Breaking News
आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम की बुधवार रात को बेहद नाटकीय ढंग से गिरफ्तारी हुई। सीबीआई उन्हें हिरासत में लेकर CBI हेडक्वॉर्टर ले गई जहां चिदंबरम को अधिकारिक तौर पर गिरफ्तार किया गया  |   चंद्रयान-२ चंद्रमा की कक्षा में पहुंचा, ७ सितंबर को सतह पर लैंडिंग  |   रविदास मंदिर गिराने के आदेश को सियासी रंग न दें : सुप्रीम कोर्ट  |   ब्रिटेन के सांसद ने कहा, संवैधानिक तरीके से हटाया गया अनुच्‍छेद 370  |   पड़ोसी देश के विकास के लिए प्रतिबद्ध : मोदी  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
05/05/2019  :  10:12 HH:MM
सरकार से एयर स्ट्राइक के साक्ष्य मांगना देशद्रोह नहीं
Total View  244

चंडीगढ़ त्नपंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को कहा सरकार से एयर स्ट्राइक के साक्ष्य मांगने को किसी भी तरह देशद्रोह नहीं कहा जा सकता। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा, अगर हमला उतना सफल था जितना कि मोदी सरकार दावा कर रही है, तो यह देश के लिए और हम सभी के लिए गर्व की बात है। इसलिए हमें देखने दीजिए कि हमारी सेना ने किस तरह पाक इमारतों को ध्वस्त किया और उनके अहंकार को चकनाचूर कर दिया। पार्टी द्वारा यहां जारी एक विज्ञप्ति में भाजपा के उन आरोपों पर टिह्रश्वपणी करने को कहा गया था जिनके मुताबिक अभियान के साक्ष्य मांगने पर कांग्रेस को राष्ट्र विरोधी करार दिया गया था। मुख्यमंत्री ने कहा, यह पहली बार नहीं है, जब साक्ष्य मांगा गया है। सन 1965 की जंग में भी सेना के एक मेजर ने सीमा पर मारे गए दूसरे पक्ष के लोगों के कान काट कर साक्ष्य के तौर पर दिखाए थे, जिससे एक विशेष भारतीय अभियान को लेकर उठ रहे सवालों पर विराम लगाया जा सके। सिंह ने कहा कि करगिल अभियान की तस्वीरें भी जारी की गई थीं। सरकार से साक्ष्य मांगना किसी भी रूप में देशद्रोह नहीं है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7579201
 
     
Related Links :-
बेबसाइटों पर प्रलोभनों से बचें और साइबर अपराधों से सुरक्षित रहें : आलोक रॉय
संस्कृतियों, भाषाओं और पहचानों को नुकसान पहुंचने का बड़ा खतरा : बाजव
गुरुग्राम में जलभराव ने खोली सरकार के जुमलों की पोल : वर्धन यादव
कश्मीर : खस्ता-हाल पाकिस्तान
मंदिर बनाने की बात करने वाले संत रविदास का मंदिर ढहाए जाने पर चुप क्यों हैं : निशान सिंह
हंगामा क्यों है बरपा?
यौन उत्पीडऩ की भयावहता
संसद का गौरव बना रहे
संकल्प लें : पानी बचाएंगे, बिन पानी सब सून...
आए दिन हत्या, लूट, महिलाओं पर अत्याचारों का ग्राफ बढता जा रहा है
 
CopyRight 2016 DanikUp.com