कानपुर हिंसा मामला पुलिस एवं खुफिया तंत्र की विफलता का सबूत : मायावती

0
184

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने कानपुर के बेकनगंज इलाके में दो गुटों के बीच शुक्रवार को हुई हिंसक पथराव की घटना को पुलिस एवं खुफिया तंत्र की विफलता बताया है। मायावती ने शनिवार को ट्वीट कर कहा, मा. राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री जी के यूपी दौरे के दौरान ही कानपुर में दंगा व हिंसा भड़कना अति-दुःखद, दुर्भाग्यपूर्ण व चिंताजनक तथा पुलिस खुफिया तंत्र की भी विफलता का द्योतक।

सरकार को समझना होगा कि शान्ति व्यवस्था के अभाव में प्रदेश में निवेश व यहां का विकास कैसे संभव। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, सरकार इस घटना की धर्म, जाति व दलगत राजनीति से ऊपर उठकर स्वतंत्र व निष्पक्ष उच्च-स्तरीय जांच कराकर दोषियों के विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करे ताकि ऐसी घटना आगे न हो। साथ ही, लोगों से शान्ति व कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए उत्तेजक भाषणों आदि से बचने की भी अपील। गौरतलब है कि कानपुर देहात क्षेत्र में कल राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल और मुख्यमंत्री मौजूद थे। उसी समय कानपुर में दो गुटों के बीच हिंसक झड़प हो गयी। विपक्ष इस घटना को सरकारी तंत्र की विफलता बताते हुए इसे प्रदेश की लचर कानून व्यवस्था का सबूत बता रहा है।

Previous articleकानपुर हिंसा पर सीएम योगी सख्त, अमन-चैन खराब करने वालों के साथ सख्ती से निपटने का निर्देश
Next articleहापुड़ में हादसा: केमिकल फैक्ट्री का बॉयलर का फटने से आठ मजदूर जिंदा जले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here