दैनिक यूपी ब्यूरो
09/11/2019  :  20:32 HH:MM
भारत की संवैधानिक व्यवस्था और लोकतंत्र की मजबूती का प्रमाण है अयोध्या का फैसला: योगी आदित्यनाथ
Total View  76

भारत की संवैधानिक व्यवस्था और लोकतंत्र की मजबूती का प्रमाण है अयोध्या का फैसला: योगी आदित्यनाथ* • *सभी लोग आपसी सद्भाव और सौहार्द बनाए रखें* • *मीडिया ने पूरे फैसले को पॉजिटिव तरीके से प्रस्तुत किया* • *अब अयोध्या देश और दुनिया में नई चमक और आभा के साथ नजर आएगी* *09 नवंबर, लखनऊ*। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि श्रीराम जन्मभूमि विवाद पर आये फैसले के बाद सभी लोग आपसी सद्भाव और सौहार्द बनाए रखें। उन्होंने शीर्ष अदालत के फैसले को स्वीकारते हुए कहा कि इस फैसले ने देश और दुनिया में भारत की संवैधानिक व्यवस्था और लोकतंत्र की मजबूती को फिर से साबित कर दिया है। उन्होंने कहा कि शांति, सौहार्द औऱ एकता बनाए रखने के लिए मैं सभी संस्थाओं औऱ संगठनों को ह्रदय से बधाई देता हूं। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि भारत के प्रति प्रेम रखने वालों ने इस फैसले को मुक्त कंठ से सराहा है। उन्होंने मीडिया का भी धन्यवाद किया और कहा कि मीडिया ने पूरे फैसले को पॉजिटिव तरीके से प्रस्तुत करने का काम किया है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि निश्चित ही ये फैसला बहुत कुछ संदेश दे रहा है। एक भारत और श्रेष्ठ भारत के संकल्प को आगे बढ़ाने, किसी परिवार या किसी वर्ग, समुदाय या धर्म से उठकर जो फैसला दिया गया है और जिस प्रकार से इसे लोगों ने स्वीकारा है वह प्रशंसनीय है।

*भारत की संवैधानिक व्यवस्था और लोकतंत्र की मजबूती का प्रमाण है अयोध्या का फैसला: योगी आदित्यनाथ*

*सभी लोग आपसी सद्भाव और सौहार्द बनाए रखें*

*मीडिया ने पूरे फैसले को पॉजिटिव तरीके से प्रस्तुत किया*

*अब अयोध्या देश और दुनिया में नई चमक और आभा के साथ नजर आएगी*

*09 नवंबर, लखनऊ*। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि श्रीराम जन्मभूमि विवाद पर आये फैसले के बाद सभी लोग आपसी सद्भाव और सौहार्द बनाए रखें। उन्होंने शीर्ष अदालत के फैसले को स्वीकारते हुए कहा कि इस फैसले ने देश और दुनिया में भारत की संवैधानिक व्यवस्था और लोकतंत्र की मजबूती को फिर से साबित कर दिया है। उन्होंने कहा कि शांति, सौहार्द औऱ एकता बनाए रखने के लिए मैं सभी संस्थाओं औऱ संगठनों को ह्रदय से बधाई देता हूं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि भारत के प्रति प्रेम रखने वालों ने इस फैसले को मुक्त कंठ से सराहा है। उन्होंने मीडिया का भी धन्यवाद किया और कहा कि मीडिया ने पूरे फैसले को पॉजिटिव तरीके से प्रस्तुत करने का काम किया है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि निश्चित ही ये फैसला बहुत कुछ संदेश दे रहा है। एक भारत और श्रेष्ठ भारत के संकल्प को आगे बढ़ाने, किसी परिवार या किसी वर्ग, समुदाय या धर्म से उठकर जो फैसला दिया गया है और जिस प्रकार से इसे लोगों ने स्वीकारा है वह प्रशंसनीय है। 

उन्होंने कहा कि पांचों न्यायमूर्तियों ने जिस प्रकार से एकमत होकर यह फैसला दिया है और जिस प्रकार इसे देश की जनता ने स्वीकारा है, ये एक दूसरे के विश्वास और उन कठिन से कठिन परिस्थतियों में भी संवैधानिक दायरे में रहकर के हम बड़े से बड़े निर्णय ले सकते हैं इस बात को दर्शाता है।

योगी ने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद जब मैं पहली बार अयोध्या गया था, तो किस प्रकार अयोध्या की अनदेखी की गई ये साफ दिखाई देता था। पिछले ढाई साल में अयोध्या के विकास के लिए ठोस योजनाओं को रखा गया। देश और दुनिया के अंदर अयोध्या एक नई चमक और आभा के साथ उत्तर प्रदेश के इस नए परसेप्शन को प्रस्तुत करने में सफल रहा है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   406003
 
     
Related Links :-
af
महाराष्ट्र के उलटफेर के पीछे जूनियर पवार की महत्वाकांछा या अज्ञात भय
भारत की संवैधानिक व्यवस्था और लोकतंत्र की मजबूती का प्रमाण है अयोध्या का फैसला: योगी आदित्यनाथ
योगी सरकार ने भ्रष्टाचार पर किया कड़ा प्रहार, सात पीपीएस अधिकारियों को दी अनिवार्य सेवानिवृत्त*
राहुल गांधी अभी भी राजनीति में इंटर्न - पंकज शंकर
वर्तमान भारत अंग्रेजों की देन नहीं है, बल्कि प्राचीन काल से भारत सांस्कृतिक रूप से जुड़ा हुआ है : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
भाजपा चुनाव: प्रयागराज - कीडगंज मंडल में बस संगठन नियमों की चली
विपक्ष का रवैया दुर्योधन जैसा, विकास इनकी सोच में ही नहीं: योगी आदित्यनाथ*
कश्मीरी छात्रों को योगी आदित्यनाथ ने दिया बड़ा भरोसा
हमीरपुर विधानसभा सीट भाजपा ने जीती
 
CopyRight 2016 DanikUp.com