दैनिक यूपी ब्यूरो
28/03/2021  :  16:07 HH:MM
तीन जगहों पर चल रहा जन्मदिन मनाने का अनूठा अभियान प्रसादम
Total View  38

अस्पताल के बाहर मरीजों के सहायको के साथ केक काटना, उन्हें खाना खिलाकर खुशियां साझा करना,जन्मदिन मनाने का ये अनूठा अभियान संस्था आओ साथ चलें के प्रसादम कार्यक्रम के तहत चल रहा है। प्रसादम अभियान से जुड़े व्यक्ति का जिस दिन जन्मदिन होता है अस्पताल के बाहर का भोज कार्यक्रम उसकी तरफ से ही होता है। बड़ी संख्या में इस अभियान से लोग जुड़ रहे हैं। संस्था के राष्ट्रीय संयोजक विष्णु मित्तल इस प्रेरणादायक अभियान में लगातार लोगों को जोड़ रहे हैं। उनका कहना है कि मंदिर, गुरुद्वारे में इस तरह के कार्यक्रम चलते हैं। लेकिन अस्पताल इलाज कराने आये लोगों और उनके तीमारदारों को कई बार भोजन का इंतजाम न होने की वजह से भूखा रहना पड़ता है। प्रसादम इन लोगों की चिंता करते हुए शुरू किया गया है। राजस्थान के कोटपूतली के बाद दिल्ली के आरएमएल अस्पताल और लेडी हार्डिंग अस्पताल में ये कार्यक्रम सफलतापूर्वक चल रहा है।

दैनिक यूपी। अंजना शर्मा
अस्पताल के बाहर मरीजों के सहायको के साथ केक काटना, उन्हें खाना खिलाकर खुशियां साझा करना,जन्मदिन मनाने का ये अनूठा अभियान संस्था आओ साथ चलें के प्रसादम कार्यक्रम के तहत चल रहा है। प्रसादम अभियान से जुड़े व्यक्ति का जिस दिन जन्मदिन होता है अस्पताल के बाहर का भोज कार्यक्रम उसकी तरफ से ही होता है। बड़ी संख्या में इस अभियान से लोग जुड़ रहे हैं। संस्था के राष्ट्रीय संयोजक विष्णु मित्तल इस प्रेरणादायक अभियान में लगातार लोगों को जोड़ रहे हैं। उनका कहना है कि मंदिर, गुरुद्वारे में इस तरह के कार्यक्रम चलते हैं। लेकिन अस्पताल इलाज कराने आये लोगों और उनके तीमारदारों को कई बार भोजन का इंतजाम न होने की वजह से भूखा रहना पड़ता है। प्रसादम इन लोगों की चिंता करते हुए शुरू किया गया है। राजस्थान के कोटपूतली के बाद दिल्ली के आरएमएल अस्पताल और लेडी हार्डिंग अस्पताल में ये कार्यक्रम सफलतापूर्वक चल रहा है।
दिल्ली भाजपा के कोषाध्यक्ष व आओ साथ चलें के राष्ट्रीय संयोजक विष्णु मित्तल और दीन दयाल उपाध्याय शोध संस्थान के महामंत्री अतुल जैन ने मरीजों के साथ आये लोगों को भोजन वितरित करके लेडी हार्डिंग का अभियान शुरू किया था।  अभियान के तहत अस्पताल में मरीजों के साथ आये तीमारदारों को हर दिन गेट के बाहर निशुल्क भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। अस्पताल के बाहर हर दिन 250 लोगों को पूर्व वितरित टोकन के आधार पर पके हुए खाने का पैकेट वितरित किया जाता है। खाने का मैन्यू हर रोज बदलता है।  
संस्था के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली भाजपा के कोषाध्यक्ष विष्णु मित्तल ने बताया कि लेडी हार्डिंग में शुरू हुआ अभियान संस्था के प्रसादम कार्यक्रम का अगला पड़ाव है। संस्था कोई भूखा न रहे मिशन के तहत लगातार अपनी गतिविधियों का विस्तार कर रही है। इस अभियान की सबसे बड़ी खूबी ये है कि लोग इसमे जुड़कर अपना जन्मदिन मनाते हैं। जिस दिन अभियान से जुड़े सहभागी का जन्मदिन होता है उस दिन के खाने का खर्च वह स्वयं वहन करता है। संस्था किसी भी तरह से सरकारी सहयोग नही लेती।
संस्था के प्रसादम अभियान से लगातार लोग जुड़ रहे हैं। कई लोग अस्पताल के बाहर आकर भोजन वितरण कार्यक्रम में ही लोगो के साथ अपना केक काटते हैं। 
संस्था कई और अस्पतालों के बाहर इस अनूठी पहल का विस्तार करना चाहती है। विष्णु मित्तल ने कहा कि जैसे जैसे लोग जुड़ते जाएंगे इसका दायरा बढ़ता जाएगा। अस्पताल के बाहर जरूरतमंद लोगों के साथ मिलकर जन्मदिन मनाने की पहल का आमलोगों,उद्यमियों, डॉक्टर्स सहित समाज के विभिन्न वर्गों का समर्थन मिल रहा है। कार्यक्रम को संचालित करने वाले विष्णु मित्तल आओ साथ चलें के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के कोषाध्यक्ष भी हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4403975
 
     
Related Links :-
पीएम किसान सम्मान निधि की 8वीं किस्त के लिए फौरन चेक करें स्टेटस, अगर लिखा है ऐसा तो जरूर मिलेगा पैसा
KCC बनवाने के लिए आपके पास केवल 4 दिन का है मौका, आसानी से मिलता है 3 लाख रुपये तक का कर्ज 4 फीसद ब्याज पर
किसानों को बड़ी राहत: केंद्र सरकार ने खाद कंपनियों को कीमत नहीं बढ़ाने का दिया आदेश
RT-PCR में निगेटिव होने के बाद भी हो सकते हैं कोरोना पॉजिटिव, गुजरात में सामने आ रहे ऐसे कई केस
दिल्ली में एक दिन में 1881 मामले, कोरोना ने पकड़ी रफ्तार
तीन जगहों पर चल रहा जन्मदिन मनाने का अनूठा अभियान प्रसादम
एक डॉगी के मरने पर आ जाता है शोक संदेश, 250 किसानों की मौत पर चुप्पी: सत्यपाल मलिक
यूपीः पंचायत चुनावों के लिए चौपाल से पहले भाजपा प्रदेश कार्यसमिति के सदस्यों की घोषणा, मोदी-राजनाथ स्थायी आमंत्रित सदस्य
संपत्ति उत्तराधिकार के नियम सबके लिए समान क्यों नहीं, SC का केंद्र को नोटिस
केंद्र सरकार ने सदन में माना- अनुमान के अनुरूप नहीं मिल पाता है रक्षा बजट
 
CopyRight 2016 DanikUp.com