दैनिक यूपी ब्यूरो
04/06/2018  :  13:47 HH:MM
PM मोदी की लोकप्रियता घटते ही केजरीवाल ने बदली हमलों की रणनीति
Total View  371

आम आदमी पार्टी के नेताओं और राजनीतिक पर्यवेक्षकों का कहना है कि और सीएम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमलों की अपनी रणनीति में बदलाव कर लिया है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल वर्ष 2019 के आम चुनाव के लिए माहौल बनने की शुरुआत के साथ ही राजनीतिक खेल भी खेलते प्रतीत हो रहे हैं। आम आदमी पार्टी के नेताओं और राजनीतिक पर्यवेक्षकों का कहना है कि और सीएम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमलों की अपनी रणनीति में बदलाव कर लिया है। वर्ष 2017 में पंजाब में आम आदमी पार्टी के खराब प्रदर्शन तथा उत्तर प्रदेश में भाजपा द्वारा अन्य दलों का सूपड़ा साफ कर दिए जाने के बाद केजरीवाल ने पीएम पर अपने हमलों की तीव्रता कम करने का फैसला किया था।

भाजपा कर रही हार का सामना

केजरीवाल एक साल से अधिक समय तक अपनी इस रणनीति पर कायम रहे लेकिन हाल में भाजपा की कई चुनावी हार और केंद्र की भाजपा नीत सरकार के खिलाफ धीरे-धीरे बढ़ रही सत्ता विरोधी लहर को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री ने एक बार फिर मोदी पर अपने हमलों की धार तेज करने का फैसला कर लिया है। आप के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि उत्तर प्रदेश के चुनाव परिणाम के बाद 2017 में केजरीवाल ने जब अपनी रणनीति में बदलाव किया तो तब मोदी का करिश्मा बरकरार था। आप ऐसे नेता पर हमले नहीं करते जो लोकप्रिय हो क्योंकि उसका उल्टा असर होता है। लेकिन अब जब वह (मोदी) अलोकप्रिय हो रहे हैं तो रणनीति बदल गई है। 

भाजपा के खिलाफ विपक्ष हुआ एकजुट

वरिष्ठ नेता के अनुसार पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि के चलते मोदी सरकार के खिलाफ लोगों के गुस्से, हालिया उपचुनावों में भाजपा की हार तथा भाजपा के खिलाफ विपक्ष के एकजुट होने की वजह से केजरीवाल ने रणनीति बदल ली है। गत 31 मई को आए उपचुनाव परिणामों में भाजपा महज एक लोकसभा सीट पर जीती थी। विधानसभा सीटों में से भी उसके खाते में केवल एक सीट आई थी। इसके बाद केजरीवाल ने सावधानी के साथ एक ट्वीट कर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की तारीफ की थी जिन्हें उन्होंने 2013 के दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान अपने भ्रष्टाचार विरोधी अभियान के तहत निशाना बनाया था। उसके बाद 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी केजरीवाल ने मनमोहन को निशाना बनाया था।

महागठबंधन का केजरीवाल को फायदा

उपचुनाव परिणाम के बाद केजरीवाल ने कहा था कि परिणाम प्रधानमंत्री के खिलाफ लोगों के गुस्से को दिखाते हैं। राजनीतिक विश्लेषक संजय कुमार ने कहा कि जब कोई नेता लोकप्रिय हो तब उस पर हमला करने का उल्टा असर होगा। अब जब विपक्ष मोदी के खिलाफ एकजुट हो रहा है, उपचुनाव परिणाम जब सत्ता विरोधी लहर दिखाते हैं तो केजरीवाल को फायदा दिख रहा है और वह हमले कर रहे हैं। आप की दिल्ली इकाई के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि केजरीवाल मनुष्य हैं और वह जवाबी हमला करेंगे ही। दिल्ली सरकार को काम नहीं करने दिया गया है।

भारद्वाज ने कहा कि हमने अपने हमलों को कम करने तथा काम पर ध्यान देने की रणनीति अपनाने की कोशिश भी की लेकिन पिछले एक साल में हुई घटनाएं दिखाती हैं कि इस रणनीति ने काम नहीं किया है। वह दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के आवास पर सीबीआई के छापे, मुख्यमंत्री अंशु प्रकाश पर आप विधायकों के कथित हमले के संबंध में मुख्यमंत्री केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया से पूछताछ किए जाने, दिल्ली सरकार के सलाहकारों को हटाए जाने तथा पीडब्ल्यूडी कार्य में कथित अनियमितता के मामले में केजरीवाल के रिश्तेदार की गिरफ्तारी के संबंध में बोल रहे थे। 

 






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6692618
 
     
Related Links :-
लद्दाख में तनाव बढ़ा, चीन ने बढ़ाए सैनिक, भारत भी आक्रामक रुख पर अड़ा
कश्मीर पर सऊदी देगा भारत को झटका, उठाएगा ये कदम
भारतीयों को वापस लाने के प्लान पर चर्चा जारी
कोविड - 19 के चलते लाखों लोग भूख का हो सकते हैं शिकार
भारत को बड़ा बाजार मान रहे खाड़ी देश*
*ई - टेक के जरिये सार्क देश साझा कर रहे कोविड नियंत्रण के तरीक़े*
पूर्व सैनिकों ने परेड में बीएसएफ को शामिल न करने पर जताया विरोध
अमेरिका - ईरान तनाव: जयशंकर ने कहा तनाव ने लिया गंभीर मोड़
प्रधानमंत्री ने कहा दशकों से चली आ रही प्रक्रिया का समापन
आतंक के खिलाफ दुनिया के देशों को साथ आने की जरूरत - बिड़ला
 
CopyRight 2016 DanikUp.com