बांदा नाव हादसा: तीसरे दिन सात और शव बरामद, बाकी की अभी भी तलाश

0
153

फतेहपुर जिले में दो दिन पहले नौका पलटने से जिन 17 लोगों के डूबने की आशंका थी उनमें से सात के शव शनिवार को जिले में यमुना नदी से निकाले गए। पुलिस ने यह जानकारी दी। इन शवों के बरामद होने के साथ ही बृहस्पतिवार को बांदा जिले के समगरा गांव में हुई त्रासदी में अब तक 10 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इनमें एक शव राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की टीम मरका ले गयी। पुलिस के अनुसार, फिलहाल शवों की शिनाख्त की कोशिश की जा रही है।

फतेहपुर जिले के किशनपुर थाना के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) संजय तिवारी ने शनिवार को बताया, थाना क्षेत्र में यमुना से सात शव बरामद किए गए हैं, इनमें एक शव एनडीआरएफ की टीम मरका ले गयी है। छह शव थाना परिसर में रखे हैं, जिनकी शिनाख्त करने की कोशिश की जा रही है। ये शव घटनास्थल से करीब 15-20 किलोमीटर दूर बरामद हुए हैं।

उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार को बांदा जिले के मरका थाना क्षेत्र के समगरा गांव के घाट से 30 से अधिक लोग नौका में सवार होकर यमुना नदी पार कर फतेहपुर जिले के कौहन घाट जा रहे थे, तभी बीच जलधारा में नौका डूब गई थी। बांदा के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अभिनंदन ने शुक्रवार शाम बताया था कि तीन शव पहले ही बरामद हो चुके थे। नौका में सवार 13 लोग तैरकर बाहर निकल आये और 17 लोग लापता हैं, जिनकी खोज में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ टीम लगी हुई हैं।

Previous articleसहारनपुर में सड़क हादसा: दो बाइक सवारों की आमने-सामने टक्कर, दोनों की मौत
Next articleबुलंदशहर में प्रेमिका ने फांसी लगाकर खुदकुशी की, जहर खाने से प्रेमी की हालत नाजुक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here