राजनीति केवल सरकार बनाने के लिए नहीं, समाज बनाने के लिए होनी चाहिए: राजनाथ

0
593
rajnath new10
rajnath new10

मथुरा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तुष्टीकरण की राजनीति करने के लिए समाजवादी पार्टी की कड़ी आलोचना करते हुए शनिवार को कहा कि राजनीति केवल सरकार बनाने के लिए नहीं, बल्कि समाज बनाने के लिए होनी चाहिए। सिंह ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मथुरा में भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में सभा संबोधित करते हुए कहा कि उप्र में योगी सरकार अच्छा काम कर रही है। इसके लिए योगी आदित्यनाथ निश्चित तौर पर बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी राज्य में जब कानून का शासन होता है, तभी वहां विकास सम्भव होता है और उत्तर प्रदेश में भी ऐसा ही है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी तुष्टीकरण की राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा, हमारा मानना है कि राजनीति केवल सरकार बनाने के लिए नहीं, बल्कि समाज बनाने के लिए होनी चाहिए। भाजपा समाज निर्माण करती है। लोगों को एकजुट करने का काम करती है। विकास के काम को लेकर कोई भेदभाव नहीं करती है। भाजपा को जाति और मजहब की राजनीति स्वीकार नहीं है। जिला मुख्यालय से करीब तीस किमी दूर बलदेव विधान सभा क्षेत्र प्रत्याशी पूरन प्रकाश के समर्थन में आयोजित सभा में उन्होंने कहा, उत्तर प्रदेश में योगी सरकार अच्छा काम कर रही है। इसके बारे में ज्यादा कुछ बताने की जरूरत नहीं है, क्योंकि, इन दिनों यहां गुण्डे, माफिया जेल में हैं।

उन्होंने कहा कि जहां तक बात यहां के विकास की है, तो यह समझने की जरूरत है विकास की बस एक शर्त होती है कि कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त रखी जाए और यह योगी आदित्य नाथ ने बहुत अच्छे तरीके से कायम की है। रक्षा मंत्री ने चीन-विवाद के संदर्भ में कांग्रेस द्वारा लोकसभा में उठाए गए प्रश्न का जिक्र करते हुए कहा, गलवां घाटी में भारत और चीन के जवानों के बीच हुई झड़प पर सवाल उठाने वालों को जान लेना चाहिए कि हमारे 20 जवानों के मुकाबले वहां चीन के 38 से 50 जवान मारे गए थे। इस तथ्य को चीन ने भले ही पूरी तरह स्वीकार न किया हो, परंतु वे यह जरूर मान चुके हैं कि उनका नुकसान हमसे कहीं ज्यादा हुआ था। कुछ यही रिपोर्ट अमेरिकी एजेंसी ने भी दी थी।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के कार्यकाल में अंतरराष्ट्रीय जगत में भारत का मान-सम्मान बढ़ा है। पहले दुनिया हमारी बातों को गंभीरता से नहीं लेती थी, लेकिन अब दावे के साथ कह सकता हूं कि आज का भारत कमजोर नहीं है। अब पूरी दुनिया भारत की बात कान खोलकर सुनती है। समझती है कि भारत बोल रहा है, तो इसका कोई मतलब होता है। दुनिया की कोई ताकत हमारी तरफ आंख उठाने की जुर्रत करेगी तो हम इस पार ही नहीं, बल्कि (सीमा के) उस पार जाकर भी जवाब दे सकते हैं। उन्होंने कहा, राजनीतिक पार्टियों को बात समझ नहीं आ रही है। भारत की सीमाएं सुरक्षित हैं। जवानों के बुलंद हौसले देखता हूं, तो पूरी तरह आश्वस्त होता हूं कि दुनिया की कोई भी ताकत भारत के मान-सम्मान और स्वाभिमान को चोट नहीं पहुंचा सकती।

Previous articleयूपी की 50 से 60 सीटों पर शिवसेना उतारेगी अपने उम्मीदवार, शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने किया ऐलान
Next articleभारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पहुंचे शामली, किसानों के हित के लिए उठाई आवाज़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here