दैनिक यूपी ब्यूरो
09/06/2021  :  20:46 HH:MM
जनपद में मनाया गया प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस
Total View  7

इटावा जिला महिला अस्पताल में 208 महिलाओं की जांच, 26 महिलाओं में पाई गई उच्च जोखिम गर्भावस्था

इटावा, (दैनिक यूपी ब्यूरो)। जिला महिला चिकित्सालय समेत जिले के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में बुधवार को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस मनाया गया।चिकित्सालय पर पहुंची महिलाओं को आयरन की गोली के साथ चिकित्सीय एवं पोषण परामर्श भी दिए गए। इस दौरान गर्भवती महिलाओं का परीक्षण, वजन,अल्ट्रासाउंड इत्यादि किया गया। 

वहीं, महिला चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अशोक जाटव की अध्यक्षता में संपन्न कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. भगवान दास एवं विशिष्ट अतिथि डॉ. एसएस भदौरिया ने सभी गर्भवती स्त्रियों को पोषण युक्त स्वल्पाहार वितरित किया। 

इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. भगवान दास ने कहा प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस के द्वारा गर्भवती महिलाओं की अच्छे से देखरेख की जाती है। जिससे गर्भवती व उसका गर्भस्थ शिशु दोनों ही स्वस्थ रहें ,और प्रसव पूर्व जांच से उच्च जोखिम वाली गर्भावस्था की पहचान होने पर गर्भवती स्त्री को विशेष देखभाल द्वारा जोखिम पूर्ण स्थिति से बचाया जा सकता है। डॉ दास ने कहा हमारी प्राथमिकता है की शिशु और गर्भवती मां दोनों ही सुरक्षित व स्वस्थ रहें। 

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अशोक कुमार ने बताया पीएमएसएमए दिवस पर परिवार नियोजन का एक काउंटर भी स्थापित किया गया। जिसमें गर्भवती महिलाएं को प्रसव पश्चात परिवार नियोजन पर परामर्श प्रदान किया गया और महिलाओं के साथ आई तीमारदार महिलाओं को परिवार नियोजन पर परामर्श तथा सेवाएं निशुल्क प्रदान की गई। काउंटर में अस्थाई व स्थाई परिवार नियोजन विधियों पर परामर्श भी प्रदान किया गया।

जनपदीय मातृ स्वास्थ्य एवं शिशु स्वास्थ्य सलाहकार सीपी सिंह ने बताया कि जिला महिला अस्पताल सहित अन्य स्वास्थ्य इकाइयों पर भी दूसरे व तीसरे त्रैमास की सभी गर्भवती की जांच हुई। जिला महिला अस्पताल में लगभग 208 गर्भवती की रक्त, यूरिन, ब्लड प्रेशर, वजन इत्यादि की जांच हुई और हाई रिस्क प्रेगनेंसी वाली 16 गर्भवती महिलाओं की पहचान की गई। कार्यक्रम में अन्त में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक, डा० अशोक कुमार ने सभी अधिकारियो/कर्मचारियों का आभार व्यक्त किया।

पीएमएसएमए पर गर्भवती  को मिलती है यह सुविधा

समस्त गर्भवती की प्रसव पूर्व जांच जैसे हीमोग्लोबिन ,शुगर यूरिन जांच ,ब्लड ग्रुप, एचआईवी  वजन ,ब्लड प्रेशर ,अल्ट्रासाउंड सहित अन्य जांच की जाती हैं।
समस्त गर्भवती का द्वितीय व तृतीय त्रैमास में कम से कम एक बार स्त्री रोग विशेषज्ञ अथवा एलोपैथिक चिकित्सक की देखरेख में निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण किया जाता है ।
टिटनेस का टीका ,आयरन व कैल्शियम सहित अन्य आवश्यक दवाएं दी जाती हैं
हाई रिस्क प्रेगनेंसी की पहचान, प्रबंधन एवं सुरक्षित संस्थागत प्रसव हेतु प्रेरित किया जाता है।
पोषण, परिवार नियोजन तथा प्रसव स्थान के लिए काउंसलिंग भी की जाती है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2680868
 
     
Related Links :-
जनपद में मनाया गया प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस
समय से पहले बूढ़ी होती त्वचा को बचाने उपाय
माँ बनने के बाद कामकाजी महिलाओं को पदोन्नति मिलने की संभावनाओं पर लगता है विराम*
चाक टॉक नें महिलाओं ने रिस्क टेकर्स और चेंज मेकर्स विषय पर संगोष्टी
स्कूल में छात्राओं की आत्म रक्षा-सुरक्षा पर सेमिनार
मोहित मदनलाल ग्रोवर ने किया निशुल्क स्तन कैंसर जांच शिविर का आयोजन
गांव जमालपुर में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम
महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए सबसे पहला कदम रोजगार पाकर आत्मनिर्भर बनना है : मल्होत्रा
महिलाओं को स्तनपान कराने के लिए किया जागरूक
महिलाओं की सुरक्षा को लेकर जिला पुलिस पूर्ण रूप से अलर्ट महिलाओं को भी अच्छे बुरे की पहचान करके बुराई का विरोध करना चाहिए : सुनीता
 
CopyRight 2016 DanikUp.com