दैनिक यूपी ब्यूरो
08/08/2019  :  09:49 HH:MM
ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के उपायों का अध्ययन करने के लिए नागालैंड के शिष्टमंडल ने गुरुग्राम का किया दौरा
Total View  398

गुरुग्राम हरियाणा सरकार द्वारा ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को लेकर किए गए उपायो का अध्ययन करने के लिए नागालैंड के एक शिष्टमंडल ने गुरुग्राम का दौरा किया क्योंकि हरियाणा की सफलता की कहानी राज्य की सीमाओं को पार कर अन्य राज्यों तक पहुंच गई हैं और उनके लिए प्रेरणा बन रही है। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में हरियाणा की बैस्ट प्रैक्टिसिज समझने के लिए निवेश और विकास प्राधिकरण नागालैंड टीम के 10 सदस्यीय शिष्टमंडल ने गुरुग्राम के मंडलायुक्त अशोक सांगवान से मुलाकात की।

इस शिष्टमंडल का नेतृत्व अलेम्थीमे जमीर (सेवानिवृत्त मुख्य सचिव नागालैंड) तथा निवेश और विकास प्राधिकरण नागालैंड के सीईओ द्वारा संयुक्त रूप से किया। नागालैंड सरकार ने हरियाणा राज्य द्वारा इज ऑफ डूइंग बिजनेस के क्षेत्र में किए गए कार्यों को समझने के लिए अपने शिष्टमंडल को यहां भेजा , ताकि वे हरियाणा प्रदेश में इज ऑफ डूइंग बिजनेस के क्षेत्र में किए गए कार्यों की जानकारी प्राप्त कर सकें। गुरुग्राम के मंडल आयुक्त अशोक सांगवान ने शिष्टमंडल को हरियाणा राज्य में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की यात्रा के बारे में विस्तार से बताया कि कैसे हरियाणा ने पिछले 3 वर्षों में चौदहवें स्थान से तीसरे स्थान पर अपनी जगह बनाई है। उन्होंने इस दौरान शिष्टमंडल द्वारा पूछे गए सवालों का भी जवाब दिया। सांगवान ने शिष्टमंडल को सिंगल विंडो सिस्टम की कार्यप्रणाली तथा प्रदेश में हरियाणा एंटरप्राइजेज प्रमोशन सेंटर की संरचना के बारे में विस्तार से बताया। सांगवान ने निवेशकों को सोशल मीडिया,व्हाट्सएप ग्रुप तथा अन्य तकनीकों के माध्यम से प्रभावी प्रबंधन के बारे में भी आवश्यक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इन्वेस्ट इंडिया द्वारा शुरू की गई
पहल राष्ट्रीय अखंडता और राज्यों के बीच आपस में अच्छे संबंध स्थापित करेगी। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के अभ्यास से इज ऑफ डूइंग बिजनेस को बढ़ावा मिलेगा। इस अवसर पर जमीर ने कहा कि यह बैठक वास्तव में शिष्टमंडल के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण रही जिसके
माध्यम से नागालैंड सरकार को इज ऑफ डूइंग बिजनेस में की गई बेस्ट प्रैक्टिसेज को समझने का मौका मिला। उन्होंने कहा कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की अच्छी प्रथाओं को हम अपने राज्य में भी लागू करेंगे। निवेश और विकास प्राधिकरण नागालैंड के सीईओ ने मंडलायुक्त को नागालैंड की वास्तविकताएं समझने और उसके अनुसार राज्य का मार्गदर्शन करने के लिए उन्हें नागालैंड आमंत्रित किया। इन्वेस्ट इंडिया से पवन चौधरी ने इस अवसर पर कहा कि इस इंटरेक्शन से हरियाणा सरकार और नागालैंड सरकार के बीच
निवेश सुविधाजनक होगा। इससे भविष्य में व्यापार करने में आसानी और सिंगल विंडो सिस्टम सहित उत्तर पूर्वी राज्यों के बीच भी व्यापार की संभावनाएं बढेंग़ी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2001422
 
     
Related Links :-
चीन पर डिजिटल स्ट्राइक, भारत ने 59 चीनी एप किये बैन
देश हुआ अनलॉक तो दोगुने से अधिक हो गई पेट्रोलियम उत्पादों की मांग
ऑल्टो से डिजायर तक, मारुति की कारों पर 55 हजार तक का डिस्काउंट
फैक्टरी में सावधानी के साथ काम शुरू करने के लिए निर्देश*
जनधन खाताधारकों से बैंकों में भीड़ न लगाने का आग्रह
कोरोना का असर: मार्च में चार महीनों के निचले स्तर पर रही भारत की विनिर्माण गतिविधियां
कोरोना का असर / मूडीज की रिपोर्ट ; भारतीय बैंकों का आउटलुक निगेटिव होने का अनुमान, एसेट क्वालिटी हो सकती है खराब
मारुति सुजुकी : 2 दिन के लिए गुरुग्राम-मानेसर ह्रश्वलांट बंद
सोलर पंप आवेदन के लिए 30 सितंबर तक बढ़ाया गया समय
बोले मुख्यमंत्री मनोहर लाल सरकार ने बाजरा, सरसों और सूरजमुखी के एक-एक दाने की खरीद की है
 
CopyRight 2016 DanikUp.com