दैनिक यूपी ब्यूरो
09/05/2019  :  10:07 HH:MM
जब हरियाणा जल रहा था तो मोदी क्यों थे चुप : दुष्यंत
Total View  278

हिसार देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फतेहाबाद में तो सर छोटूराम का नाम लेकर किसानों के वोट लेना चाहते हैं लेकिन पांच साल में सारे काम किसान विरोधी किए हैं। हरियाणा के किसानों की जीवन रेखा कही जाने वाली एसवाईएल नहर के निर्माण के लिए पूरे पांच साल में प्रधानमंत्री के पास चर्चा के लिए एक मिनट भी नहीं थी। किसानों का कमाऊ पूत ट्रैक्टर पर सालाना 40 हजार रुपये टैक्स लगाने वाले कोई ओर नहीं, स्वयं प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ही थे।

दो साल पहले भाजपा सरकार द्वारा करवाए गए जातीय दंगों में जब आपसी भाईचारा जल रहा था और विभिन्न घटनाओं में सरकार की गोली से प्रदेश के 81 निर्दोष और निहत्थे लोगों की जान चली गई, तब प्रधानमंत्री कहां थे। आज जब वोट की बात चली तो मोदी
सर छोटू राम के नाम का सहारा लेकर राजनीति की फसल काटने आ गए। सांसद चौटाला बुधवार को हांसी के गांव कुलाना, प्रेम नगर, कुंभा, गगन खेड़ी आदि गांवों में आयोजित नुक्कड़ सभाओं को संबोधित कर रहे थे। जेजेपी-आप गठबंधन के प्रत्याशी दुष्यंत ने कहा कि देश
के प्रधानमंत्री को चुनाव के समय अब हरियाणा के किसानों की याद आई है। पांच साल तक प्रदेश की भाजपा सरकार एवं विपक्ष ने दर्जनों बार प्रधानमंत्री से एसवाईएल के निर्माण करवाने के लिए समय मांगा था लेकिन प्रदेश के किसानों का अपमान करते हुए प्रधानमंत्री ने एक मिनट भी समय चर्चा के लिए नहीं दिया। उन्होंने कहा कि सर छोटूराम मेरे लिए सम्मानित थे, सम्मानित हैं और सम्मानित रहेंगे और हर हरियाणावी के दिल में सर छोटूराम बसते हैं। उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने का वायदा करके सत्ता में आने वाली भाजपा बताए कि अगर वह सही मायनों में किसानों की हितैषी थी तो पांच साल में आयोग की रिपोर्ट क्यों नहीं लागू की। सांसद चौटाला ने देश एवं प्रदेश की भाजपा सरकार को घेरते हुए पूछा कि हरियाणा के इतिहास में सर्वाधिक 81 बेकसूर लोगों की मौत सरकारी गोली से इन्हीं पांच सालों में हुई हैं, उसकी जिम्मेवार भाजपा है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5314597
 
     
Related Links :-
हैदराबाद की सीख......
उन्मादी पाकिस्तान चीन से मिलकर कर रहा साजिश
चांद भी अपना होगा चांदनी भी हमारी .....
हरियाणा में लड़ाई एकतरफा है?
ट्रांसपोर्ट माफिया के दबाव में बढ़ाया कैह्रश्वटन सरकार ने बस किराया : कौर
बेबसाइटों पर प्रलोभनों से बचें और साइबर अपराधों से सुरक्षित रहें : आलोक रॉय
संस्कृतियों, भाषाओं और पहचानों को नुकसान पहुंचने का बड़ा खतरा : बाजव
गुरुग्राम में जलभराव ने खोली सरकार के जुमलों की पोल : वर्धन यादव
कश्मीर : खस्ता-हाल पाकिस्तान
मंदिर बनाने की बात करने वाले संत रविदास का मंदिर ढहाए जाने पर चुप क्यों हैं : निशान सिंह
 
CopyRight 2016 DanikUp.com