दैनिक यूपी ब्यूरो
22/10/2019  :  23:55 HH:MM
उत्तर प्रदेश का जीडीपी ग्रोथ राष्ट्रीय औसत से ज्यादा: वित्त आयोग*
Total View  587

उत्तर प्रदेश का जीडीपी ग्रोथ राष्ट्रीय औसत से ज्यादा: वित्त आयोग* • *देश के अन्य राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेश का माहौल अच्छा है* • *सतत विकास को लेकर जो रोडमैप यूपी के पास है उससे आयोग संतुष्ट है* • *वाराणसी जैसा कार्य अन्य स्थानों पर भी होना चाहिए* *22 अक्टूबर, लखनऊ*। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को लोकभवन में 15वें वित्त आयोग की बैठक संपन्न हुई। बैठक के बाद 15वें वित्त आयोग के चेयरमैन एनके सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश का जीडीपी ग्रोथ राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है। देश के अन्य राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेश का माहौल अच्छा है।

*उत्तर प्रदेश का जीडीपी ग्रोथ राष्ट्रीय औसत से ज्यादा: वित्त आयोग*

*देश के अन्य राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेश का माहौल अच्छा है*
*सतत विकास को लेकर जो रोडमैप यूपी के पास है उससे आयोग संतुष्ट है*
*वाराणसी जैसा कार्य अन्य स्थानों पर भी होना चाहिए*

*22 अक्टूबर, लखनऊ*। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को लोकभवन में 15वें वित्त आयोग की बैठक संपन्न हुई। बैठक के बाद 15वें वित्त आयोग के चेयरमैन एनके सिंह ने कहा कि  उत्तर प्रदेश का जीडीपी ग्रोथ राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है। देश के अन्य राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेश का माहौल अच्छा है। 

एनके सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पास आगे का रोड मैप है, यूपी का वित्तीय संचालन सही है। उन्होंने कहा कि सतत विकास के कई ऐसे गोल है, जिस पर आज बैठक के दौरान चर्चा हुई है। उन गोल को पूरा करने में उत्तर प्रदेश के पास जो रोड मैप है उससे आयोग संतुष्ट है। 

एनके सिंह ने वाराणसी में हुए कामों की सराहना करते हुए कहा कि वाराणसी जैसा कार्य अन्य स्थानों पर भी होना चाहिए। यूपी में टूरिज्म की अपार संभावनाएं है। एनके सिंह ने कहा कि ऊर्जा क्षेत्र को लेकर लगातार चर्चा होती रही है। ऊर्जा के क्षेत्र में लॉस और कर्ज बढ़ा है। जिसको लेकर 15वां वित्त आयोग उम्मीद करता है कि आने वाले वक्त में सबकुछ ठीक हो जाएगा। 

एनके सिंह ने कहा कि पीएम मोदी के 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी के लक्ष्य के लिए यूपी की 1 ट्रिलियन इकोनॉमी बनना जरूरी है। आयोग हर तरह से उत्तर प्रदेश को सहयोग करेगा। उन्होंने कहा कि जिले के अस्पतालों को मेडिकल कॉलेजों की तर्ज पर विकसित करना होगा। नर्सेस और पैरामेडिकल की ट्रेनिंग के लिए सहयोग करने को लेकर आयोग विचार कर रहा है। 

एनके सिंह ने कहा कि प्रीप्राइमरी एजुकेशन को मजबूत करने के लिए मुख्यमंत्री गंभीर हैं। उत्तर प्रदेश में चुनौतियां के साथ साथ अपार संभावनाएं भी हैं। कृषि क्षेत्र में आयोग का विशेष जोर है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8193992
 
     
Related Links :-
प्रदेश में स्वदेशी वस्तुओं का हो निर्माण: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
श्रमिकों की सुरक्षित व सम्मानजनक वापसी हमारा लक्ष्य: मुख्यमंत्री
CM योगी को जान से मारने की धमकी देने वाला गिरफ्तार
घर लौटे प्रवासी कामगारों को रोजगार के लिए बनेगा प्रवासी आयोग
लॉकडाउन में सरकारी कर्मियों के वेतन-भत्तों में कटौती, क्या बनेगा केंद्र के गले की फांस!
लॉकडाउन में बंद पड़ी घरेलू विमान सेवाएँ 25 मई से शुरू होंगी
बस पॉलिटिक्स / प्रियंका बोलीं- भाजपा अपने झंडे पोस्टर लगा ले, मगर राजनीति से ऊपर उठकर हो बसों का इस्तेमाल,
1 जून से शुरू होंगी ये यात्री ट्रेनें, लिस्‍ट जारी, आज से बुकिंग शुरू
लॉकडाउन 4.0: योगी सरकार ने जारी की नई गाइडलाइंस, ​जानिए कहॉ छूट कहॉ सख्ती?
जल्द घुटने टेकेगा कोरोना, ठीक होने वाले लोगों की संख्या में बढ़त: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
 
CopyRight 2016 DanikUp.com