दैनिक यूपी ब्यूरो
10/03/2016  :  21:15 HH:MM
मेरठ के नगर आयुक्त, उपाध्यक्ष एवं विकास प्राधिकरण के सचिव को किया अदालत में तलब
Total View  231

न्यायालय ने नगर में अवैध निर्माण हटाने का आदेश दिया था नेकिन आदेश का पालन नहीं किया गया। अदालत में सफाई दी गयी कि इस मामले में अपील विचाराधीन है।

इलाहाबाद
इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने संतोषजनक हलफनामा दाखिल न करने पर मेरठ के नगर आयुक्त , उपाध्यक्ष और विकास प्राधिकरण के सचिव को स्पष्टीकरण के साथ 31 मार्च को हाजिर होने का निर्देश दिया है। 
न्यायालय ने नगर में अवैध निर्माण हटाने का आदेश दिया था नेकिन आदेश का पालन नहीं किया गया। अदालत में सफाई दी गयी कि इस मामले में अपील विचाराधीन है। कोई स्थगनादेश न होने के बावजूद मकान ध्वस्त नहीं करने तथा न्यायालय से सही तथ्य छिपाने को उच्च न्यायालय ने गंभीरता से लिया है और कहा है कि क्यों न इनके खिलाफ अदालत के आदेश की अवहेलना करने के लिए अवमानना कार्यवाही के तहत दंडित किया जाए। न्यायालय ने कारण बताओ नोटिस जारी की है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2055939
 
     
Related Links :-
काशी का हो रहा है कायाकल्प, शीघ्र पूरी होंगी 25 बड़ी परियोजनाएं : योगी आदित्यनाथ*
सत्ता के लिए विपक्ष को देशहित की भी चिंता नहीं : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
चालान काटना नहीं बल्कि जागरूकता फैलाना पुलिस का लक्ष्य: योगी आदित्यनाथ*
महिला कल्याण की योजनाओं की निगरानी करेंगी महिला नोडल अधिकारी : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
कांग्रेस नेत्री राजकुमारी रत्ना सिंह हुईं भाजपा में शामिल*
कांग्रेस के पास न नेता है, न नीति और न ही नीयत: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
गो-संरक्षण को लेकर योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, महराजगंज के जिलाधिकारी समेत 5 अधिकारी सस्पेंड*
मुख्यमंत्री योगी की किसानों से अपील, खेत में न जलाएं पराली*
कांग्रेस और एनसीपी की जब्त होगी जमानत: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
रणछोड़’ हैं राहुल, संकट में देश के लिए नही खड़े हो सकते : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
 
CopyRight 2016 DanikUp.com