दैनिक यूपी ब्यूरो
08/07/2021  :  21:42 HH:MM
देवरिया : ब्लाक प्रमुख नामांकन विवाद के बावजूद, भाजपा के पांच प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित
Total View  572

ब्लॉक प्रमुख चुनाव को लेकर देवरिया जनपद विवादों से घिरता नजर आ रहा है। बुधवार को नामांकन पत्र खरीदने से लेकर गुरुवार को नामांकन पत्र दाखिल करने का कार्यक्रम विवादों से घिरा रहा। जनपद के 16 ब्लॉकों में हुए नामांकन के दौरान भारतीय जनता पार्टी हर जगह जोर आजमाइश करती दिखी। तो वहीं, पांच ब्लॉकों में भाजपा प्रत्याशियों को निर्विरोध चुन लिया गया। इनमें उत्तर प्रदेश सरकार के दो मंत्रियों के परिजन भी शामिल हैं।

विवादों में रहा 
देवरिया, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। ब्लॉक प्रमुख चुनाव को लेकर देवरिया जनपद विवादों से घिरता नजर आ रहा है। बुधवार को नामांकन पत्र खरीदने से लेकर गुरुवार को नामांकन पत्र दाखिल करने का कार्यक्रम विवादों से घिरा रहा। जनपद के 16 ब्लॉकों में हुए नामांकन के दौरान भारतीय जनता पार्टी हर जगह जोर आजमाइश करती दिखी। तो वहीं, पांच ब्लॉकों में भाजपा प्रत्याशियों को निर्विरोध चुन लिया गया। इनमें उत्तर प्रदेश सरकार के दो मंत्रियों के परिजन भी शामिल हैं। 

उत्तर प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही के पुत्र सुब्रत शाही लगातार दूसरी बार पथरदेवा ब्लॉक से निर्विरोध निर्वाचित हुए ,तो गौरी बाजार ब्लॉक से उत्तर प्रदेश सरकार के राज्य मंत्री जयप्रकाश निषाद की बहू अनीता निषाद निर्विरोध ब्लाक प्रमुख चुनी गई। सबसे खास दृश्य रुद्रपुर में नजर आया ,जहां बुधवार को पर्चा खरीदने के समय समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को प्रशासन का सहयोग नहीं मिला। पूर्व विधायक खोखा सिंह के हंगामे के बाद किसी प्रकार से सपा के प्रत्याशी ने अपना पर्चा खरीद लिया, लेकिन तभी अचानक शाम होते-होते सपा प्रत्याशी पर लूट और दलित अधिनियम के तहत मुकदमा भी दर्ज हो गया। लिहाजा, सपा प्रत्याशी और निवर्तमान ब्लाक प्रमुख जटा शंकर दुबे जोकि 3 दिन पूर्व तक भाजपा के सदस्य थे, वह अपना पर्चा दाखिल नहीं कर पाए, जिससे रुद्रपुर की सीट भी भाजपा के खाते में निर्विरोध चली गई। 

रुद्रपुर क्षेत्र राज्य मंत्री जयप्रकाश निषाद का विधानसभा क्षेत्र है। रामपुर कारखाना से बीजेपी की उषा त्रिपाठी , तरकुलवा से राम अशीष गुप्ता निर्विरोध ब्लाक प्रमुख चुने गए , यहां पर भी एक किसी अन्य दल के प्रत्याशी ने पर्चा दाखिल नहीं किया। सलेमपुर मे पर्चा दाखिले के दौरान लाठीचार्ज किया गया। वही, भागलपुर में सपा प्रत्याशी का विपक्ष के द्वारा पर्चा फाडते हुए प्रत्याशी एवं उनके पति को मारने पीटने की बात सामने आई, लेकिन बाद में पुलिस की सुरक्षा में सपा प्रत्याशी ने अपना पर्चा दाखिल किया। भटनी ब्लॉक में भी विवादित दृश्य सामने आया और यहां पर्चा दाखिल होने के समय 2 प्रत्याशियों के गुट में झड़प की बात सामने आई , लेकिन यहां से भाजपा के गिरधारी तिवारी और सपा के रमाशंकर यादव तथा निर्दलीय रनिया देवी ने अपना पर्चा दाखिल किया।
 
देवरिया सदर सीट से आखिरी वक्त में भाजपा ने अपना प्रत्याशी घोषित किया। यहां पर पवन गुप्ता को बीजेपी ने अपना उम्मीदवार बनाया तथा समाजवादी पार्टी से सोहन गुप्ता ने पर्चा दाखिल किया।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1533036
 
     
Related Links :-
लखनऊ में चिनहट छोड़कर सभी सात सीट पर भाजपा जीती, समाजवादी पार्टी का पत्ता साफ
ब्‍लाक प्रमुख चुनाव में मतदाताओं को देने होंगे सभी प्रत्‍याशियों को वोट, तय करना होगा वरीयता क्रम
देवरिया : ब्लाक प्रमुख नामांकन विवाद के बावजूद, भाजपा के पांच प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित
गोरखपुर : बांसगांव सीट से भाजपा प्रत्याशी की जीत तय
पारसनाथ यादव के गढ़ में सपा ने तो बक्शा से भाजपा ने नही उतारा प्रत्याशी
अब यूपी में होंगे ब्लाक प्रमुख के चुनाव, 10 जुलाई को 825 ब्लॉक में होगा मतदान
देवरिया जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर भाजपा के गिरीश ने किया कब्जा
यूपी जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव, भाजपा की आरती रावत ने दर्ज की लखनऊ में जीत
श्रीकला रेड्डी धनंजय सिंह जीती, जौनपुर जिला पंचायत अध्यक्ष का पद
यूपी : 53 जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए आज होगा मतदान, 22 जिलों में हुआ निर्विरोध निर्वाचन
 
CopyRight 2016 DanikUp.com