब
पंजाब कांग्रेस में फिर बवाल, सिद्धू ने प्रदेश अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा
भाजपा सांसद दिलीप घोष के साथ धक्का मुक्की, सुरक्षाकर्मी ने निकाली पिस्तौल
दिल्ली की कोर्ट में जज के सामने गैंगस्टर गोगी की गोली मारकर हत्या
पीएम मोदी अमेरिका के लिए रवाना, 24 सितंबर को राष्ट्रपति बाइडेन से करेंगे मुलाकात
गोवा के हर युवा को देंगे रोजगार, निजी क्षेत्र में 80 फीसद नौकरियां करेंगे रिजर्व : केजरीवाल
 
CopyRight 2016 DanikUp.com