Breaking News
मुश्किल में BSP सुप्रीमो मायावती, HC ने राज्य सरकार से तलब की विजिलेंस जांच स्टेटस  |   UP: बहराइच के जिला अस्पताल में पिछले 45 दिनों में 71 बच्चों की हुई मौत  |   राजा भैया के पिता को इस साल भी नहीं मिली भंडारे की अनुमति, प्रशासन ने किया नजरबंद  |   मौजूदा हालातों कोे देखते हुए भारत-पाक मुलाकात हुई रद्द: सूत्र   |   J&K: शोपियां में SPO समेत 4 पुलिसकर्मी लापता, आतंकियों पर अगवा करने का शक  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
14/07/2018  :  17:38 HH:MM
फरियादी के साथ अच्छा बर्ताव करें अधिकारी: नाईक
Total View  95

फीडबैक’लेने के लिए जिस क्षेत्र में काम करते हैं जनसंपर्क बनाये रखें सदैव व्यवहार कुशलता और विनम्र भाषा का प्रयोग करें। पीड़ित फरियादी के साथ अच्छा बर्ताव करें। गलत परंपराओं को अपने स्तर पर सुधारने की कोशिश करें,

लखनऊः उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक से शुक्रवार को राजभवन में सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों ने शिष्टाचारिक भेंट की। राज्यपाल ने परिचय प्राप्त करने के उपरान्त कहा कियह अच्छी पहचान है कि जोजयहिन्द सरकहकर अभिवादन करते हैं, वे पुलिस सेवा से हैं और जोनमस्कार सर या प्रणाम सरकह रहे हैं, वे अन्य सेवा में कार्यरत हैं। प्रसन्नता की बात है कि आपने जनसेवा का प्रण लेकर सरकारी सेवा करने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा किफीडबैकलेने के लिए जिस क्षेत्र में काम करते हैं जनसंपर्क बनाये रखें सदैव व्यवहार कुशलता और विनम्र भाषा का प्रयोग करें। पीड़ित फरियादी के साथ अच्छा बर्ताव करें। गलत परंपराओं को अपने स्तर पर सुधारने की कोशिश करें, जो भी बात या काम करें उसे पूरे सबूत के साथ रखें जिससे लोगों का आप पर विश्वास बढ़े।   उन्होंने कहा कि आपके कार्य से आपको और जिनके लिए काम कर रहे हैं दोनों को समाधान मिलना चाहिए।

 

उन्होंने दृष्टि में सकारात्मकता लाने की बात कहते हुए कहा कि अपने दायित्व का निर्वहन एवं निष्पादन ठीक प्रकार से करें। आने वाले कल की तैयारी एक दिन पूर्व करें, कठिन परिस्थितियों में संयम से काम लें, सार्वजनिक स्थान पर अपने अधीनस्थों की अवमानना करें, बल्कि उन्हें सुधारने का प्रयास करें। दूसरों के अच्छे गुणों की प्रशंसा करें चाहे वो आपसे पद में छोटे या बड़े हों और अच्छे गुणों को आत्मसात करने की कोशिश करें, दूसरों को छोटा दिखाए तथा हर काम को और बेहतर ढंग से करने का प्रयास करें। 

राज्यपाल ने अपने बारे में बताते हुए कहा कि उन्होंने 1954 में बी.काम करने के बाद एल.एल.बी तक की पढ़ाई की है। महालेखाकार कार्यलय में कुछ वर्षों तक सरकारी सेवा करने के उपरान्त त्यागपत्र देकर निजी क्षेत्र में भी नौकरी की है। राजनीति में आने के बाद वे मुंबई से लगातार तीन बार विधायक और पांच बार सांसद रहे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्रिमण्डल में वे अनेक विभागों के मंत्री के साथ-साथ लगातार पांच साल पेट्रोलियम मंत्री भी रहे। उन्होंने अपने सार्वजनिक जीवन से जुड़े कुछ अनुभव भी साझा किए।

उन्होंने यह भी बताया कि वे बचपन से सूर्य नमस्कार करते रहे हैं तथा सांसद रहते हुए उन्हें 1994 में कैंसर हुआ था, जिसका इलाज विदेश में कराकर मुंबई के टाटा अस्पताल में कराया था। उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबन्धन अकादमी, लखनऊ का 52वां आधारभूत प्रशिक्षण कार्यक्रम 23 अप्रैल, 2018 से 20 जुलाई, 2018 तक आयोजित किया गया है। इस आधारभूत प्रशिक्षण कार्यक्रम में 7 महिलाएं और 32 पुरूष अधिकारी प्रतिभाग कर रहे हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2468902
 
     
Related Links :-
शहीद हेमराज की पत्नी बोली- पाकिस्तान को दिया जाए उसी की भाषा में जवाब
UP: बहराइच के जिला अस्पताल में पिछले 45 दिनों में 71 बच्चों की हुई मौत
अपने गढ़ इटावा में पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोलेगी सपा
24 सितम्बर को अमेठी आएंगे राहुल गांधी, पारंपरिक तरीके से किया जाएगा स्वागत
3 तलाक पर आजम खान ने दी तीखी प्रतिक्रिया, कहा- ‘हम सिर्फ अल्लाह के कानून को मानेंगे’
गलत काम और भ्रष्टाचार करने का ठेका सपा-बसपा का हैः केशव
प्रदेश में संक्रामक रोगों के नियंत्रण हेतु टीमों को किया हाई एलर्ट
प्रतिष्ठित इलाहाबाद विश्वविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर ने कुलपति को सौंपा इस्तीफा
वाराणसी में बोले योगी-मोदी के नेतृत्व में वाराणसी का अधिक विकास हुआ
मोर्चा अखिलेश और डिंपल के खिलाफ भी उम्मीदवार खड़ा करेगा: शिवपाल
 
CopyRight 2016 DanikUp.com