दैनिक यूपी ब्यूरो
21/06/2020  :  00:05 HH:MM
एलएसी पर समझौता नही हुआ तो बना रहेगा विवाद
Total View  49

एलएसी पर बार बार विवाद की वजह भारत - चीन के बीच इस संबंध में कोई स्पष्ट समझौता नही होना है जानकारों का कहना है कि सीमा को लेकर दोनो पक्ष की अपनी धारणा है।

एलएसी पर समझौता नही हुआ तो बना रहेगा विवाद

नई दिल्ली। एलएसी पर बार बार विवाद की वजह भारत - चीन के बीच इस संबंध में कोई स्पष्ट समझौता नही होना है  जानकारों का कहना है कि सीमा को लेकर दोनो पक्ष की अपनी धारणा है। पेट्रोलिंग को लेकर कुछ सहमति जरूर है लेकिन चीन जब इस सहमति के खिलाफ आक्रामकता दिखाता है तो संघर्ष की स्थिति बनती है।

 सामरिक जानकार सुशांत सरीन का कहना है कि एलएसी को लेकर कोई समझौते की लाइन नही है। वर्ष 2014 से जब से मोदी सरकार आई है प्रयास हो रहा है कि ये मुद्दा सुलझाना चाहिए नही तो विवाद बना रहेगा। सरीन ने कहा हम कहते हैं कि पूरा अक्साई चीन हमारा है। चीन हमारी अरुणाचल सीमा को लेकर दावे करता है। लेकिन ये समग्र सीमा के मुद्दे हैं। दूसरा प्रश्न ये है कि 1962 के युध्द के बाद वास्तविक जगह पर फौज कहा बैठी हुई थी। चीन के साथ ये तय नही हो पाया कि एलएसी क्या है। ऐसी स्थिति में जो आपके कब्जे में है वही एलएसी है।

उन्होंने कहा, कुछ इलाके हैं जहां पर सहमति है। जबकि कुछ इलाके है जहां पर दोनो के अलग अलग दावे हैं। जो प्रधानमंत्री का बयान था उसके पहले विदेश मंत्रालय का बयान आया था दोनो में कोई अंतर नही है। दोनो में कहा गया कि चीनी पक्ष ने एलएसी के पास ढांचा बनाने की कोशिश की। कोशिश की इसीलिए झड़प हुई। सरीन ने कहा बिल्कुल एलएसी पर झड़प हुई लेकिन हम उसे कब्जा मान लें ये ठीक नही है।

सरीन ने कहा, इसी तरह पेंगोंग के इलाके में हम एलएसी को 8 तक मानते है। चीन का बेस 8 तक था लेकिन आगे कोई ढांचा नही था। लेकिन अब कहा जा रहा है कि वे आगे आये हैं। पहले भी कुछ मौकों पर ऐसा हुआ है लेकिन सर्दी आती है तो हटना पड़ता है। अभी कहा जा रहा है कि वे पहाड़ी के उस इलाके में हैं जहाँ से वे हमारी तरफ नजर रख  सकते है।जानकारों का कहना है कि कई अनसुलझे मुद्दे हैं जिन्हें सुलझाने की जरूरत है। भारत लगातार यही कोशिश कर रहा है। लेकिन कई वजह है जिसकी वजह से चीन यहाँ उलझ रहा है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1201924
 
     
Related Links :-
सचिन पायलट की ओर इशारा? बिना नाम लिए बोले राहुल- जो चाहे वह पार्टी से जा सकता है
खट्टर सरकार की मेजबानी छोड़ घर लौटे सचिन पायलट, पार्टी में रखें अपनी बात: कांग्रेस
रिन्यूबल एनर्जी के क्षेत्र में EU का निवेश और तकनीक आमंत्रित: पीएम मोदी
सचिन पायलट पर कार्रवाई के बाद कांग्रेस में घमासान, पार्टी के इस नेता ने दिया इस्तीफा
कानपुर: विकास दुबे के घर से पुलिस ने बरामद की एके-47 और कारतूस, शशिकांत भी गिरफ्तार
कानपुर केस : गिरफ्तार शशिकांत पांडेय का खुलासा, विकास दुबे ने कहा था मामा आज पुलिस वालों की लाश गिननी है
कोरोना मरीजों को अगले महीने मिलेगी वैक्‍सीन, रूस में तैयारी पूरी
विकास दुबे का राइट हैंड अमर मुठभेड़ में ढेर
कानपुर केस : विकास दुबे फरीदाबाद के होटल में छिपा था, पुलिस के पहुंचने से पहले भाग निकला
विकास दुबे के सियासी आकाओं पर शिकंजा कसने की तैयारी में योगी सरकार
 
CopyRight 2016 DanikUp.com