दैनिक यूपी ब्यूरो
14/01/2021  :  23:44 HH:MM
यूपी पंचायत चुनाव : फाइनल वोटर लिस्ट बनने से पहले मिलीं गड़बड़ियां, कई पर एक्शन
Total View  50

यूपी में पंचायत चुनाव की तैयारियां जोरों पर हैं। 22 जनवरी को फाइनल वोटर लिस्ट जारी हाेनी है। इस समय सभी जिलों में इसी का काम तेजी से चल रहा है। प्रशासन ने पहले एक वोटर लिस्ट जारी करके उसपर आपत्तियां मांगी थी।

लखनऊ | यूपी में पंचायत चुनाव की तैयारियां जोरों पर हैं। 22 जनवरी को फाइनल वोटर लिस्ट जारी हाेनी है। इस समय सभी जिलों में इसी का काम तेजी से चल रहा है। प्रशासन ने पहले एक वोटर लिस्ट जारी करके उसपर आपत्तियां मांगी थी। अब उन आपत्ति का निस्तारण किया जा रहा है। ऐसे में फाइनल वोटर लिस्ट बनने से पहले कई जिलाें में गड़बडि़यां सामने आई हैं। लापरवाही बरतने के आरोप में कई बीएलओ पर जिला प्रशासन की ओर से कार्रवाई भी की जा रही है। 
कुशीनगर में स्कूली बच्चाें को बना दिया वोटर : 
कुशीनगर के फाजिलनगर विकास खंड के सुमही बुजुर्ग गांव की मतदाता सूची में बीएलओ ने सैकडों फर्जी नाम जोड़ दिए। इसके लिए आधार कार्ड के फर्जी नंबरों की फीडिंग करा दी। शिकायत पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कसया ने लेखपालों को लगाकर जांच करायी तो फर्जीवाड़ा पकड़ा गया। प्रथम दृष्टया दोषी पाये जाने के बाद संयुक्‍त मजिस्ट्रेट ने दो बीएलओ को बर्खास्त करते हुए कार्रवाई का आदेश दिया है। उन्‍होंने खंड विकास अधिकारी फाजिलनगर से पूरे प्रकरण में विस्तृत जांच रिपोर्ट मांगी है। इस मामले में सुमही बुजुर्ग निवासी मधुबन सिंह, शेषनाथ मिश्र व सुनील कुमार सिंह ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कसया को प्रार्थना पत्र देकर शिकायत की थी कि उनके गांव में बीएलओ ने चौदह वर्ष से लेकर सत्रह साल तक के सैकड़ों बच्‍चों को भी मतदाता बना दिया है। मतदाता सूची में स्‍कूल में पढ़ने वाले नाबालिग बच्‍चों की भरमार है। आरोप यह भी लगाया गया कि उक्त बीएलओ अपनी पत्नी को चुनाव लड़ाना चाहता है। बीते चुनाव में वह ग्राम प्रधान पद का प्रत्याशी भी रह चुका है। बीएलओ द्वारा अपने मजरे के तीन वार्डों से करीब चार सौ नए मतदाताओं का नाम निर्वाचक नामावली में जोड़ दिया गया है। इनमे कई नाम पड़ोसी गांव और पड़ोसी प्रदेश बिहार के हैं। इसके लिए बीएलओ ने आधार कार्ड नंबरों की फर्जी फीडिंग कराई है। यह आरोप सामने आने के बाद उपजिलाधिकारी ने बीते सप्ताह आरोपी बीएलओ को हटाकर नए की नियुक्ति कर दी। इसके बावजूद आरोपी बीएलओ ने नए बीएलओ को झांसे में लेकर अपना काम जारी रखा था। 
बलिया में गांव की संख्या से ज्यादा वोटर :
बलिया में सीयर ब्लॉक के समसुद्दीनपुर गांव में मतदाता सूची में भी गड़बड़ी मिली। डीपीआरओ ने बताया कि समसुदीनपुर में निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने मतदाता सूची से संबंधित जानकारी ली। इस दौरान लिस्ट में गड़बड़ी करने का प्रयास सामने आने लगा। इस पर और गहन पूछताछ की। यह भी सामने आया कि गांव में जनसंख्या से अधिक मतदाता हो गए थे। मुख्य विकास अधिकारी विपिन कुमार जैन ने विकास खंड सीयर के एडीओ पंचायत संजय सिंह, खण्ड प्रेरक आनंद यादव व समसुद्दीनपुर के सफाईकर्मी जन्मेजय यादव को इस कार्य से हटाने के निर्देश दिए थे। इसके साथ ही इन सभी पर विभागीय कार्रवाई सुनिश्चित कराने के निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी शशिकांत पांडेय को दिए।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4539191
 
     
Related Links :-
पांच साल की नौकरी में साढ़े तीन साल तक छुट्टी पर रही टीचर, फिर भी ले ली पूरी सैलरी
यूपी पंचायत चुनाव : ग्राम प्रधान इलेक्शन में जीत के लिए बीजेपी ने बदली रणनीति
यूपी में मेधावी छात्राओं के नाम पर होगा गांव का एक तालाब, सीएम योगी ने दिए निर्देश
भू-माफियाओं से यूपी में मुक्त कराई गई 67000 हेक्टेयर जमीन, सीएम योगी बोले-बना रहे खेल मैदान
खाप चौधरियों से मिलने गए भाजपा नेताओं का शामली में विरोध, ट्रैक्टर लगाकर रोका काफिला
मायावती को झटका: बसपा के बागी विधायकों ने सदन में अलग बैठने की इजाजत मांगी
उन्‍नाव केस: दोनों लड़कियों का पोस्‍टमार्टम पूरा, जहर मिला खाना खाने से हुई मौत, शरीर पर नहीं मिले चोट के निशान
यूपी पंचायत चुुनाव : तारीख की घोषणा से पहले नामांकन से जुड़ा यह काम शुरू
यूपी पंचायत चुनाव : आरक्षण जारी होते ही कई ग्राम प्रधान पद के दावेदारों को झटका
अपहरण के मामले में अमनमणि त्रिपाठी पर शिकंजा, कुर्की की कार्यवाही से पहले नोटिस और गिरफ्तारी वारंट जारी
 
CopyRight 2016 DanikUp.com