दैनिक यूपी ब्यूरो
08/10/2021  :  12:06 HH:MM
यूपी में विद्युत अभियंताओं का कार्य बहिष्कार जारी, समाधान के लिए ऊर्जा मंत्री से हस्तक्षेप की मांग
Total View  645

उत्तर प्रदेश के विद्युत अभियंताओं ने गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी एक घंटे का कार्य बहिष्कार करने का फैसला किया है। दरअसल, अपनी समस्याओं का समाधान न होने व पावर कारपोरेशन प्रबंधन की कार्यवाहियों के विरोध में बिजली अभियंता कार्य बहिष्कार कर रहे हैं। इस संबंध में सभी जिला मुख्यालयों, परियोजनाओं सहित शक्तिभवन पर विरोध सभाएं की गई।अभियंता संघ ने अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए ऊर्जा मंत्री व मुख्यमंत्री से प्रभावी हस्तक्षेप करने की अपील की है।

लखनऊ,(दैनिक यूपी ब्यूरो)। उत्तर प्रदेश के विद्युत अभियंताओं ने गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी एक घंटे का कार्य बहिष्कार करने का फैसला किया है। दरअसल, अपनी समस्याओं का समाधान न होने व पावर कारपोरेशन प्रबंधन की कार्यवाहियों के विरोध में बिजली अभियंता कार्य बहिष्कार कर रहे हैं। इस संबंध में सभी जिला मुख्यालयों, परियोजनाओं सहित शक्तिभवन पर विरोध सभाएं की गई।अभियंता संघ ने अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए ऊर्जा मंत्री व मुख्यमंत्री से प्रभावी हस्तक्षेप करने की अपील की है। 

अभियंता संघ के महासचिव प्रभात सिंह ने बताया कि बिजली अभियंता बेहतर उपभोक्ता सेवा देने व राजस्व वसूली बढ़ाने के लिए जुटे हैं, किंतु कारपोरेशन प्रबंधन की कार्यशैली से सभी परेशान हैं। वितरण व पारेषण क्षेत्रों व विद्युत उत्पादन गृहों पर आवश्यक सामग्री उपलब्ध नहीं है, वहीं लंबित समस्याओं का समाधान न होने से व लगातार हो रही उत्पीडऩ की कार्यवाहियों से नाराजगी है। विद्युत अभियंता संघ के अध्यक्ष वीपी सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर आगामी त्योहारों में प्रदेश की जनता को निर्बाध बिजली आपूर्ति कराने का अनुरोध किया है। 11 अक्टूबर से दो घंटे का कार्यबहिष्कार होगा।

16वें दिन भी पावर आफीसर्स एसोसिएशन ने किया ज्यादा कामः उत्तर प्रदेश पावर आफीसर्स एसोसिएशन के सदस्य 16 दिनों से तय समय से एक घंटा अधिक काम करते आ रहे हैं। इसीलिए प्रदेश में विद्युत आपूर्ति सामान्य है, कुछ जगहों पर व्यवधान थे जिसे अभियंताओं ने ठीक कर उपभोक्ताओं को अच्छी सेवा दी है। एसोसिएसन के कार्यवाहक अध्यक्ष अवधेश कुमार वर्मा, उपाध्यक्ष एसपी सिंह, महासचिव अनिल कुमार ने सभी अभियंताओं को निर्देश दिया है कि वे बिजली कंपनियों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए किसी भी स्तर पर फिजूलखर्ची से बचें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1128966
 
     
Related Links :-
राकेश टिकैत का एलान : तत्काल वापस नहीं होगा किसान आंदोलन, संसद में रद्द होने तक करेंगे इंतजार
बड़े दल से गठबंधन कर लड़ेंगे यूपी विधानसभा चुनाव : शिवपाल सिंह यादव
शिक्षकों की लंबित समस्याओं के निराकरण तक जारी रहेगा आंदोलन : अमित सिंह
जन शिकायतों के निस्तारण में तेजी लाएं अधिकारी : डीएम
दशहरा पर शिक्षकों का वेतन न मिलना सरकार की असंवेदनशीलता : सुशील पांडेय
लखीमपुर में शहीद किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए निकाला गया कैंडल मार्च
सरकार की खामियों के चलते यूपी में बंद हुए 14 पावर प्लांट : शैलेंद्र यादव
सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को फटकारा, पूछा- ये क्या रवैया है? आपकी कार्रवाई से हम संतुष्ट नहीं
यूपी में विद्युत अभियंताओं का कार्य बहिष्कार जारी, समाधान के लिए ऊर्जा मंत्री से हस्तक्षेप की मांग
सपा से गठबंधन नही हुआ तो सभी 403 सीटों पर चुनाव लड़ेगी प्रसपा : शिवपाल
 
CopyRight 2016 DanikUp.com