Breaking News
अगले माह होगा पीएम मोदी की नई कूटनीति का आगाज पाकिस्तानी प्रधानमंत्री से हो सकती है मुलाकात  |   राम मंदिर की खबर दिखाने के कारण कनाडा मे अपना रेडियो ऑफ एयर कर दिया   |   मतदान निपटते ही योगी ने राजभर को निपटाया  |   एग्जिट पोल ने क्षेत्रीय दलों की उड़ाई नींद  |   पीएम मोदी की आपत्तिजनक फोटो डालने पर दिल्ली में केस दर्ज  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
07/06/2018  :  23:28 HH:MM
भीमा कोरेगांव मामले में जिग्नेश मेवाणी को समन भेज सकती है पुणे पुलिस
Total View  245

रोना विलिसन के घर छापेमारी के वक्त पुलिस के हाथ एक लेटर भी लगा है, जिसमें कांग्रेस के साथ विल्सन के तार जुड़े होने की बात की गई है। इस मामले में बात करते हुए कदम ने कहा कि लेटर में मिली जानकारी कितनी सच है

भीमा कोरेगांव मामले में गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए पुणे के जॉइंट पुलिस कमिश्नर रविंद्र कदम ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो पूछताछ के लिए गुजरात के बड़गाम से विधायक जिग्नेश मेवाणी को समन भेज सकते हैं।

इसके साथ ही मामले में नक्सलियों के साथ कनेक्शन के शक में रोना विल्सन और सुधीर की गिरफ्तारी पर बात करते हुए कदम ने कहा किरोना विल्सन के घर से हमे पेन ड्राइव, हार्ड डिस्क और अन्य कुछ दस्तावेज मिले हैं। जिन्हें फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि हमें खबर मिली है कि रोना विल्सन और सुधीर के नक्सलियों के साथ संबंध हैं।

रोना विलिसन के घर छापेमारी के वक्त पुलिस के हाथ एक लेटर भी लगा है, जिसमें कांग्रेस के साथ विल्सन के तार जुड़े होने की बात की गई है। इस मामले में बात करते हुए कदम ने कहा कि लेटर में मिली जानकारी कितनी सच है और कितनी गलत ये तो जांच के बात ही पता चल पाएगा। इसके साथ ही कदम ने बताया कि एल्गार परिषद के आयोजन में कई लोगों की अहम भूमिका थी। मगर इनमें से सभी लोगों का नक्सलियों के साथ संबंध नहीं हैं।

बता दें पुणे पुलिस ने बुधवार को भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में नक्सलियों से कथित तौर पर जुड़ाव के लिए मुंबई, नागपुर और दिल्ली से नामी दलित कार्यकर्ता सुधीर धावले समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया था।

पुणे पुलिस के सूत्रों के मुताबिक बुधवार को सुबह एक साथ कई छापे के दौरान धावले को मुंबई में उनके घर से गिरफ्तार किया गया, वकील सुरेंद्र गाडलिंग, एक्टिविस्ट महेश राउत और शोमा सेन को नागपुर से और रोना विल्सन को दिल्ली में मुनरिका स्थित उनके फ्लैट से गिरफ्तार किया गया।

 

धावले एल्गार परिषद के आयोजकों में थे। शनिवारवडा में 31 दिसंबर को भीमा कोरेगांव लड़ाई के 200 साल पूरे होने के मौके पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। विश्रामबाग थाने में दर्ज FIR के अनुसार कबीर कला मंच के कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर भड़काऊ भाषण दिए थे, जिस कारण कोरेगांव भीमा में हिंसा हुई।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5429098
 
     
Related Links :-
विजीलैंस ब्यूरो ने आतंकवाद के विरुद्ध लडऩे के लिए ली शपथ
आम आदमी पार्टी के नेता भगवत मान ने कहा आप ने जनता के मुद्दों पर केंद्रित होकर लड़ा चुनाव
संगठन के फीडबैक से सीएम उत्साहित
शहीद संदीप के परिजनों से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री
मतदाताओं पर मतदान दिवस पर वोट डालने की अपील की : टंडन
राष्ट्रीय कार्यशाला का न्यायाधीश ने किया शुभारंभ शोषित और दिव्यांगजनों को सामाजिक न्याय तथा आगे बढऩे के मिलें अवसर : अत्री
भारतीय सांस्कृतिक विरासत कार्यक्रम मिलेंगे
सिद्धू की आवाज पर फिर मंडराया खतरा, डॉक्टर्स ने दी 4 दिन नहीं बोलने की सलाह
पीएम के राडार विज्ञान वाले बयान का पूर्व फाइटर ने किया बचाव
अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधिमंडल चुनाव प्रक्रिया देखने गुरुग्राम पहुंचा
 
CopyRight 2016 DanikUp.com