दैनिक यूपी ब्यूरो
06/07/2019  :  09:28 HH:MM
विवेक अग्रवाल ने उपायुक्त सहित अधिकारियों के साथ बैठक की जल शक्ति अभियान को बनाया जाए सफल
Total View  189

गुरुग्राम भारत सरकार के कृषि मंत्रालय के संयुक्त सचिव एवं जल शक्ति अभियान के नोडल अधिकारी विवेक अग्रवाल ने आज गुरुग्राम पहुंचकर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में चलाए जा रहे जल शक्ति अभियान को लेकर उपायुक्त सहित संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की। यह बैठक गुरुग्राम के लोक निर्माण विश्राम गृह मे आयोजित की गई थी। आज आयोजित बैठक में जल संरक्षण को लेकर विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की गई। अग्रवाल ने अधिकारियों को जल शक्ति अभियान को सफल बनाने को लेकर दिशा- निर्देश दिए। अग्रवाल ने कहा कि जल शक्ति अभियान जल संरक्षण के लिए एक अनूठी पहल है जिसे सफल बनाने के लिए जनभागीदारी बहुत जरूरी है।

जल संरक्षण के प्रति जागरूकता

उन्होंने कहा कि यह अभियान लोगों को जल संरक्षण के प्रति जागरूक करने के लिए शुरू किया गया है ताकि भूमिगत जलस्तर में सुधार हो और लोग जल के महत्व को समझते हुए पानी का सदुपयोग करें। उन्होंने कहा कि आने वाले तीन महीने जल संरक्षण के लिए अत्यंत
महत्वपूर्ण है, ऐसे में यदि लोग जल संरक्षण के लिए अपने उत्तरदायित्वों को समझेंगे तो बरसाती पानी का संचयन किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण के लिए जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे जिनमे आरडब्ल्यूए, उद्योगों, कंपनियों, एनजीओ, सरपंचों सहित समाज में विभिन्न वर्गों के लोगों को आमंत्रित किया जाएगा। अग्रवाल ने कहा कि गांवो में पुराने तालाबों का जीर्णोद्धार करवाकर वहां जल संरक्षण के प्रयास किए जाएंगे। इसके अलावा, जल संचयन के लिए रेन वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम लगवाएं जाने चाहिए ताकि बरसात का ज्यादा से ज्यादा पानी जमीन के अंदर डाला जा सके। जिला में किसानों को कम पानी खपत वाले खेती के तरीकों जैसे सिंचाई के लिए ड्रिप इरीगेशन अपनाने के लिए प्रेरित किया जाएं।

सूक्ष्म सिंचाई को बढ़ावा दे

उन्होंने बैठक में उपस्थित जिला उद्यान अधिकारी पिंकी यादव से कहा कि वे सूक्ष्म सिंचाई को बढ़ावा दे और इसके लिए रूपरेखा बनाकर काम करें। कृषि विभाग भी जल प्रबंधन को लेकर अपने स्तर पर कार्ययोजना तैयार करें। उन्होंने कहा कि जिला में यदि कही अवैध बोरवैल चल रहे हों तो उन्हें नियमानुसार बंद करवाएं। उन्होंने कहा कि जनता के सहयोग से इस अभियान को सफल बनाने को विभाग अनुसार एक्शन ह्रश्वलान तैयार किए जाएं और सभी विभाग अपने विभाग का एक माइक्रो ह्रश्वलान बनाकर उसी अनुरूप काम करें। उन्होंने कहा कि विभाग ऐसे स्थानों की पहचान करें जहां पुराने तालाबों का जीर्णोद्धार किया जा सकता है और पंचायतों या अन्य विभागों की खाली पड़ी जमीन पर पौधारोपण करवाएं। बैठक में उप-ि स्थत जिला वन अधिकारी दीपक नंदा ने बताया कि 14 जुलाई को जिला में वन महोत्सव मनाया जा रहा है जिसमें सभी विभागों तथा आम जन द्वारा बड़ी संख्या में पौधारोपण किया जाएगा।

लोगों को जल संरक्षण से जोड़ा जाए

अग्रवाल ने कहा कि परम्परागत तालाब, बावड़ी व झील सूखने लगी हैं। इस तरह की गम्भीर स्थिति को देखते हुए जल शक्ति मंत्रालय भी बनाया गया है, जिसका उद्देश्य जल संरक्षण और इसके प्रबंधन के लिए सभी उपायों को करना है। शुरुआत में जल शक्ति अभियान देश के 254 जिलों में चलाया जाएगा जिनमें प्रभारी अधिकारी लगाए गए हैं। इनके सहयोग के लिए तकनकिी अधिकारी भी होंगे। उन्होंने कहा कि तकनीक के इस दौर में जरूरी है कि फेसबुक,वाट्सएप, इंस्टाग्राम तथा ट्वीटर आदि का इस्तेमाल कर लोगों को जल संरक्षण से जोड़ा जाए। इसके अलावा, गांव में लोगों को प्रेरित करने के लिए जन सभाएं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जल शक्ति अभियान के लिए जिला की गतिविधियों का एक्टिविटी कलेंडर बनाकर ज्यादा से ज्यादा आम जनता को अभियान से जोड़े।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2081196
 
     
Related Links :-
प्रधानमंत्री ने कहा दशकों से चली आ रही प्रक्रिया का समापन
आतंक के खिलाफ दुनिया के देशों को साथ आने की जरूरत - बिड़ला
कर्मचारियों और पेंशनर्स को दिवाली का तोहफा
पाकिस्तान में होगा तख्तापलट!
जयशंकर जी, प्रधानमंत्री को कूटनीति के बारे में थोड़ा बताइए : राहुल
कश्मीर पर भारत का स्पष्ट रुख, तीसरे पक्ष की मध्यस्थता कतई स्वीकार नहीं करेंगे: जयशंकर
जब हमारी सेना जीत रही थी तो क्या कारण थे कि अचानक युद्ध विराम किया गया- श्री अमित शाह
जब हमारी सेना जीत रही थी तो क्या कारण थे कि अचानक युद्ध विराम किया गया- श्री अमित शाह
लोकसभा अध्यक्ष ने सांसदों, कर्मचारियों को सिखाया फिट रहने का गुर
पूरे हफ्ते खुला रहेगा करतारपुर कॉरिडोर
 
CopyRight 2016 DanikUp.com