दैनिक यूपी ब्यूरो
07/07/2021  :  10:36 HH:MM
यूपी : असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के संशोधित रिजल्ट में टॉपर हुई फेल
Total View  634

चित्रकला विषय के लिए सहायक आचार्य की भर्ती से संबंधित मामले में उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग (यूपीएचईएससी) ने कोर्ट के आदेश पर जो हलफनामा पेश किया है, उसके आधार पर टॉपर अभ्यर्थी फेल हो गई है और प्रतीक्षा सूची में पहले नंबर की अभ्यर्थी चयनित हो गई है।

प्रयागराज, (दैनिक यूपी ब्यूरो)।चित्रकला विषय के लिए सहायक आचार्य की भर्ती से संबंधित मामले में उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग (यूपीएचईएससी) ने कोर्ट के आदेश पर जो हलफनामा पेश किया है, उसके आधार पर टॉपर अभ्यर्थी फेल हो गई है और प्रतीक्षा सूची में पहले नंबर की अभ्यर्थी चयनित हो गई है।

दरअसल, यूपीएचईएससी ने सहायक आचार्य चित्रकला विषय का संशोधित चयन परिणाम की जानकारी कोर्ट को मुहैया कराई है। इस संशोधित परिणाम के चलते जहां पूर्व में प्रथम स्थान पर चयनित अभ्यर्थी पूजा वर्मा के अंक कम हो गए और उनका चयन निरस्त हो गया है। वहीं, प्रतीक्षा सूची में पहले स्थान पर रहीं चांदनी वर्मा परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर अब चयनित हो गई हैं।

गौरतलब है कि यूपी में चित्रकला विषय में सहायक आचार्य के दो पदों के लिए परीक्षा कराई गई थी। दोनों पद महिलाओं के लिए आरक्षित थे। आयोग ने जब 25 सितंबर 2019 को लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर अंतिम चयन परिणाम जारी किया था तो मेरिट में शीर्ष स्थान पूजा वर्मा को मिला था। प्रतीक्षा सूची में पहले नंबर पर चांदनी वर्मा का नाम शामिल था। इसमें मूल्यांकन में अंकों में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए प्रतीक्षा सूची में रहीं चांदनी वर्मा ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कोर्ट ने मामले में उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग (यूपीएचईएससी) से हलफनामा मांगा था।

ऐसे में उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने लिखित परीक्षा में अंकों में विरोधात्मक स्थिति का संज्ञान लेते हुए बीती 23 फरवरी को बैठक करके पुनर्मूल्यांकन का निर्णय लिया। मूल्यांकन एजेंसी ने पुनर्मूल्यांकन कर आयोग को अवगत कराया कि टाइपिंग त्रुटि के कारण पूजा वर्मा को 155.55 अंक अंकित हो गए थे, जबकि उन्हें लिखित परीक्षा में 134.69 अंक मिले थे। ऐसे में पूजा मेरिट में सातवें स्थान पर पहुंच गई और चयनितों की सूची से बाहर हो गई है।

इस मामले में उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग की सचिव वंदना त्रिपाठी ने बताया कि मूल्यांकन एजेंसी की रिपोर्ट के आधार पर मंगलवार को संशोधित परिणाम जारी कर आयोग की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। इसके आधार पर पूजा वर्मा का चयन निरस्त हो गया है और प्रतीक्षा सूची में प्रथम स्थान पर रहीं चांदनी चयनित हो गई हैं। पूजा वर्मा सातवें स्थान पर पहुंच गईं। उन्होंने बताया कि मामले में दोषी मानते हुए मूल्यांकन एजेंसी को ब्लैक लिस्टेड कर दिया गया है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1109748
 
     
Related Links :-
योगी सरकार में अल्पसंख्‍यकों में नए मनोबल व चेतना का हुआ संचार : नंद गोपाल गुप्ता नंदी
हर्षवर्धन को इंग्लैंड के शीर्ष विश्वविद्यालय से मिली स्कॉलरशिप
उत्तर प्रदेश कैबिनेट का फैसला, अब निजी विश्वविद्यालय होंगे अनावश्यक नियंत्रण से मुक्त
यूपी में इंटरनेशनल स्किल यूनिवर्सिटी बनाने का प्रस्ताव, धर्मेंद्र प्रधान से मिले कौशल विकास मंत्री
लंबे समय से एक ही विकास खंड में कार्यरत शिक्षा अधिकारी होंगे स्थानांतरित
यूपी : असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के संशोधित रिजल्ट में टॉपर हुई फेल
गुरुवार से खुलेंगे यूपी के स्कूल, मगर बच्चों की पढ़ाई अब भी होगी ऑनलाइन
5 जुलाई से 3 अगस्त तक चलेंगी पूर्वांचल विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षाएं
कर्मचारी संघर्ष मोर्चा ने पूर्वांचल यूनिवर्सिटी के बंटवारे का किया विरोध
यूपी में ई-पाठशाला को बेहतर बनाएंगे प्रेरणा साथी, पढ़ाई के साथ फालोअप पर रहेगा जोर
 
CopyRight 2016 DanikUp.com