Breaking News
सार्क देशों के नेताओं ने भी दी अटल को श्रद्धांजलि  |   आज से शुरू होगा मॉरीशस में विश्व हिंदी सम्मेलन  |   अटल की अंतिम यात्रा में योगी, केशव मौर्य सहित यूपी के दिग्गज नेताओ का जमावड़ा  |   अटल की अंतिम यात्रा में पैदल चले मोदी  |   राजकीय सम्मान के साथ विदा हुए अटल  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
04/06/2018  :  13:48 HH:MM
इसलिए चाणक्य महल नहीं झोपड़ी में रहते थे
Total View  85

राजदूत चाणक्य से मिलने उनके निवास स्थान गंगा तट की ओर चल पड़ा। वहां जाकर देखा कि गंगातट पर एक ऊंचा लंबा दृढ़ व्यक्तित्व का धनी नहा रहा है।

चाणक्य राजा चंद्रगुप्त मौर्य के महामंत्री थे। एक बार यूनान का राजदूत भारत आया हुआ था। उसने चाणक्य की बहुत प्रशंसा सुन रखी थी। वह चाणक्य का रहन-सहन देखना चाहता था। वह राजदूत चाणक्य से मिलने उनके निवास स्थान गंगा तट की ओर चल पड़ा। वहां जाकर देखा कि गंगातट पर एक ऊंचा लंबा दृढ़ व्यक्तित्व का धनी नहा रहा है। राजदूत ने उस व्यक्ति से पूछा कि क्या मुझे बता सकते हो कि चाणक्य कहां रहता है।

उसने जवाब दिया सामने झोपड़ी में। राजदूत को विश्वास नहीं हुआ कि एक राज्य का महामंत्री एक झोपड़ी में रह सकता है। वह झोपड़ी के द्वार पर पहुंचा तो देखा कि भीतर कोई नहीं है। यह सब देखकर लगा कि किनारे पर मिले व्यक्ति ने उसके साथ मजाक किया है। वह मुड़ने लगा तो वही व्यक्ति सामने खड़ा था। उसे देखकर राजदूत ने पूछा- तुमने तो कहा था कि महामंत्री चाणक्य यहां रहते हैं, लेकिन यहां तो कोई नहीं है।

वह व्यक्ति बोला- आपका स्वागत है। मैं ही चाणक्य हूं। अब राजदूत के आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। उसे लगा कि सामने खड़ा व्यक्ति अवश्य ही मजाक कर रहा है। उसने कहा- मौर्य राज्य का महामंत्री झोपड़ी में? यह कैसे संभव है? चाणक्य ने जवाब दिया कि जब महामंत्री सुख और वैभव से लबालब भरे महलों में रहने लग जाएंगे तो फिर जनता का दुख दर्द कैसे जाना जाएगा? मैं झोपड़ी में रहकर ही जनता के दुख-सुख में भागी हो सकता हूं।

शासन की बागडोर संभालने वाले जिम्मेदार लोग जब सुख-सुविधाओं का भोग करते हैं, तो उनका सारा ध्यान अपने ही ऐशो-आराम पर केंद्रित हो जाता है, और वे जनता के साथ न्याय नहीं कर पाते। ऐसे राज्य में अराजकता फैलने लगती है। राजदूत पर केवल चाणक्य की सादगी का असर हुआ बल्कि उनकी बातों ने उसे झकझोर दिया।

 

पाक सेना कीनापाक हरकतें मोदी सरकार की विफल पाक नीति का परिणाम: कांग्रेस

नई दिल्ली: कांग्रेस ने नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी सेना कीनापाक हरकतों को मोदी सरकार कीविफल पाक नीति का परिणाम करार देते हुए सवाल किया किआखिर हमारे हुक्मरान देश की सुरक्षा को कब तक खतरे में डालते रहेंगे।कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मोदी सरकार की विफल पाक नीति का एक ताजा उदाहरण: सीमा पर पाक की नापाक हरकतों से 2 जवान शहीद और 13 नागरिक घायल,31 गांवों में 27000 लोग प्रभावित।’’ उन्होंने पूछा, ‘‘आखिर कब तक हमारे हुक्मरान अपनी ढुल-मुल नीतियों से देश की सुरक्षा को $खतरे में डालते रहेंगे?’’






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2354476
 
     
Related Links :-
खूबसूरत तवायफ की देशभक्ति, जान दे दी मगर राज नहीं बताया
इसलिए चाणक्य महल नहीं झोपड़ी में रहते थे
चाणक्य नीतिः इन 5 गुणों वाले लोग नहीं होते हैं कभी असफल
जब ईश्वर चंद्र विद्यासागर ने कहा, मैं इस पद के योग्य नहीं
नंदी-योग का क्या पड़ता है आपकी राशि पर असर
परिश्रमी होते हैं वृष राशि में जन्मे लोग
मूर्ति पूजा करने से पहले धर्म को जरूर जान लें
सोमवार को शिव पूजन से पूरी होती हर इच्छा
शनि को करना है संतुष्ट तो ऐसे करें पूजा
अब एक दिन में 50 हजार लोग ही कर सकेंगे वैष्णो देवी के दर्शन
 
CopyRight 2016 DanikUp.com