दैनिक यूपी ब्यूरो
11/06/2021  :  10:47 HH:MM
यूपी में ई-पाठशाला को बेहतर बनाएंगे प्रेरणा साथी, पढ़ाई के साथ फालोअप पर रहेगा जोर
Total View  571

कोरोना महामारी के कारण चौपट शिक्षा व्यवस्था को चाक चौबंद करने के उद्देश्य से बेसिक शिक्षा विभाग वालेंटियर्स आनबोर्डिंग ड्राइव की शुरूआत कर रहा है। वालंटियर 'प्रेरणा साथी' के नाम से जाने जाएंगे। इसके तहत परिषदीय विद्यालयों के बच्चों की पढ़ाई के लिए मिशन प्रेरणा की ई-पाठशाला का चौथा चरण शुरू किया जा रहा है। ई-पाठशाला के तहत मासिक पंचांग के अनुसार राज्य स्तर से कक्षावार और विषयवार शैक्षिक सामग्री प्रत्येक सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से शिक्षकों से साझा की जाएगी।

लखनऊ, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। कोरोना महामारी के कारण चौपट शिक्षा व्यवस्था को चाक चौबंद करने के उद्देश्य से बेसिक शिक्षा विभाग वालेंटियर्स आनबोर्डिंग ड्राइव की शुरूआत कर रहा है। वालंटियर 'प्रेरणा साथी' के नाम से जाने जाएंगे। इसके तहत परिषदीय विद्यालयों के बच्चों की पढ़ाई के लिए मिशन प्रेरणा की ई-पाठशाला का चौथा चरण शुरू किया जा रहा है। ई-पाठशाला के तहत मासिक पंचांग के अनुसार राज्य स्तर से कक्षावार और विषयवार शैक्षिक सामग्री प्रत्येक सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से शिक्षकों से साझा की जाएगी।
 
इसमें बच्चों की पढ़ाई के साथ उसके फालोअप पर जोर दिया जाएगा। ई-पाठशाला को प्रभावी तरीके से क्रियान्वित करने और ज्यादा से ज्यादा बच्चों की भागीदारी इसमें सुनिश्चित करने के लिए इस सामग्री को शिक्षकों द्वारा अभिभावकों, प्रेरणा साथी और बच्चों के वाट्सएप ग्रुप पर साझा किया जाएगा। साझा की गई शैक्षिक सामग्री पर बच्चों को अभ्यास और हल करने के लिए शिक्षक निरंतर प्रोत्साहित करेंगे। प्रधानाध्यापक की ओर से विद्यालय के सभी शिक्षकों, शिक्षामित्रों व अनुदेशकों के बीच बच्चों का कक्षावार और संख्यात्मक आवंटन किया जाएगा। प्रधानाध्यापक, शिक्षकों, शिक्षामित्रों और अनुदेशकों को हर सप्ताह स्वयं को आवंटित हर बच्चे या उसके अभिभावक से कम से कम एक बार फोन काल करनी होगी और उसकी पढ़ाई की प्रगति के बारे में जानकारी देनी होगी।

सभी अभिभावकों/छात्रों को दीक्षा एप के साथ उनके स्मार्टफोन में प्रेरणा लक्ष्य एप और रीड अलांग एप अपलोड करने के लिए अनुरोध किया जाएगा। उन्हें रोजाना कम से कम 20 मिनट बुनियादी शिक्षा और गणितीय कौशल पर आधारित विषयवार अभ्यास कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। हर शनिवार को वाट्सएप पर साझा की जाने वाली शैक्षिक सामग्री पर आधारित प्रश्नोत्तरी (क्विज) में भाग लेने के लिए शिक्षक छात्रों को प्रोत्साहित करेंगे। सभी प्रधानाध्यापकों द्वारा विद्यालय समुदाय से कम से कम 10 प्रेरणा साथियों को चिन्हित किया जाएगा और उन्हें विद्यालय के वाट्सएप  ग्रुप से जोड़ा जाएगा।

एक शिक्षक के साथ एक या दो वालंटियर संबंध किया जाएगा। प्रेरणा साथी के रूप में निस्वार्थ सहायता देने के लिए तत्पर यह वालंटियर स्कूली बच्चों के रिश्तेदार, पड़ोसी या ऐसे शुभचि‍ंतक हो सकते हैं, जिनके पास अपना स्मार्टफोन और इंटरनेट उपलब्ध हो। प्रेरणा साथी राज्य स्तर से भेजी गई साप्ताहिक शैक्षिक सामग्री को अपने आसपास के मोहल्ले के बच्चों को वाट्सएप  के माध्यम से साझा करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि बच्चे उसका इस्तेमाल करें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1137030
 
     
Related Links :-
लंबे समय से एक ही विकास खंड में कार्यरत शिक्षा अधिकारी होंगे स्थानांतरित
यूपी : असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के संशोधित रिजल्ट में टॉपर हुई फेल
गुरुवार से खुलेंगे यूपी के स्कूल, मगर बच्चों की पढ़ाई अब भी होगी ऑनलाइन
5 जुलाई से 3 अगस्त तक चलेंगी पूर्वांचल विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षाएं
कर्मचारी संघर्ष मोर्चा ने पूर्वांचल यूनिवर्सिटी के बंटवारे का किया विरोध
यूपी में ई-पाठशाला को बेहतर बनाएंगे प्रेरणा साथी, पढ़ाई के साथ फालोअप पर रहेगा जोर
REET 2021 : रीट परीक्षा तिथि बदलने की मांग पर शिक्षा मंत्री डोटासरा ने दिया ये बयान
चीन का साथ छोड़ रहे कई देश, भारत से कर रहे कोरोना वैक्सीन की मांग
CA Exam : ICAI की चेतावनी, धमकी भरे ईमेल भेजने वाले छात्रों पर होगी कानूनी कार्रवाई
भारतीय स्टेट बैंक ने PO के लिए निकाली बंपर वेकैंसी, जानिए कैसे कर सकते हैं अप्लाई...
 
CopyRight 2016 DanikUp.com