दैनिक यूपी ब्यूरो
04/08/2020  :  19:44 HH:MM
अंबानी का टेलिकॉम कारोबार खरीदेगी दिल्ली की यह अंजान कंपनी!
Total View  81

आरकॉम के लेंडरों ने यूवी एसेट रिजॉल्यूशन (यूवीएआरसीएल) और जियो की समाधान योजनाओं को मंजूरी दी है। इन दोनों ही कंपनियों को आरकॉम की एसेट्स को खरीदने का प्रबल दावेदार माना जा रहा है।

नई दिल्ली, अनिल अंबानी  के टेलिकॉम बिजनस बिकने के कगार पर है। एनसीएलटी बुधवार को रिलायंस कम्युनिकेशंस और उसकी सहायक कंपनियों की समाधान योजना पर सुनवाई करेगी। आरकॉम के लेंडरों ने यूवी एसेट रिजॉल्यूशन (यूवीएआरसीएल) और जियो की समाधान योजनाओं को मंजूरी दी है। इन दोनों ही कंपनियों को आरकॉम की एसेट्स को खरीदने का प्रबल दावेदार माना जा रहा है।

आरकॉम (RCom) के भविष्य को लेकर चल रही अटकलों के बीच दिल्ली की एक अंजान कंपनी यूवीएआरसीएल को लेकर इंडस्ट्री और मीडिया में दिलचस्पी बढ़ गई है। यह कंपनी देश में दबावग्रस्त टेलिकॉम एसेट्स के लिए लगाई जाने वाली बोली में अहम किरदार बनकर उभरी है।

यूवीएआरसीएल का सफर

यूवीएआरसीएल ने आरकॉम और उसकी सहायक कंपनी रिलायंस टेलिकॉम को खरीदने के लिए 16000 करोड़ रुपये की बोली लगाई है। इन कंपनियों के पास स्पेक्ट्रम और डेटा सेंटर है। दूसरी ओर रिलायंस इन्फ्राटेल अनिल अंबानी के बड़े भाई मुकेश अंबानी की कंपनी जियो को झोली में जा सकती है। यह सौदा 20 हजार से 23 हजार करोड़ रुपये का हो सकता है।

यूवीएआरसीएल दिल्ली की एक एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी (एआरसी) है जो दिवालिया हो चुकी टेलिकॉम कंपनियों को खरीदती है। इसी साल कंपनी को एयरसेल के एसेट्स के अधिग्रहण के लिए एनसीएलटी से मंजूरी मिली थी। इसकी स्थापना 2007 में हुई थी और यह बुक बिल्डिंग के हिसाब से देश की 10 टॉप एआरसी में शामिल है। यूवीएआरसीएल की बेवसाइट पर दावा किया गया है कि वह एनपीए को पटरी पर लाती है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2307738
 
     
Related Links :-
पबजी के विकल्प भी हैं मौजूद, बच्चों की पसंद के कई एप
अंबानी का टेलिकॉम कारोबार खरीदेगी दिल्ली की यह अंजान कंपनी!
फ्यूचर ग्रुप को खरीदने वाली है रिलायंस, अंबानी-बियानी के बीच डील फाइनल स्टेज में
ऑनलाइन किराना कारोबार के आधे हिस्से पर हो जाएगा रिलायंस का कब्जा: गोल्डमैन सैक्श
दुनिया के पांचवें सबसे अमीर बने मुकेश अंबानी, अब जुकरबर्ग को पीछे करना है!
भारत में 5G लांच करने के लिए तैयार है रिलायंस Jio: मुकेश अंबानी
चुनाव आयुक्त अशोक लवासा को बड़ी जिम्मेदारी, बने एशियाई विकास बैंक के उपाध्यक्ष
चीन पर डिजिटल स्ट्राइक, भारत ने 59 चीनी एप किये बैन
देश हुआ अनलॉक तो दोगुने से अधिक हो गई पेट्रोलियम उत्पादों की मांग
ऑल्टो से डिजायर तक, मारुति की कारों पर 55 हजार तक का डिस्काउंट
 
CopyRight 2016 DanikUp.com