दैनिक यूपी ब्यूरो
04/06/2018  :  13:42 HH:MM
राउत बोले-भाजपा है शिवसेना की सबसे बड़ी ‘राजनीतिक शत्रु’
Total View  377

राउत ने कहा कि देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह दोनों को नहीं चाहता है लेकिन कांग्रेस या जद (एस) नेता एचडी देवगौड़ा को स्वीकार कर सकता है।

पालघर में हालिया लोकसभा उपचुनाव के बाद शिवसेना के सांसद संजय राउत ने रविवार को भाजपा पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि वह उनकी पार्टी की सबसे बड़ी राजनीतिक शत्रुहै। राउत ने कहा कि देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह दोनों को नहीं चाहता है लेकिन कांग्रेस या जद (एस) नेता एचडी देवगौड़ा को स्वीकार कर सकता है।

  शिवसेना को कमजोर कर रही भाजपा

राउत ने शिवसेना के मुखपत्र सामना में प्रकाशितरोख ठोक स्तंभ में कहा कि शिवसेना भाजपा की सबसे बड़ी राजनीतिक शत्रु है। शिवसेना का प्रखर हिन्दुत्ववाद भाजपा के लिए अड़चन पैदा कर सकता है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पालघर में चिंचतामण वनगा के बेटे (शिवसेना के उम्मीदवार) को हराकर उन्हें श्रद्धाजंलि दी।

इस सीट पर चिंचतामण वनगा के निधन के चलते उपचुनाव आवश्यक हो गया था। राउत ने आरोप लगाया कि शिवसेना भाजपा की मुख्य राजनीतिक विरोधी है, इसलिए उनकी योजना उद्धव ठाकरे की पार्टी के साथ सत्ता में रहते हुए उसे कमजोर करने की है।

जनता मोदी और शाह को नहीं करेगी स्वीकार

राउत ने दावा किया कि भाजपा ने पालघर उपचुनाव में शिवसेना की हार सुनिश्चित करने के लिए अपने संसाधनों का इस्तेमाल किया। उन्होंने पालघर में ईवीएम मेंगड़बड़ी की वजह से भाजपा की जीत हुई। उन्होंने कहा कि भाजपा पालघर लोकसभा उपचुनाव जीतने में सफल रही लेकिन कई अन्य लोकसभा और विधानसभा उपचुनाव हार गई। इससे दिखता है कि देश में कई जगह बदली हुई हवा चल रही है। सांसद ने कहा कि उपचुनाव परिणाम भाजपा के पतन की शुरुआत हैं। देश की ऐसी स्थिति है कि वह कांग्रेस या देवगौड़ा को स्वीकार कर सकता है , लेकिन मोदी और शाह को नहीं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5176175
 
     
Related Links :-
दिल्ली हिंसा मामले में चार्जशीट दाखिल, ताहिर हुसैन को बताया मास्टरमाइंड
योगी आदित्यनाथ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की बैठक की तस्वीर देखकर खुश हुए होंगे?
यूपी सरकार और कांग्रेस में जुबानी जंग तेज, बैरंग लौटीं बॉर्डर पर खड़ी बसें
भारतीय नेवी पर भी कोरोना वायरस का साया, टेस्ट में 21 नौसैनिक मिले पॉजिटिव
एनयूजेआई-डीजेए की मांग, नेशनल जर्नलिस्ट्स रजिस्टर बनाए केंद्र सरकार
गोरखपुर के साथ-साथ पूर्वांचल के विकास का बैकबोन बनेगा लिंक एक्सप्रेसवे : योगी आदित्यनाथ
डीजेए चुनाव में थपलियाल अध्यक्ष एवं के पी मलिक महासचिव घोषित
डिफेंस एक्सपो को लेकर चल रही है युद्धस्तर पर तैयारी: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*
महाराष्ट्र के उलटफेर के पीछे जूनियर पवार की महत्वाकांछा या अज्ञात भय
भारत की संवैधानिक व्यवस्था और लोकतंत्र की मजबूती का प्रमाण है अयोध्या का फैसला: योगी आदित्यनाथ
 
CopyRight 2016 DanikUp.com