भाजपा ने राज्यसभा चुनाव के लिए घोषित किए उम्मीदवार, लक्ष्मीकांत, राधा मोहन समेत छह के नाम पर लगी मुहर

0
252

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए अपनी परंपरागत गोरखपुर सदर सीट छोड़ने वाले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल को पार्टी ने राज्यसभा चुनाव में अपना उम्मीदवार बनाया है। पार्टी ने रविवार को उत्तर प्रदेश से कुल छह उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की। अग्रवाल 2002 से लगातार गोरखपुर सदर सीट से विधायक चुने जाते रहे हैं लेकिन हाल में हुए विधानसभा चुनाव में उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए अपनी सीट छोड़ दी थी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषित उम्मीदवारों को शुभकामनाएं देते हुए एक ट्वीट में कहा, भारतीय जनता पार्टी द्वारा उच्च सदन राज्यसभा (द्विवार्षिक) के सदस्य पद के लिए आज घोषित हुए समस्त प्रत्याशियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। जय हो-विजय हो! भाजपा नेतृत्व ने अग्रवाल के अलावा पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेई, मौजूदा राज्यसभा सदस्य सुरेंद्र सिंह नागर, बाबूराम निषाद, दर्शना सिंह और संगीता यादव को भी राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया है। बाबूराम निषाद वर्तमान में उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम के अध्यक्ष हैं। दर्शना सिंह भाजपा की महिला इकाई की प्रदेश अध्यक्ष रह चुकी हैं। वहीं, संगीता यादव गोरखपुर जिले की चौरी चौरा विधानसभा सीट से विधायक रह चुकी हैं। उत्तर प्रदेश विधानसभा के हाल में संपन्न चुनाव में भाजपा ने 255 सीट जीती थी जबकि उसके सहयोगी अपना दल सोनेलाल को 12 तथा निषाद पार्टी को छह सीटों पर कामयाबी हासिल हुई थी।

मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) ने 111 सीटों पर जीत हासिल की थी जबकि उसके सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल को आठ तथा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को छह सीटें मिली थीं। उत्तर प्रदेश विधानसभा में कुल 273 विधायकों के साथ भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) अपने आठ उम्मीदवारों को आसानी से राज्यसभा का चुनाव जिता सकता है।

वहीं कुल 125 विधायकों वाले सपा गठबंधन के पास अपने तीन उम्मीदवारों को जिताने लायक संख्या बल है। उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के लिए कुल 31 सदस्य चुने जाते हैं जिनमें से 11 सदस्यों का चुनाव हो रहा है। इसके लिए मतदान आगामी 10 जून को होगा। जिन 11 सीटों के लिए चुनाव हो रहा है उनमें से भाजपा के पांच, सपा के तीन, बहुजन समाज पार्टी के दो तथा कांग्रेस के एक सदस्य का कार्यकाल जुलाई में समाप्त हो रहा है। निर्वाचन आयोग के मुताबिक राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 मई है। एक जून को नामांकन पत्रों की जांच होगी और तीन जून तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। मतदान 10 जून को पूर्वाह्न नौ बजे से शाम चार बजे तक होगा। उसी दिन मतगणना भी होगी।

Previous articleयूपी में फिर गरजा बुलडोजर, कुशीनगर में दो मंजिला मकान किया ध्वस्त
Next articleराज्यसभा चुनाव: जयंत चौधरी ने दाखिल किया राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here