Breaking News
सेना में महिला अफसरों को स्थायी कमीशन का एलान  |   2022 तक अंतरिक्ष में मानव मिशन भेजने का एलान  |   प्रधानमंत्री ने की तीन तलाक की चर्चा  |   82 मिनट के भाषण में पीएम मोदी ने पेश किया सरकार के कामकाज का लेखा जोखा  |   लाल किले के प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 सितंबर से आयुष्मान भारत शुरू करने का किया एलान  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
14/06/2018  :  00:59 HH:MM
सेना के 'कश्मीर सुपर 50' के 32 छात्रों ने क्लियर किया जेईई (मेंस)
Total View  13

जेईई, जेकेसीईटी और अन्य इंजिनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए मुफ्त रेजिडेंशल कोचिंग मुहैया कराई गई। मेंस क्वॉलिफाई करने वालों में 20 अनुसूचित जनजाति श्रेणी, 2 अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी के छात्र हैं और 2 लड़कियां है

नई दिल्ली, पटना के 'सुपर 30' की तर्ज पर सेना और एक एनजीओ के सहयोग से चलाए जा रहे 'कश्मीर सुपर 50' प्रॉजेक्ट के 32 कश्मीरी छात्रों ने जेईई (मेंस) क्लियर किया है। उन छात्रों में से 7 ने जेईई (अडवांस्ड) क्लियर किया है। कोचिंग के लिए चुने गए कुल 50 छात्रों में से 45 लड़के और पांच लड़कियां थीं। उनको जेईई, जेकेसीईटी और अन्य इंजिनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए मुफ्त रेजिडेंशल कोचिंग मुहैया कराई गई। मेंस क्वॉलिफाई करने वालों में 20 अनुसूचित जनजाति श्रेणी, 2 अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी के छात्र हैं और 2 लड़कियां है। सुपर 50 का यह पांचवां बैच है।

आर्मी चीफ से छात्रों की मुलाकात

कश्मीर सुपर 50 के 30 छात्रों के एक ग्रुप ने 12 जून को आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत से भेंट की। जनरल बिपिन रावत ने इन छात्रों से बातचीत की और इन क्षेत्रों में सेवा देते समय जो उनको अनुभव हासिल हुआ था, उसको इन छात्रों से साझा किया। उन्होंने छात्रों को कड़ी मेहनत करने और राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में सक्रिय योगदान देने के लिए प्रेरित किया।

कश्मीर सुपर 50 के बारे में

प्रॉजेक्ट कश्मीर सुपर 50 को 22 मार्च, 2013 को लॉन्च किया गया था जिसका मकसद कश्मीर क्षेत्र के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के बच्चों के शैक्षिक उत्थान के लिए काम करना था। यह भारतीय थल सेना, सेंटर फॉर सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी ऐंड लीडरशिप और पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड (पीएलएल) की संयुक्त पहल है। इस पहल के हिस्से के तौर पर गरीब वर्ग के उन छात्रों को चुना जाता है जिनलोगों ने 12वीं क्लास में 70 फीसदी से ज्यादा मार्क्स हासिल किया हो। उन छात्रों को फिर एक ऐप्टिट्यूड टेस्ट देना होता है और उनमें से टॉप 50 छात्रों को चुना जाता है।प्रॉजेक्ट के तहत चुने गए छात्रों की तैयारी के लिए 11 महीने का प्रोग्राम चलाया जाता है जिस दौरान छात्रों को आईआईटी-जेईई, जेकेसीईटी और अन्य प्रमुख इंजिनियरिंग संस्थानों में दाखिले के लिए मुफ्त रेजिडेंशल कोचिंग मुहैया कराई जाती है।

भूमिका

कश्मीर सुपर 50 घाटी में भारतीय थल सेना की सबसे सफल पहल रही है। इसके तहत बड़ी संख्या में कश्मीर के युवाओं को करियर बनाने के लिए सही मार्गदर्शन और अवसर मुहैया कराया गया जिसका सीधा असर इन युवाओं पर देखने को मिला है। इन युवाओं के परिवार को भी उनकी सुख और समृद्धि में इससे मदद मिल रही है। इस प्रॉजेक्ट की सबसे बड़ी सफलता घाटी में सामान्य हालत वापस लाना है। युवाओं के मुख्य धारा से जुड़ने से उनके व्यवहार में बदलाव रहा है जिससे घाटी में शांति बहाली में मदद मिलेगी।

इंजिनियरिंग की तरह मेडिकल के लिए भी मुफ्त कोचिंग

इंजिनियरिंग के छात्रों के लिए कश्मीर सुपर 50 की तर्ज पर सेना ने मेडिकल कोर्सों में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली परीक्षा नैशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) के लिए भी मुफ्त रेजिडेंशल कोचिंग मुहैया कराने का फैसला लिया है। इसके लिए भारतीय थल सेना ने हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) और नैशनल इंटेग्रिटी एजुकेशनल डिवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (नीडो) के साथ करार किया है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6323911
 
     
Related Links :-
रिवइज हुई JEE-अडवांस्ड की मेरिट लिस्ट, अब 32 हजार छात्र पास
JNU में ऑनलाइन एग्जाम का विरोध
सेना के 'कश्मीर सुपर 50' के 32 छात्रों ने क्लियर किया जेईई (मेंस)
CLAT परीक्षाः तकनीकी खामियों से हुआ समय बर्बाद, अतिरिक्त नंबर देने का SC का आदेश
याेगी सरकार का फैसला: अब 20 दिन में पूरी होंगी यूपी बोर्ड की परीक्षाएं
DU: अब एंट्रेंस की बारी, फाइनल शेड्यूल जारी
QS रैंकिंग: IIT-B का शानदार परफॉर्मेंस, जानें किस नंबर पर
हायर एजुकेशन के लिए अभी नहीं होगा HEERA का गठन
स्टीफंस में UG के लिए ऐडमिशन प्रोसेस शुरू, जानें कब तक करें आवेदन
AUD: यूजी ऐडमिशन प्रोसेस शुरू, जानें लास्ट डेट कब
 
CopyRight 2016 DanikUp.com