दैनिक यूपी ब्यूरो
11/09/2019  :  11:14 HH:MM
कमाई के मामले में योगी सरकार का प्रदर्शन रहा शानदार*
Total View  163

लखनऊ।* सूबे की भाजपा सरकार का आधा सफर पूरा हो रहा है। इस दौरान योगी आदित्यनाथ की सरकार ने राजस्व के मामलों में पिछली समाजवादी पार्टी सरकार की तुलना में काफी बेहतर प्रदर्शन किया है।

*कमाई के मामले में योगी सरकार का प्रदर्शन रहा शानदार*

*शराब कारोबार में पिछली सरकार में मुकाबले बढ़ी 38 प्रतिशत कमाई*

*वाणिज्य, परिवहन, खनिकर्म में भी बढ़ी सरकार की कमाई*

*लखनऊ।* सूबे की भाजपा सरकार का आधा सफर पूरा हो रहा है। इस दौरान योगी आदित्यनाथ की सरकार ने राजस्व के मामलों में पिछली समाजवादी पार्टी सरकार की तुलना में काफी बेहतर प्रदर्शन किया है। आंकड़ों पर गौर करने से पता चलता है कि कुल 6 मदों से सरकार को प्राप्त होने वाले राजस्व में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। यदि कर राजस्व की बात करें तो वर्ष 2018-19 में सरकार को 1,20,227 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ, जो 2017-18 के 97,393 करोड़ रुपये की तुलना में लगभग 10 प्रतिशत अधिक है। जबकि 2016-17 में सरकार को कुल 85,966 करोड़ रुपये प्राप्त हुए थे। 2016-17 की तुलना में यदि वृद्धि देखी जाए तो यह कमाई 23.4 प्रतिशत है।

शराब कारोबार से भी उत्तर प्रदेश सरकार ने काफी कमाई की है। 2016-17 में सरकार ने आबकारी में जहां 14,273 करोड़ रुपये प्राप्त किए थे, वहीं 2017-18 में इसमें 17,320 करोड़ रुपये की बढ़ोत्तरी हुई, जो 2016-17 के मुकाबले 21.3 प्रतिशत ज्यादा है। 2018-19 में सरकार ने 23,925 करोड़ रुपये की कमाई की, जो पिछली बार के मुकाबले 38.1 प्रतिशत ज्यादा है।

वाणिज्य कर के मामले में समाजवादी पार्टी सरकार ने वर्ष 2016-17 में 51,883 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त किया था। इस मद में सरकार को 2017-18 में 56,487 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ, जो 2016-17 के मुकाबले 8.9 प्रतिशत ज्यादा है। इसमें सरकार को जीएसटी से 25,374 करोड़ रुपये और वैट से 31,113 करोड़ रुपये प्राप्त हुए हैं। जबकि वर्ष 2018-19 में सरकार को 70,043 करोड़ रुपये प्राप्त हुए। 2017-18 की तुलना में इस वर्ष 24 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इसमें जीएसटी से 46,290 करोड़ रुपये एवं वैट से 23,753 करोड़ रुपये प्राप्त हुए हैं।

परिवहन के क्षेत्र में भी सरकार की कमाई ठीक रही है। 2016-17 में सरकार ने 5,148 करोड़ रुपये और 2017-18 में 13,398 करोड़ रुपये प्राप्त हुए, जो 2016-17 के सापेक्ष 24.4 प्रतिशत ज्यादा है। 2018-19 में सरकार ने 6,930 करोड़ रुपये की कमाई की। 2016-17 की तुलना में इस वर्ष सरकार की कमाई में 8.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। 

स्टाम्प तथा निबन्ध से भी सरकार को राजस्व में बढ़त मिली है। इस मद में 2016-17 में 11,564 करोड़ रुपये, तो 2017-18 में 13,398 करोड़ रुपये प्राप्त हुए थे, जो 2016-17 के सापेक्ष 15.9 प्रतिशत ज्यादा है। 2018-19 में 15,720 करोड़ रुपये प्राप्त हुआ। 2017-18 की तुलना में इस वर्ष 17.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

भूतत्व एवं खनिकर्म से प्राप्त राजस्व पर नजर डालें, तो सरकार ने 2016-17 में 1,548 करोड़ रुपये और 2017-18 में 3,259 करोड़ रुपये की कमाई की थी, 2016-17 सापेक्ष इस मद में 110.5 प्रतिशत की अभूतपूर्व वृद्धि हुई। 2018-19 में सरकार ने 3,165 करोड़ रुपये की कमाई की। हलांकि 2017-18 के सापेक्ष इस मद में 2.9 प्रतिशत की कमी आई है। 

कृषि विपणन (मण्डी) के क्षेत्र में सरकार ने 2016-17 और 2017-18 में 1,552 करोड़ रुपये की कमाई की थी। 2018-19 में इस मद में सरकार को 1,824 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ, जो 2017-18 की तुलना में 17.5 प्रतिशत ज्यादा है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6455491
 
     
Related Links :-
गीता प्रेरणा महोत्सव का आयोजन एक दिसंबर को - घर - घर गीता का संदेश पहुंचाने का अभियान
पिछली सरकारें चीनी मिलों को बेचती एवं बंद कराती थीं, हम नई मिलें लगाते और रोजगार देते हैं: योगी आदित्यनाथ*
अगले वर्ष गोरखपुर में खाद कारखाने की होगी शुरुआत
प्रदीप हत्याकांड मे पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी के लिए गुरु जी ने बनाया दबाव
सौहार्द की बुनियाद है अयोध्या का फैसला
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर करने के लिए बताए मूलमंत्र
भ्रष्टाचार के लिए कुख्यात दलों के नेताओं का योगी सरकार पर टिप्पणी करना शर्मनाक है: ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा*
पिछली सरकारों के कार्यकाल में बेईमानी और भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई थीं परीक्षाएं : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
एयरपोर्ट बनने से लग जाएंगे जेवर के विकास में चार चांद : योगी आदित्यनाथ*
पटेल के आदर्शों और मूल्यों को जीवन में उतारें :योगी*
 
CopyRight 2016 DanikUp.com