Breaking News
कैबीनेट मंत्री राजभर का दावा, राममंदिर पर अध्यादेश कभी नहीं लाएगी बीजेपी  |   मिशन 2019: बीजेपी की गांव-गांव, पांव-पांव पदयात्रा आज से शुरू।  |   लोकसभा चुनाव से पहले अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी को एक बड़ा तोहफा दे सकते हैं पीएम मोदी।  |   आरएसएस ने फिर रटा राम का नाम कहा 2019 में होगा राम मंदिर का निर्माण, दिल्ली में आज से रथ यात्रा शुरू  |   हनुमान को दलित बताने वाले योगी आदित्यनाथ के बयान पर आजम ने कसा तंज कहा समझ नहीं आ रहा रोएं या हसें  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
15/09/2018  :  20:59 HH:MM
सिद्धू को पाकिस्तान नहीं जाना चाहिए था, क्रिकेट से अहम हमारे जवानः गंभीर
Total View  144

भारत का पाकिस्तान के साथ 1 साल बाद मुकाबला होगा, लेकिन इसके शुरू होने से पहले ही सवाल उठने लगे हैं कि क्या दुश्मन देश के साथ खेलना जरूरी है।

नई दिल्लीः एशिया कप के 14वें संस्करण की शुरुआत यूएई में बांग्लादेश-श्रीलंका के मुकाबले के साथ हो चुकी है। वहीं, भारत का पहला मुकाबला 18 सितंबर को हांगकांग से होगा, जबकि दूसरा मुकाबला 19 को चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से होगा। भारत का पाकिस्तान के साथ 1 साल बाद मुकाबला होगा, लेकिन इसके शुरू होने से पहले ही सवाल उठने लगे हैं कि क्या दुश्मन देश के साथ खेलना जरूरी है। इस पर क्रिकेटर गाैतम गंभीर ने एक चैनल को दिए इंटरव्यू के दाैरान बयान देते हुए इस मैच का बहिष्कार किया। साथ ही, क्रिकेटर से नेता बन चुके नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान जाने पर भी सवाल उठाए।

 

सिद्धू को पाकिस्तान नहीं जाना चाहिए था

गंभीर ने क्रिकेटर से राजनेता बने सिद्धू के पाकिस्तान दाैरे पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा, ''सिद्धू को पाकिस्तान नहीं जाना चाहिए था। जो देश आतंक फैला रहा है, उसके साथ जबरदस्ती हाथ मिलाना गलत है। पाक आर्मी चीफ को गले लगाने से पहले शहीद जवानों और उनके परिवार के बारे में सोचना चाहिए था।'' बता दें कि हाल ही में सिद्धू पाकिस्तान के पीएम बने इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में गए थे। वहां उन्होंने पाक आर्मी चीफ बाजवा को गले लगाया, जिसके बाद उनका कड़ा विरोध होने लगा। साथ ही तहरीक--इंसाफ (पीटीआई) के सांसद फैसल जावेद से साथ बातचीत के दौरान उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) और पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के विजेताओं के बीच तीन मैचों की सीरीज का सुझाव दिया था।

क्रिकेट से अहम हमारे जवान

एशिया कप में पाकिस्तान के साथ मैच होने से पहले गंभीर ने कहा, ''अगर रिश्ते ठीक नहीं हैं तो मैच नहीं होना चाहिए। क्रिकेट से अहम हमारे जवान हैं जो सीमा पर हमारी रक्षा के लिए आतंक से लड़ रहे हैं। सरकार पहले सीमा सुरक्षित करे, फिर क्रिकेट खेला जाए।'' उन्होंने कहा कि एक तरफ सीमा पर सैनिक शहीद हो रहे हैं, ऐसे में हमें पाकिस्तान के साथ किसी भी जगह क्रिकेट नहीं खेलना चाहिए।

पाकिस्तान के साथ ना हो कोई भी मैच

गंभीर ने साफ-साफ कहा है कि पाकिस्तान के साथ अगर सीरीज नहीं खेलनी तो फिर आईसीसी या एशिया कप जैसे इवेंट में भी भारत पाकिस्तान के साथ नहीं खेले। उन्होंने कहा, ''सरकार अगर आईसीसी इवेंट में भारत को पाकिस्तान के खिलाफ खेलने की अनुमति देती है तो सीरीज के लिए भी दे और अगर सीरीज नहीं हो रही है तो पूरी तरह पाकिस्तान को बैन करे।''

कपिल को रिश्ते सुधरने की उम्मीद

वहीं, पूर्व कप्तान कपिल देव को इमरान के प्रधानमंत्री बनने से रिश्ते सुधरने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की नई सरकार भारत के साथ संबंध बेहतर करने की कोशिश करेगी, ताकि फिर से दोनों देशों के बीच क्रिकेट शुरू हो सके। संबंध बेहतर होने के बाद ही दोनों देशों के बीच क्रिकेट मैच खेले जाएं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4674264
 
     
Related Links :-
Asia Cup: जडेजा ने चौथा विकेट झटका, बंगलादेश का स्कोर 128/7
खामोशी से टीम में जगह बनाने वाले सरदार ने उसी अंदाज में कहा हाॅकी को अलविदा
सिद्धू को पाकिस्तान नहीं जाना चाहिए था, क्रिकेट से अहम हमारे जवानः गंभीर
मलिंगा की धमाकेदार वापसी, 34 साल में कभी नहीं हुआ ऐसा कारनामा
तमिलनाडु के तीन स्क्वाश खिलाडिय़ों को राज्य देगी 30-30 लाख रूपए
चीन की दादागिरी में लगी सेंध, गोल्ड भी कम हुए मैडलों की संख्या भी
Asian Games: एथलीट जिनसन जॉनसन ने भारत के लिए जीता 12वां 'गोल्ड'
लाला अमरनाथ हैं भारत की ओर से पहला शतक लगाने वाले ऑल राउंडर
अब यो-यो टेस्ट के बाद आया नेक्सा टेस्ट, खिलाड़ी बाहर हुए तो कोहली होंगे जिम्मेदार
फ्रेंच ओपन : जोकोविच जीते, वोजनियाकी पहुंची प्री क्वार्टर फाइनल में
 
CopyRight 2016 DanikUp.com