दैनिक यूपी ब्यूरो
03/07/2019  :  09:54 HH:MM
समाज में सामाजिक समरसता का गेम्स और पबजी कॉर्प अभाव: ज्ञानसागर महाराज
Total View  248

गुरुग्राम भारतवर्ष में पहले दूध-दही-घी की नदियां बहती थी अर्थात् आवश्यकता से अधिक मात्रा में दूध का उत्पादन होता था, परन्तु आज के आधुनिक समय में हम पानी के लिए भी तरस रहे है और आपस में लड़ाई-झगड़े कर रहे है। वर्तमान स्थिति के लिए समाज में सामाजिक समरसता का अभाव है।
उक्त विचार  जैन संत ज्ञानसागर महाराज ने कल सांय गुरुग्राम के जैकबपुरा स्थित जैन बारादरी में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सदस्यों के साथ सामाजिक समरसता पर सवांद के अवसर पर व्यक्त किए। ज्ञानसागर महाराज ने कहा कि भारत में सामाजिक समरसता का आधार राम, कृष्ण, बुद्ध, महावीर, गुरुनानक, ईसा मसीह, मोहम्मद आदि के द्वारा दिखाए गए सिद्धान्तों और मार्गदर्शन पर आधारित हैं। समाज में सामाजिक समरसता तभी सम्भव है, जब प्रत्येक व्यक्ति और वर्ग त्याग, करुणा, सेवा, बलिदान, प्रेम की संस्कृति और सभ्यता को धारण करें और समाज में अन्य सभी वर्गों का समान रूप से सम्मान करें। आचार्य ने आगे कहा कि एक ही परिवार में पति-पत्नी और बच्चें अलग-अलग राजनितिक दलों में है और उनके समर्थक है। ये भारतीय संस्कृति की विफलता और सामाजिक समरसता के अभाव को दर्शाता हैं। भारतीय संस्कृ ति की परम्परा के अनुसार पूरा संसार ही एक व्यक्ति का परिवार है। आर एस एस की शाखा विद्या भारती के अध्यक्ष डॉ. डी पी भारद्वाज ने कहा कि आर एस एस का मुख्य उद्देश्य समाज में सामाजिक समरसता की दिशा में कार्य करना ही हैं। 1925 में आद एस एस के गठन के उपरान्त से ही आर एस एस के सदस्य इस दिशा में कार्य कर रहे हैं। सामाजिक समरसता एक भाव का विषय है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9359636
 
     
Related Links :-
अयोध्या का होगा सौंदर्यीकरण, डिजीटल म्युजियम के साथ भगवान श्रीराम की लगेगी भव्य प्रतिमा*
मानव कल्याण के हर संभव प्रयास किये जाएंगे - सीए विष्णु मित्तल
गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में निकली भव्य शोभा यात्रा, सड़क पर उमड़ी हजारों की भीड़*
आर के पुरम में भव्य रामलीला का मंचन
कन्याओं के पैर पखार योगी ने लिया आशीर्वाद
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देशवासियों को दी दुर्गा अष्टमी की बधाई*
मुख्यमंत्री योगी के निर्भीक निर्णयों को अखबारों में देखता हूं तो बहुत प्रसन्नता होती है- मोरारी बापू*
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ जी महाराज की स्मृति में गोरखपुर में आयोजित मोरारी बापू जी द्वारा राम कथा का किया शुभारंभ।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्री काशी विश्वनाथ नयति आरोग्य मंदिर का किया उद्घाटन*
एक शाम बाबा श्याम के नाम भजन संध्या आज
 
CopyRight 2016 DanikUp.com