Breaking News
कुंभ में जनता की गाढ़ी कमाई बर्बाद कर रही है यूपी सरकार : राजभर  |   JNU राजद्रोह केसः दिल्ली पुलिस, सरकार में शुरू हुआ दोषारोपण  |   कुंभ से UP को मिलेगा 1.2 लाख करोड़ रुपये का राजस्व, 6 लाख रोजगार: CII  |   एनसीडब्ल्यू भेजेगा साधना सिंह को नोटिस।  |   मायावती पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर फंसी बीजेपी विधायक साधना सिंह।   |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
13/07/2018  :  22:30 HH:MM
मुन्ना बजरंगी हत्या मामला: मुख्तार अंसारी की सुरक्षा को लेकर उसके परिजनों ने जताई चिंता
Total View  224

उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र में शामिल हो रहे थे तो उन्होंने कहा था कि उनके जीवन को खतरा है लेकिन सवाल यह है कि सुरक्षा किससे मांगी जाए। जब मुख्यमंत्री खुद ही सदन में कह रहे हैं कि ‘ठोक दिया जाएगा’ तो पुलिस वस्तुत: फर्जी मुठभेड़ें कर रही है।

बागपत/लखनऊ: माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या के कुछ दिन बाद ही जेल में बंद एक अन्य डॉन मुख्तार अंसारी के परिजनों ने उसकी सुरक्षा को लेकर चिन्ता व्यक्त की है। मुख्तार के भाई अफजाल ने कहा कि जहां तक सुरक्षा का प्रश्न है, इस सरकार से कोई उम्मीद नहीं की जा सकती। अफजाल ने सवाल उठाया कि इस सरकार से कोई उम्मीद है क्या? सभी उम्मीदें खत्म हो चुकी हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्तार जब उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र में शामिल हो रहे थे तो उन्होंने कहा था कि उनके जीवन को खतरा है लेकिन सवाल यह है कि सुरक्षा किससे मांगी जाए। जब मुख्यमंत्री खुद ही सदन में कह रहे हैं किठोक दिया जाएगा तो पुलिस वस्तुत: फर्जी मुठभेड़ें कर रही है। उन्होंने दावा किया कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति में गिरावट आई है। दुष्कर्म और हत्या की घटनाएं रोजाना हो रही हैं। बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने 29 जून को एक प्रैस वार्ता में दावा किया था कि उनके पति के जीवन को खतरा है।

इस बीच बागपत के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी सुनील राठी ने बजरंगी को मारने के बाद सभी साक्ष्य मिटा दिए थे। इस सवाल पर कि क्या राठी को बागपत जेल से दूसरी जगह भेजने की कोई योजना है, अधिकारी ने कहा कि फिलहाल ऐसा कोई विचार नहीं है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9496367
 
     
Related Links :-
अखिलेश-जयंत की बैठक कल, खुलेगी गठबंधन की गांठ
राजभर ने भाजपा को दिया जीत का फार्मूला
शिवपाल यादव को मिली चाबी क्या खोलेगी किस्मत का ताला ?
अखिलेश-मायावती के गठबंधन के बाद क्या UP के मुसलमान रोकेंगे PM मोदी का विजय रथ?
भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस से सहयोग को तैयार: शिवपाल यादव
यूपी 69000 शिक्षक भर्ती 2018: शिक्षामित्रों को लगा तगड़ा झटका
मैं ही मोदी हूं, मैं ही योगी हूं
इलाहाबाद का नाम बदलना अस्था व परम्परा के साथ खिलवाड़: अखिलेश
शिवपाल यादव को राज्य संपत्ति विभाग ने अलॉट किया नया बंगला, पहले हुआ करता था BSP कार्यालय
लखनऊ: ब्रह्मोस इंजीनियर निशांत को CJM कोर्ट ने 7 दिनों की पुलिस कस्टडी में भेजा
 
CopyRight 2016 DanikUp.com