दैनिक यूपी ब्यूरो
17/08/2019  :  10:27 HH:MM
पानी बचाने के कम लागत के उपाय अपनाने की जरूरत : उपायुक्त गुरुग्राम में लगाया गया पहला वाटर ट्रीटमेंट एक्सपो-2019
Total View  339

गुरुग्राम जिलावासियों को जल संरक्षण के प्रति प्रेरित करने के लिए आज स्वतंत्रता सेनानी जिला परिषद् परिसर में वाटर ट्रीटमेंट एक्सपो-2019 का आयोजन किया गया। इस एक्सपो में जल संरक्षण के उपायों को लेकर 22 स्टॉल लगाई गई थी। यह एक्सपो नगर निगम गुरूग्राम तथा गुरु जल प्रोजेक्ट द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किया गया था। इस एक्सपो में जल संरक्षण के क्षेत्र में कार्यरत विभिन्न कंपनियों द्वारा स्टॉल लगाई गई थी।

स्टॉल में जल संरक्षण की तकनीकों के अलावा पारंपरिक उपायो के बारे में जानकारी दी गई। प्रत्येक स्टॉल पर पानी बचाने के लिए अलग-अलग उपायों जैसे-एसटीपी लगाने, पानी की रिसायकिलिंग, भूमिगत जल स्तर में सुधार लाने के लिए विभिन्न प्रकार की तकनीकों सहित बरसात के दिनों में पौधारोपण के उपायों के बारे में भी जानकारी दी जा रही थी। उपायुक्त ने प्रत्येक स्टॉल पर जाकर बारिकी से इन उपायों के बारे में पूछा। इस अवसर पर उपायुक्त अमित खत्री ने बताया कि आम जनता को जल संरक्षण के बारे में जागरूक करने के लिए जल शक्ति अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत लोगों को पानी बचाने के अलग-अलग तरीकों तथा तकनीकों के बारे में बताने के लिए यह एक्सपो आयोजित किया गया था ताकि लोग अपनी जरूरत के अनुसार पानी बचाने के तरीके या तकनीक को अपना सकें।
उन्होंने कहा कि एक्सपो में काफी लोगों ने आकर इन तकनीकों को देखा और समझा है। खत्री को विश्वास है कि पानी बचाने की तकनीकों तथा उपायों को देखकर दर्शकों में पानी बचाने के प्रति एक भावना भी जागृत हुई होगी और वे इस बारे में जरूर सोचेंगे। जिला गुरुग्राम में लोगों को पानी बचाने तथा भूमिगत जल में सुधार लाने को प्रेरित करने के लिए गुरुजल प्रोजेक्ट चलाया जा रहा है। हमें जल संचयन की दिशा में ऐसे उपाय अपनाने होंगे जो कॉस्ट इफेक्टिव हों और कम से कम खर्चें में हम ज्यादा से ज्यादा तालाबों का जीर्णोद्धार कर सके। गुरुजल प्रौजेक्ट के माध्यम से जिला गुरुग्राम में जल संचयन को लेकर विभिन्न प्रकार की गतिविधियां चलाई जा रही है। इस अवसर पर गुरुग्राम उत्तरी के एसडीएम जितेन्द्र कुमार, नगर निगम के अतिरिक्त निगम आयुक्त मुनीष ,नगर निगम गुरुग्राम के एडिश्नल म्युनिसिपल कमीश्नर वाई एस गुप्ता, गुरुजल प्रोजेक्ट से शुभि, चीफ इंजीनियर एन डी वशिष्ठ, जीएमडीए के चीफ इंजीनियर ललित अरोड़ा सहित कई अधिकारीगण उपस्थित थे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7731196
 
     
Related Links :-
पर्यावरण संरक्षण हेतु जनभागीदारी अति महत्वपूर्ण है: लोक सभा अध्यक्ष
*वन, पर्यटन, सांस्कृतिक समेत सम्बंधित विभाग मिलकर कार्य करें तो वन्य जीवों के संरक्षण में महत्वपूर्ण योगदान हो सकता है : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
🎖 *पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज सफाईगिरी पुरस्कार से पुरस्कृत*
औषधीय पौधों से होगा कायाकल्प: विष्णु मित्तल
दिमाग में कुंआ, मन में मेढ़बंदी”, फिर से खुशहाल हो गए बुंदेलखंडी*
अपने घर में रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम खुद लगवाए: किरण बेदी
हरियाणा को ह्रश्वलास्टिक मुक्त करने की दिशा में आमजन से अनुरोध
नी रिह्रश्वलेसमेंट करवाने वाले मरीजों ने लगाए पौधे
स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण-2019 एप के माध्यम से दे सकते हैं फीडबैक
पानी बचाने के कम लागत के उपाय अपनाने की जरूरत : उपायुक्त गुरुग्राम में लगाया गया पहला वाटर ट्रीटमेंट एक्सपो-2019
 
CopyRight 2016 DanikUp.com