Breaking News
विजय रूपाणी ने की योगी से मुलाकात, UP के लोगों की सुरक्षा का दिलाया भरोसा  |   अडानी के चार्टर प्लेन में UP पहुंचे रूपाणी, राजनीतिक हलचल तेज  |   यूपी-गुजरात के एकता संवाद में बोले योगी-गुजरात देश के विकास का मॉडल  |   राफेल सौदे को लेकर केंद्र की राजग सरकार पर बरसे शत्रुघ्न सिन्हा  |   शाहजहांपुर में गिरी निर्माणाधीन बिल्डिंग को लेकर रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा, 3 की मौत  |  
 
 
दैनिक यूपी ब्यूरो
23/05/2018  :  00:59 HH:MM
IPL: फाइनल में पहुंचा चेन्नई, रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद को दी मात
Total View  105

डू प्लेसिस ने मात्र 42 गेंदों पर पांच चौके और चार छक्के उड़ाते हुए नाबाद 67 रन की मैच विजयी पारी खेली। हैदराबाद को सात विकेट पर 139 रन पर रोकने के बाद चेन्नई ने 19.1 ओवर में आठ विकेट पर 140 रन बनाकर मैच जीत लिया। डू प्लेसिस इस पारी के लिए मैन ऑफ द मैच रहे।

मुंबईः फाफ डू प्लेसिस की नाबाद 67 रन की कमाल की पारी से चेन्नई सुपरकिंग्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को पहले क्वालीफायर में मंगलवार को पांच गेंद शेष रहते दो विकेट से हराकर आईपीएल 11 के फाइनल में प्रवेश कर लिया। डू प्लेसिस ने विजयी छक्का मारा। डू प्लेसिस ने मात्र 42 गेंदों पर पांच चौके और चार छक्के उड़ाते हुए नाबाद 67 रन की मैच विजयी पारी खेली। हैदराबाद को सात विकेट पर 139 रन पर रोकने के बाद चेन्नई ने 19.1 ओवर में आठ विकेट पर 140 रन बनाकर मैच जीत लिया। डू प्लेसिस इस पारी के लिए मैन ऑफ मैच रहे।

 

डू प्लेसिस का अच्छा साथ दिया शार्दुल ठाकुर ने जिन्होंने 19वें ओवर में तीन चौके लगाने सहित पांच गेंदों में नाबाद 15 रन बनाये। दो बार चैंपियन रहे चेन्नई ने इस तरह सातवीं बार फाइनल में जगह बनाई। इस हार के बावजूद हैदराबाद के पास दूसरा मौका रहेगा। हैदराबाद की टीम अब कोलकाता और राजस्थान के बीच एलिमिनेटर के विजेता से दूसरे क्वालीफायर में खेलेगी। दूसरे क्वालीफायर की विजेता टीम 27 मई के फाइनल में चेन्नई से भिड़ेगी।

 

इससे पहले चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजों ने कार्लोस ब्रेथवेट के आखिरी ओवरों की आक्रामक बल्लेबाजी के बावजूद सनराइजर्स हैदराबाद को आईपीएल के पहले क्वालीफायर्स में आज यहां सात विकेट पर 139 रन ही बनाने दिये। पिच बल्लेबाजी के लिये आसान नहीं थी। गेंद रुककर बल्ले पर रही थी जिससे शाट लगाना आसान नहीं था। चेन्नई के गेंदबाजों ने सही लाइन और लेंग्थ से गेंदबाजी करके सनराइजर्स की मुश्किलें बढ़ायी। सनराइजर्स अगर सम्मानजनक स्कोर तक पहुंच पाया तो इसका श्रेय ब्रेथवेट को जाता है जिन्होंने चार छक्कों की मदद से 29 गेंदों पर नाबाद 43 रन बनाये। उनके अलावा कप्तान केन विलियमसन और यूसुफ पठान (दोनों 24 रन) ही 20 रन की संख्या पार कर पाये। चेन्नई की तरफ से ड्वेन ब्रावो ने 25 रन देकर दो विकेट लिये जबकि रविंद्र जडेजा (13 रन देकर एक) और लुंगी एनगिडी (20 रन देकर एक) ने किफायती गेंदबाजी की।         

 

ब्रावो ने चेन्नई के लिए सर्वाधिक विकेट

पहले बल्लेबाजी का न्यौता पाने वाले सनराइजर्स ने पहले पांच ओवरों में ही शिखर धवन और बेहतरीन फार्म में चल रहे कप्तान विलियमसन सहित तीन विकेट गंवा दिये। धवन पारी की पहली गेंद पर बोल्ड हो गये। दीपक चाहर की गुडलेंथ गेंद पर वह पुश करना चाहते थे लेकिन वह उनकी गिल्लियां बिखेर गयी। श्रीवत्स गोस्वामी (12) ने एनगिडी को वापस कैच थमाया। सनराइजर्स को करारा झटका ठाकुर ने दिया हालांकि इसमें विलियमसन (15 गेंदों पर 24) की गलती थी जिन्होंने लेग साइड की तरफ जा रही शार्ट पिच गेंद को फाइन लेग पर चार रन लेने के लिये भेजने के प्रयास में महेंद्र सिंह धोनी को कैच दिया। विलियमसन ने चाहर के पहले ओवर में लगातार तीन चौके जड़कर अपने तेवर दिखाये थे। शाकिब अल हसन (12) आउट होने वाले अगले बल्लेबाज थे जिन्होंने ड्वेन ब्रावो की लेग स्टंप से बाहर जाती गेंद पर धोनी को कैच दिया। इससे सातवें ओवर में स्कोर चार विकेट पर 50 रन हो गया। ब्रावो का यह चेन्नई की तरफ से 91वां विकेट था और वह रविचंद्रन अश्विन (90 विकेट) को पीछे छोड़कर इस आईपीएल टीम की तरफ से सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गये हैं।          

 

ठाकुर ने 4 ओवर में लुटाए 50 रन

पहले दस ओवर के बाद सनराइजर्स का स्कोर चार विकेट पर 64 रन था जो जल्द ही पांच विकेट पर 67 रन हो गया। बेहद सतर्कता बरत रहे मनीष पांडे (16 गेंदों पर आठ रन) ने रविंद्र जडेजा को वापस कैच थमाया। पांडे और पठान दोनों रन बनाने लिये जूझ रहे थे जिसके कारण पावरप्ले समाप्त होने के बाद अगले छह ओवर में केवल 20 रन बने। इस बीच गेंद सीमा रेखा तक भी नहीं पहुंची। पठान (29 गेंदों पर 24) ने डेथ ओवरों के लिये लंबे शाट खेलने की योजना बनाई थी लेकिन ब्रावो ने इससे पहले ही उनके करारे शाट को कैच में तब्दील कर दिया। पारी का पहला छक्का 18वें ओवर में लगा। ब्रेथवेट ने ठाकुर की पहली दो गेंदों को गगनदायी छक्कों के लिए भेजा। इनमें से पहले छक्के से टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचा। उन्होंने इस गेंदबाज के पारी के आखिरी ओवर में भी दो छक्के लगाये। ठाकुर ने अपने चार ओवर में 50 रन लुटाये।

 






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6266293
 
     
Related Links :-
Asia Cup: जडेजा ने चौथा विकेट झटका, बंगलादेश का स्कोर 128/7
खामोशी से टीम में जगह बनाने वाले सरदार ने उसी अंदाज में कहा हाॅकी को अलविदा
सिद्धू को पाकिस्तान नहीं जाना चाहिए था, क्रिकेट से अहम हमारे जवानः गंभीर
मलिंगा की धमाकेदार वापसी, 34 साल में कभी नहीं हुआ ऐसा कारनामा
तमिलनाडु के तीन स्क्वाश खिलाडिय़ों को राज्य देगी 30-30 लाख रूपए
चीन की दादागिरी में लगी सेंध, गोल्ड भी कम हुए मैडलों की संख्या भी
Asian Games: एथलीट जिनसन जॉनसन ने भारत के लिए जीता 12वां 'गोल्ड'
लाला अमरनाथ हैं भारत की ओर से पहला शतक लगाने वाले ऑल राउंडर
अब यो-यो टेस्ट के बाद आया नेक्सा टेस्ट, खिलाड़ी बाहर हुए तो कोहली होंगे जिम्मेदार
फ्रेंच ओपन : जोकोविच जीते, वोजनियाकी पहुंची प्री क्वार्टर फाइनल में
 
CopyRight 2016 DanikUp.com