दैनिक यूपी ब्यूरो
11/11/2020  :  23:03 HH:MM
रोहित विराट से बेहतर कप्तान, अगर नहीं मिली सीमित ओवरों की कमान तो यह टीम का दुर्भाग्य होगा: गौतम गंभीर
Total View  533

गौतम गंभीर ने कहा कि रोहित शर्मा ने खुद को साबित किया है। उन्होंने पांच बार अपनी टीम को आईपीएल की ट्रोफी जितवाई है। उन्होंने कहा कि सीमित ओवरों की कप्तानी रोहित को मिलनी चाहिए।

 नई दिल्ली, 'देखिए' अब अगर रोहित शर्मा हिंदुस्तान के कप्तान नहीं बने तो यह हिंदुस्तान का दुर्भाग्य है। रोहित शर्मा का नहीं' यह बात टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज और अपनी कप्तानी में कोलकाता नाइट राइडर्स को दो बार चैंपियन बनाने वाले गौतम गंभीर ने कही।

मंगलवार को इंडियन प्रीमियर लीग 2020 के फाइनल में मुंबई इंडियंस ने दिल्ली कैपिटल्स को हराकर पांचवीं बार खिताब पर कब्जा किया। रोहित की कप्तानी में मुंबई इंडियंस की टीम ने एक बार फिर ट्रोफी पर कब्जा किया। गंभीर का मानना है कि सीमित ओवरों के प्रारूप में भारतीय टीम के उपकप्तान रोहित को अब कप्तान बनाने का समय रहा है।

गंभीर ने कहा कि अगर कोई खिलाड़ी पांच बार आईपीएल की ट्रोफी जीतता है तो आप क्या कहेंगे। गंभीर ने कहा कि बेशक एक कप्तान उतना ही अच्छा होता है जितनी अच्छी उसकी टीम होती है, इस बात में कोई संदेह नहीं लेकिन आखिर एक कप्तान को परखने का क्या पैमाना होता है।

गंभीर ने कहा, 'आपको किसी को परखने का पैमाना एक ही रखना होगा। अगर हम धोनी को भारत का सबसे सफल कप्तान कहते हैं, जो कि वह हैं, तो वह इसी आधार पर कहते हैं कि उन्होंने दो वर्ल्ड कप जीते हैं और दो आईपीएल जीते हैं। रोहित ने पांच बार आईपीएल जीता है। तो अगर आगे जाकर उन्हें वाइट बॉल की कप्तानी या टी20 क्रिकेट की कप्तानी नहीं मिलती तो यह शर्म की बात है। क्योंकि इससे ज्यादा रोहित शर्मा कुछ नहीं कर सकते। वह सिर्फ जिस टीम की कप्तानी कर रहे हैं उसे जीत दिला सकते हैं।'

क्रिकइंफो के साथ बातचीत में गंभीर ने अलग प्रारूप के लिए अलग कप्तान की बात भी कहे। उन्होंने कहा कि लोग कह सकते हैं कि रोहित गलत वक्त पर थे उस समय विराट कोहली कप्तानी कर रहे थे। गंभीर ने कहा, 'आप अलग प्रारूप में अलग कप्तान रख सकते हैं। इसमें कोई खराबी नहीं है। गंभीर ने कहा कि रोहित ने साबित किया है कि वाइट बॉल कप्तानी में उनकी और विराट कोहली की कप्तानी में कितना फर्क है। एक खिलाड़ी पांच बार आईपीएल की ट्रोफी जीतता है और दूसरा एक बार भी नहीं जीत पाया है।'

गंभीर ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, 'विराट कोहली खराब कप्तान नहीं हैं लेकिन विराट और रोहित को एक ही मंच मिला है वहां रोहित ने खुद को बेहतर साबित किया है।' विराट की पूरी तरह विदाई का समय गया है। जब खिलाड़ी खेल के ऊपर बिजनेस को महत्व देगा तो वह स्वभाविक खेल नहीं खेल पाएगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6261034
 
     
Related Links :-
ठंड में पालक की कढ़ी खाने के फायदे जानकर भूल जाएंगे सूप!
भारत ने आस्ट्रेलिया को ऐसे मारा, जैसे किसी को बोरे में बंद करके मारते हैं : शोएब अख्तर
BCCI के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में हो सकता है बड़ा बदलाव
जहीर ने बताया भारत-ऑस्ट्रेलिया मुकाबले में कौन साबित होगा 'तुरुप का इक्का'
भारत-इंग्लैंड मैच से ऑडियंस की हो सकती है स्टेडियम में वापसी, ईसीबी ने जारी किया 2021 का शेड्यूल
भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट पर कोरोना का साया, South Australia बॉर्डर सील
रोहित विराट से बेहतर कप्तान, अगर नहीं मिली सीमित ओवरों की कमान तो यह टीम का दुर्भाग्य होगा: गौतम गंभीर
आईपीएल में चीनी स्पांसर पर बिफरा कैट, बीसीसीआई को बताया पैसों का भूखा
विशेज एंड ब्लेसिंग्स ने वंचित बच्चों के संग मनाया राष्ट्रीय खेल दिवस
बच्चों ने वार्म अप सेशन के दौरान जमकर मौज मस्ती की
 
CopyRight 2016 DanikUp.com