दैनिक यूपी ब्यूरो
29/05/2016  :  17:53 HH:MM
लखनऊ प्राणि उद्यान को आईएसओ 9001 से नवाजा गया
Total View  304

लखनऊ में स्थित नवाब वाजिद अली शाह प्राणि उद्यान को आईएसओ 9001 सर्टिफिकेट से नवाजा गया है।

लखनऊ
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्थित नवाब वाजिद अली शाह प्राणि उद्यान को आईएसओ 9001 सर्टिफिकेट से नवाजा गया है।आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि इस तरह के सर्टिफिकेट देश के कुछ चुनिन्दा प्राणि उद्यानों को ही प्राप्त है।यह सर्टिफिकेट किसी भी क्षेत्र में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर उन्हीं संस्थाओं को दिया जाता है जो अपने क्षेत्र में उच्च गुणवत्ता के मानकों के साथ अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के पैमानों को भी पूरा करती है।सूत्रों ने बताया कि प्रदेश में क्लीन यूपी - ग्रीन यूपी के तहत प्राणि उद्यान को दर्शकों के लिए और आकर्षक ढंग से तैयार किया जा रहा है।पिछले कुछ समय से प्राणि उद्यान में वन्य जीवों के बेहतर प्रबन्धन, उनके स्वास्थ्य एवं सुरक्षा, दुर्लभ वन्य जीवों की ब्रीडिंग, दर्शकों के लिए सुख-सुविधा के लगातार प्रयास किये जा रहे हैं।उन्होंने बताया कि वर्ष 2015 प्राणि उद्यान के इतिहास में एक दिन में (ईद के अगले दिन) सर्वाधिक 25000 से अधिक दर्शक प्राणि उद्यान घूमने आये।इससे पहले एक दिन में 21000 दर्षकों का प्राणि उद्यान घूमने का रिकार्ड था।ईद के अवसर पर 03 दिनों में लगभग 50,000 दर्शक आये जो कि एक रिकार्ड है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3983613
 
     
Related Links :-
*नि:शुल्क बोरिंग के साथ जरूरी होगा ड्रिप या स्प्रिंकलर: मुख्यमंत्री
गोरखपुर में 121 एकड़ में बनेगा चिड़ियाघर, योगी कैबिनेट में हुए 6 प्रस्ताव पास*
पहली बार बटाईदार भी होंगे सीएम कृषक दुघर्टना बीमा के लाभार्थी: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
जिस जमीन पर हुई मोदी की सभा वहीं हो रही योगी राज में अवैध कब्जे की कोशिश
डाॅ राममनोहर लोहिया चिकित्सालय में निःशुल्क कम्बल बैंक का शुभारंभ
महिलाओं और बच्चों को शीघ्र न्याय दिलाने के लिए बनेंगे 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट*
कैबिनेट में 34 प्रस्तावों पर लगी मुहर, डिफेंस कॉरिडोर में निवेश करने वाली कम्पनियों को जमीन पर मिलेगी 25 प्रतिशत की सब्सिडी
गीता प्रेरणा महोत्सव का आयोजन एक दिसंबर को - घर - घर गीता का संदेश पहुंचाने का अभियान
पिछली सरकारें चीनी मिलों को बेचती एवं बंद कराती थीं, हम नई मिलें लगाते और रोजगार देते हैं: योगी आदित्यनाथ*
अगले वर्ष गोरखपुर में खाद कारखाने की होगी शुरुआत
 
CopyRight 2016 DanikUp.com